Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जब तीन साल बाद पत्नी और बच्चों से मिले बिहार के बाहुबली शहाबुद्दीन, बात करते हुए हो गए भावुक

दिल्ली की तिहाड़ जेल में बंद बाहुबली पूर्व सांसद एवं राजद नेता शहाबुद्दीन ने तीन वर्ष बाद अपने परिजनों से मुलाकात की। इस दौरान परिजनों से बात करते-करते वो भावुक भी हो गये।

bahubali shahabuddin became emotional after three years with his relatives in delhi
X

बाहुबली शहाबुद्दीन

बाहुबली पूर्व सांसद एवं राजद नेता शहाबुद्दीन दिल्ली की तिहाड़ जेल में अपनी सजा काट रहे हैं। जहां शहाबुद्दीन को करीब तीन वर्ष बाद सोमवार को अपने परिजनों से मिलने का अवसर मिला। बताया जा रहा है कि अपने परिजनों से बात करते-करते इस दौरान शहाबुद्दीन भावुक हो गये थे।

बाहुबली पूर्व सांसद शहाबुद्दीन द्वारा बताई गई जगह पर ही दिल्ली हाईकोर्ट के आदेश पर मुलाकात करवाई गई। नई दिल्ली में गीता कॉलोनी स्थित ताज इन्क्लेव के एक फ्लैट में यह मुलाकात हुई। मुलाकात स्थल वाला फ्लैट शहाबुद्दीन के सीवान के रहने वाले किसी करीबी शख्स का बताया जा रहा है। शहाबुद्दीन से मिलने वालों में उनकी पत्नी हेना शहाब, उनकी मां, बेटा मोहम्मद ओसामा और दोनों बेटियां शामिल रहीं। इस दौरान वहां सुरक्षा व्यवस्था कड़ी रखी गई।

दिल्ली हाईकोर्ट द्वारा 3 दिसंबर को शहाबुद्दीन को दिल्ली में ही किसी जगह पर अपने परिवार से मिलने के लिए कस्टडी पैरोल मंजूर की गई थी। वहीं दिल्ली हाईकोर्ट ने शहाबुद्दीन को हिदायत दी थी। जस्टिस अनूप जे. भंभानी द्वारा हत्या के मामले में सजा काट रहे शहाबुद्दीन को तीन दिन की कस्टडी पैरोल देने का निर्देश दिया था। तीन दिन के भीतर शहाबुद्दीन को दिल्ली में अपनी पसंद की जगह बताने का निर्देश दिया गया था। शहाबुद्दीन के पिता का 19 सितंबर को निधन हो गया व शहाबुद्दीन अपनी बीमार मां के साथ समय बिताना के लिए पैरोल मांगा था।

कोर्ट से जब शहाबुद्दीन ने पैरोल मांगी थी तो इस दौरान दिल्ली और बिहार पुलिस ने शहाबुद्दीन को सीवान ले जाने पर सुरक्षा मुहैया कराने में असमर्थता जाहिर की थी। पुलिस द्वारा हाथ खड़े करने पर कोर्ट ने बीच का रास्ता निकाला। याद रहे राजद नेता शहाबुद्दीन हत्या के मामले में उम्रकैद की सजा काट रहे हैं। इनको साल 2018 में सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर बिहार से दिल्ली तिहाड़ जेल भेजा गया था।

Next Story