Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मोती थारवानी को पकड़ने स्पेशल टीम गठित, आरक्षक से की थी गाली-गलौज और धक्का-मुक्की

मोती थरवानी का ट्रैफिक जवान से बदसलूकी का वीडियो वायरल हुआ था, जवान ने कांग्रेस नेता मोती थारवानी को ट्रैफिक नियम तोड़ने पर टोका तो वो उसके साथ बदसलूकी करने लगा और धमकाने लगा। पढ़िए पूरी खबर-

मोती थारवानी को पकड़ने स्पेशल टीम गठित, आरक्षक से की थी गाली-गलौज और धक्का-मुक्की
X

बिलासपुर। छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में ऑन ड्यूटी पुलिस सिपाही से बदसलूकी मामले में ब्लॉक अध्यक्ष की गिरफ्तारी के लिए पुलिस सक्रिय हो गई है। पुलिस ने फरार आरोपी मोती थरवानी को पकड़ने के लिए स्पेशल टीम गठित कर ली है। मोती थरवानी का ट्रैफिक जवान से बदसलूकी का वीडियो वायरल हुआ था, वीडियो में दिखाई दे रहा है कि जवान ने कांग्रेस नेता मोती थारवानी को ट्रैफिक नियम तोड़ने पर टोका तो वो उसके साथ बदसलूकी करने लगा और धमकाने लगा।

घटना बिलासपुर के लिंक रोड श्रीकांत वर्मा मोड़ के पास की है, जहां कांग्रेस नेता मोती थारवानी गलत साइड से पत्नी को बैठा कर ला रहे थे, जिसके बाद ट्रैफिक पुलिस जवान ने थारवानी को सही साइड पर चलने को कहा। जिसके बाद नेता ने अपनी ऊपर तक पहचान होने की धौंस दिखाकर जवान को धमकियां देनी शुरू कर दी। इतना ही नहीं उसने जवान का मोबाइल छीन लिया और उसका नाम पूछने लगा और गंदी गालियां देने लगा।

जानकारी के मुताबिक हेमूनगर में ओवरब्रिज के नीचे रहने वाले मोती थावरानी कांग्रेस में रेलवे क्षेत्र के ब्लॉक क्रमांक-6 के अध्यक्ष हैं। पुलिस ने ड्यूटी कर रहे ट्रैफिक पुलिस रामकुमार रजक से गाली-गलौज और धक्का-मुक्की करने पर उनके खिलाफ जुर्म दर्ज किया है। साथ ही उन पर सरकारी काम में बाधा डालने और राजकुमार रजक को जान से मारने की धमकी देने के तहत कार्रवाई भी की गई है। बताया जा रहा है घटना के बाद से ही मोती थावरानी फरार चल रहे हैं।

Next Story