Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पुलिस वालों ने PUBG खेल रहे 2 युवकों को पीट-पीटकर किया अधमरा, धमकी देते हुए मांगी रिश्वत

बिहार के बेगूसराय जिले से मानवता को शर्मसार कर देने का मामला सामने आया है। यहां बिहार पुलिस के जवानों ने दो युवकों को PUBG खेलते हुए पकड़ लिया। फिर पुलिस वाले उन्हें पकड़कर ले गए और उन्हें पीट-पीटकर अधमरा कर दिया।

पुलिस वालों ने PUBG खेल रहे 2 युवकों को पीट-पीटकर किया अधमरा, धमकी देते हुए मांगी रिश्वत
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

बिहार (Bihar) के बेगूसराय (Begusarai) से बिहार पुलिस (Bihar Police) का अमानवीय चेहरा सामने आया है। जिले के रतनपुर ओपी थाना क्षेत्र में टाइगर मोबाइल जवानों ने दो युवकों को पब्जी (PUBG) खेलते हुए पकड़ लिया। जिसके बाद रतनपुर ओपी के टाइगर मोबाइल जवानों ने पब्जी खेल रहे दोनों लड़कों को अपनी बाइक पर बैठा लिया। वहां से पुलिस वाले दोनों युवको को डुमरी ले गए। जहां उन्होंने दोनों युवकों की जमकर पिटाई की। इस दौरान नौरंगा पटेल चौक के रहने वाले दिलीप पासवान का 18 साल का बेटा करण कुमार गंभीर रूप से घायल होकर बेहोश गया। बेहोश करण कुमार का बेगूसराय के सदर अस्पताल में ईलाज चल रहा है।

करण कुमार के साथ घायल हुए युवक ने बताया कि शनिवार को रतनपुर कालीनगर के पास कॉलोनी में 4 लड़के मोबाइल पर पब्जी खेल रहे थे। इस दौरान वहां पर दो बाइक पर सवार 4 टाइगर मोबाइल का जवान अचानक पहुंच गए। जो किसी आरोपी का पीछे करते हुए वहां तक पहुंचे। लेकिन बदमाश तो उनकी पकड़ में नहीं आया बदमाश वहां से भाग निकला। वहीं चार युवक अपने पब्जी गेम में पूरी तरह से व्यस्त थे। टाइगर मोबाइल पुलिस के जवानों ने पहले तो पब्जी खेल रहे युवकों के साथ गाली-गलौज की। साथ इन लड़कों पर पुलिस वालों ने आरोप लगाया कि तुम शराब का धंधा करते हो। शराब भी पीते हो।

पुलिस वालों ने चार लड़कों में से दो की मौके पर ही पिटाई लगाई। उस जगह से पुलिस वाले दो रौशन और करण कुमार नाम के शख्स को उठा कर ले गए। लेकिन पुलिस वाले लड़कों को थाने नहीं ले गए। इस लड़कों ने पूछा कि हमें कहां ले जा रहे हो। इस पर टाइगर मोबाइल जवानों ने कहा कि तुम दोनों विशेष हो, इसलिए तुम्हें विशेष थाने ले जा रहे हैं। उसके बाद टाइगर मोबाइल जवानों ने डुमरी ले जाकर दोनों युवकों की जमकर पिटाई लगाई।

पीड़ित करण कुमार का आरोप है कि पुलिस वालों ने उनको बिना बात के बेरहमी से पीटा है। साथ ही उन्होंने कहा कि पुलिस वालों ने कहा कि अपने परिजनों से पैसा पहुंचाने के लिए कहें। नहीं तो और भी मारपीट की जाएगी। मौका मिलने पर गोली भी मार देंगे। इसके बाद दोनों को पुलिस वाले मौके पर छोड़कर फरार हो गए। फिर उन्होंने घटना की जानकारी मोबाइल के जरिए परिजनों को दी। वहां से परिजन उन्हें उठाकर घर ले आए। घर पर करण नाम का लड़का बेहोश हो गया। जिसके बाद करण को इलाज के लिए सदर अस्पताल में पहुंचाया गया। करण की पीट पर पुलिस वालों की पिटाई के निशान देखकर हर कोई सहम रहा है।

मुख्यालय डीएसपी निशीत प्रिया ने कहा कि दो युवक के साथ मारपीट की घटना की सूचना मिली है। पूरे मामले की जांच-पड़ताल की जा रही है। जो भी दोषी होगा, उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी।

Next Story