Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हिमाचल में शहरी निकाय चुनाव की तैयारियां जोरों पर, इस बार वोट डालते समय दिखेगा उम्मीदवार का फोटो

हिमाचल प्रदेश में 10 जनवरी को होने वाले शहरी निकाय चुनाव की तैयारियां जोरों पर हैं। आपको बता दें की यह चुनाव ईवीएम से होना है। इस बार उम्मीदवार का फोटो देखकर लोग मतदान कर सकेंगे।

हिमाचल में शहरी निकाय चुनाव की तैयारियां जोरों पर, इस बार वोट डालते समय दिखेगा उम्मीदवार का फोटो
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

हिमाचल प्रदेश में 10 जनवरी को होने वाले शहरी निकाय चुनाव की तैयारियां जोरों पर हैं। आपको बता दें की यह चुनाव ईवीएम से होना है। इस बार उम्मीदवार का फोटो देखकर लोग मतदान कर सकेंगे। पिछले चुनाव में केवल चुनाव चिन्ह था, मगर इस चुनाव में राज्य का चुनाव आयोग उम्मीदवार की फोटो के साथ उसका चुनाव चिन्ह भी इस पर दर्शाया जा रहा है। इससे मतदाताओं को काफी आसानी होगी, क्योंकि वह फोटो देखकर पहचान कर सकेंगे और मतदान कर सकेंगे।

बैलेट पेपर की छपाई का काम हिमाचल सरकार की प्रिंटिंग प्रेस में चल रहा है और तेजी के साथ यह काम हो रहा है। जानकारी के अनुसार चार जनवरी तक सभी कमेटियों में ईवीएम के लिए बैलेट पेपर पहुंच जाएगा, जिसमें उन प्रत्याशियों के फोटो व चुनाव चिन्ह दर्ज होंगे, जो चुनाव मैदान में है।

बता दें कि इस समय 1154 कुल प्रत्याशी चुनाव मैदान में डटे हुए हैं। नाम वापसी के बाद इतने लोग मैदान में हैं, जिनके बीच में मुकाबला होगा। ईवीएम की बात करें तो 500 ईवीएम इस चुनाव में इस्तेमाल की जाएंगी। इसके साथ हर वार्ड में एक ईवीएम रिजर्व में रखी जाएगी, ताकि यदि किसी मशीन में खराबी आ जाए तो दूसरी मशीन का इस्तेमाल वहां पर कर लिया जाए।

कुल एक हजार ईवीएम मशीनों का प्रबंध राज्य चुनाव आयोग ने किया है, जिसे जिला मुख्यालयों को भेज दिया गया है। ईवीएम पर मतदान किस तरह से होगा, इसके लिए कर्मचारियों को प्रशिक्षण का दौर भी अगले सप्ताह से शुरू कर दिया जाएगा। कुल 462 प्रत्याशियों का चयन नगर निकाय के इस चुनाव में किया जाना है। अभी नगर निगम व नई बनी नगर पंचायतों में चुनाव नहीं होना है। नगर निगम में मार्च या अप्रैल महीने में चुनाव होगा और तभी नई बनी नगर पंचायतों में भी चुनाव करवाया जाएगा।

वहीं प्रदेश में छह नई नगर पंचायतें बनाई गई हैं, वहीं तीन नए नगर निगम बने हैं। इनके साथ धर्मशाला नगर निगम का चुनाव भी होगा। कुल मिलाकर शहरी निकाय के चुनाव के लिए तैयारियां जोरों पर हैं और राज्य का चुनाव आयोग अवकाश के दिन भी इस प्रक्रिया में जुटा हुआ है। हाल ही में चुनाव आयोग की टीम ने हरियाणा में चुनावी प्रक्रिया को देखा है। उसके बाद यह फैसला लिया गया है।

Next Story