Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

भड़के किसान पहुंचे कुसमुंडा खदान: सुबह तक चलता रहा हंगामा, GM ऑफिस घेराव करने पहुंची महिलाएं

मंगलवार की देर रात किसान बड़ी संख्या में अपने परिवारों के साथ कुसमुंडा खदान पहुंचकर काम बंद करने की मांग करने लगे। हंगामे के चलते करीब 6 घंटे तक खदान में काम बंद रहा और हंगामा सुबह तक चलता रहा। क्या है पूरा मामला पढ़िये विस्तार से-

भड़के किसान पहुंचे कुसमुंडा खदान: सुबह तक चलता रहा हंगामा, GM ऑफिस घेराव करने पहुंची महिलाएं
X

कोरबा। छत्तीसगढ़ के कोरबा जिले में भड़के किसानों का गुस्सा देर रात सामने आया। मंगलवार को किसान बड़ी संख्या में अपने परिवारों के साथ कुसमुंडा खदान पहुंच गए और काम बंद करा दिया। करीब 6 घंटे काम बंद रहा और हंगामा सुबह तक चलता रहा। हंगामा की सूचना पर पुलिस पहुंची तो दोनों पक्षों के बीच झड़प शुरू हो गई। इस दौरान कई ग्रामीण बेहोश होकर जमीन पर गिर पड़े। पुलिस ने 60 से ज्यादा ग्रामीणों को गिरफ्तार कर लिया है।

मिली जानकारी के अनुसार, पिछले एक माह से 12 गांव के भू-विस्थापित SECL के GM ऑफिस के बाहर हड़ताल पर बैठे हैं। यह सभी रोजगार सहित अन्य मांगों को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं। बताया जा रहा है कि रात करीब 2 बजे सैकड़ों की संख्या में ग्रामीण भू-विस्थापित रोजगार एकता समिति ने माकपा और छग किसान सभा के बैनर तले कुसमुंडा खदान पहुंच गए। वहां काम बंद करा दिया। सुबह करीब 8 बजे तक हंगामा चलता रहा। इसके कारण उत्खनन और अन्य काम रुक गए। सूचना मिलने पर पुलिस फोर्स मौके पर पहुंच गई। इसके बाद ग्रामीणों को वहां से हटाने का प्रयास शुरू किया गया। जिसके चलते दोनों पक्षों में झड़प हो गई। इस दौरान कुछ ग्रामीण बेहोश होकर गिर पड़े। अन्य लोगों को पुलिसकर्मी उठाकर ले गए। उन्हें बस में बिठाकर ले जाया गया है। सभी को गिरफ्तार करने की बात कही जा रही है। इसके बाद भी अभी तक हंगामे की स्थिति बनी हुई है। मौके पर SECL के अफसर और प्रशासन की टीम भी पहुंच गई है।

GM ऑफिस घेरने निकली महिलाएं

वहीं बच्चों को लेकर पहुंची महिलाओं और बाकी बचे ग्रामीण SECL के GM ऑफिस का घेराव करने के लिए निकल पड़े। बताया जा रहा है कि जीएम ऑफिस में अभी अफसरों और ग्रामीणों के बीच वार्ता चल रही है। वहीं पुलिस ने जिन लोगों को गिरफ्तार किया है, उनमें महिलाएं भी शामिल हैं। हालांकि अभी यह पता नहीं चल सका है कि उन्हें गिरफ्तार करने के बाद कहां ले जाया गया है। बताया जा रहा है कि श्रमिक नेता भी गिरफ्तार हुए हैं।

Next Story