Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

असदुद्दीन ओवैसी जबरदस्ती बनते हैं मुस्लिमों का रहनुमा : राजीव रंजन प्रसाद

बिहार विधानसभा चुनाव 2020: जदयू प्रवक्ता राजीव रंजन प्रसाद ने कहा कि असदुद्दीन ओवैसी व उनकी पार्टी एआईएमआईएम जबरदस्ती मुस्लिमों का रहनुमा बनने का प्रयास करती है। जबकि हर बार उन्हें नकार ही दिया जाता है।

Rajiv Ranjan Prasad said that Asaduddin Owaisi becomes a force of Muslims
X
असदुद्दीन ओवैसी

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 की सुगबुगाहट के बीच सत्ताधारी पार्टी जदयू विरोधियों पर लगातार हमले बोल रही है। इसी को लेकर जदयू प्रवक्ता राजीव रंजन प्रसाद ने ट्वीट कर मुस्लिमों का रहनुमा बनने वाली सियासी पार्टियों पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि असदुद्दीन ओवैसी और उनकी पार्टी ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन 'एआईएमआईएम' जबरदस्ती मुस्लिमों का रहनुमा बनने का प्रयास करती है।

उन्होंने कहा, जबकि हर बार असदुद्दीन ओवैसी और उनकी पार्टी को नकार ही दिया जाता है। जदयू प्रवक्ता राजीव रंजन ने कहा कि असदुद्दीन ओवैसी अपने बयानों से मुसलमानों को मुख्यधारा से काटने की कोशिश करते हैं। इसके अलावा जदयू प्रवक्ता राजीव रंजन प्रसाद ने कहा कि इस देश में मुस्लिम लीग, इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग स्थापना और ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन 'एआईएमआईएम' जैसी पार्टियों को कभी भी मुसलमानों ने अपना रहनुमा नहीं माना है। वहीं उन्होंने कहा कि गुनाहगार हिन्दू, मुस्लिम, सिख या ईसाई कोई भी हो उसे जेल की सलाखों के पीछे जाना ही पड़ेगा।

ओवैसी ने जेल में बंद मुस्लिमों की संख्या को लेकर दिया था विवादित बयान

याद रहे एआईएमआईएम के प्रमुख व हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने बीते दिन जेल में बंद मुस्लिमों की संख्या को लेकर विवादित बयान दिया था। ओवैसी ने कहा था कि मुस्लिम पुरुषों को पहले से ही बड़ी संख्या में जेल में बंदी बनाकर रखा गया था। वहीं उन्होंने कहा था कि अब ऐसे बंदियों की संख्या और भी बढ़ गई है। ओवैसी ने कहा था कि कानून की नजर में जेल बंद ये लोग निर्दोष हैं पर वे अभी भी वर्षों तक जेल का सामना करते हैं। ये प्रणालीगत अन्याय का सबूत है, जिसका हम सामना कर रहे हैं।




Next Story