Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मिलिशिया कमांडर IED एक्सपर्ट खूंखार नक्सली भीमा की मौत की अधिकारिक पुष्टि- शव के साथ लौटे जवान

DRG और कोबरा बटालियन के जवान ताड़मेटला में नक्सल ऑपरेशन पर थे। जंगलों में नक्सली घात लगा कर बैठे थे। सर्चिंग कर जवान शाम को लौट रहे थे उसी समय माओवादियों ने जवानों पर अंधाधुंध फायरिंग करनी शुरू कर दी। जवानों ने भी मोर्चा संभाला और माओवादियों को मुंहतोड़ जवाब दिया। इस मुठभेड़ में जवानों ने खूंखार नक्सली को ढेर कर दिया पढ़िए जवानों की सफलता की ये ख़बर...

मिलिशिया कमांडर IED एक्सपर्ट खूंखार नक्सली भीमा की मौत की अधिकारिक पुष्टि- शव के साथ लौटे जवान
X

सुकमा: जिले में शुक्रवार की शाम मुठभेड़ में मारा गया नक्सली माड़वी भीमा नक्सलियों का मिलिशिया कमांडर था। साथ ही यह IED एक्सपर्ट भी था। भीमा के ऊपर 5 लाख रुपए का इनाम घोषित था। भीमा लगभग 11 बड़ी घटनाओं में शामिल रहा है। सबसे ज्यादा चिंतागुफा इलाके में इसने जमकर तांडव मचाया है। यह मिनपा मुठभेड़ में भी शामिल था, जिसमें 17 जवान शहीद हुए। साथ ही भालेराव में IED ब्लास्ट की घटना में भी शामिल था। इस घटना में 1 जवान शहीद हुए हुआ था। भीमा 18 जवानों की शहादत का जिम्मेदार है।

SP सुनील शर्मा ने बताया कि भीमा को ढेर करने के बाद इलाका अब थोड़ा शांत होगा। दरअसल DRG और कोबरा 201 बटालियन के जवान चिंतलनार थाना क्षेत्र के ताड़मेटला इलाके में नक्सल ऑपरेशन पर निकले हुए थे। इन्हीं जंगलों में नक्सली पहले से ही घात लगा कर बैठे हुए थे। जब सर्चिंग कर जवान शाम 7:30 बजे लौट रहे थे तो उस समय माओवादियों ने जवानों पर अंधाधुंध फायरिंग करनी शुरू कर दी। इधर, जवानों ने भी मोर्चा संभाला और माओवादियों को मुंहतोड़ जवाब दिया। लगभग आधे घंटे तक चली इस मुठभेड़ में जवानों ने खूंखार नक्सली को ढेर कर दिया। ढेर हुए माओवादी का शव लेकर शनिवार को जवान जिला मुख्यालय लौट आए हैं। ऑपरेशन को सफल बना कर जवानों ने घटना स्थल से हथियार, विस्फोटक समेत भारी मात्रा में सामान भी बरामद किया है। घटना स्थल से जवानों ने एक भरमार बंदूक समेत 5 किलो की IED, 20 नग इलेक्ट्रॉनिक डेटोनेटर, 2 नग बीजीएल सेल, इलेक्ट्रॉनिक वायर, 2 नग इलेक्ट्रिक वायर, जिलेटिन रॉड, कॉर्डेक्स वायर समेत अन्य सामग्री भी बरामद की है।




Next Story