Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

बालों के टैक्सचर के हिसाब से चुनें कंडीशनर

कंडीशनर का इस्तेमाल करने से पहले इस बात का ध्यान रखें।

बालों के टैक्सचर के हिसाब से चुनें कंडीशनर

बालों की खूबसूरती के लिए कंडीशनर का इस्तेमाल तो सभी करते हैं लेकिन वे नहीं जानते कि कंडीशनर का चुनाव बालों के टैक्स्चर के अनुसार करना चाहिए।

आइए जानें कि बालों के टैक्सचर के हिसाब से कौन सा कंडीशनर चुनें।

ध्यान रखने योग्य बातें

•अगर आप बालों को कलर करती हैं तो ऐसा कंडीशनर चुनें जिससे बालों के रंग पर कोई प्रभाव ना पड़े।

•कंडीशनर का इस्तेमाल करने से पहले इस बात का ध्यान रहे कि आपके बालों में से शैम्पू अच्छे से निकल जाए।

•बालों की लंबाई के हिसाब से ही कंडीशनर का इस्तेमाल करें, इसका मतलब कि जितना आपके बालों में कंडीशनर लगे, उतना ही लगाएं.

•कंडीशनर लगाने की शुरुआत नीचे से ऊपर की तरफ करें क्योंकि बालों के नीचे का भाग अधिक रूखे और बेजान होते हैं।

• कंडीशनर को कभी भी बालों की जड़ों में नहीं लगायें क्योंकि कंडीशनर का काम बालों की जड़ों को मजबूत करना नहीं होता, इसका काम होता हैं बालों में चमक और बाउंस लाना होता है।

•कंडीशनर बालों में लगाने से पहले अपनी हथेली में लेकर अच्छे से मसाज कर अपने बालों में लगाएं। कंडीशनर को बालों में पांच मिनट से अधिक न रखें।

• ऐसा करने से बालों की जड़े ऑयली हो जाती हैं जिससे बाल जल्दी गंदे होते हैं।

•कंडीशनर लगाने के बाद बालों को अच्छे से पानी से धो लें। बालों को तब तक धोना चाहिए जब तक बालों में लगा हुआ कंडीशनर अच्छे से निकल ना जाए।

•बालों को हमेशा ठंडे पानी से धोएं। बालों को सुखाने के लिए ड्राइयर का इस्तेमाल ना करें, बालों को प्राकृतिक रूप से सूखने दें।

•जब आपके बाल अच्छे से सुख जाए तो लिव इन कंडीशनर या फिर सीरम का इस्तेमाल करें। इससे बालों में चमक और नमी बनी रहेगी।

डीप कंडीशनर और लीव-इन कंडीशनर

डीप कंडीशनर भी बालों को ड्राई और खराब होने से बचाता है। लीव-इन कंडीशनर क्रीम और स्प्रे रूप में मिलता है।

क्रीम कंडीशनर लम्बे, घने, और कर्ली बालों के लिए होता है क्यूंकि इनमें ज्यादा वजन होता है जबकि स्प्रे कंडीशनर पतले, छोटे, और सीधे बालों के लिए होता है।

सामान्य बाल वालों को विटामिन ए, सी और ई युक्त कंडीशनर का इस्तेमाल करना चाहिए।

घुंघराले बालों वालों को मौइश्चराइजिंग कंडीशनर लगाना चाहिए जिसमें प्रोटीन हो। ऐसे कंडीशनर बालों को शाइनिंग के साथ साथ पोषण भी देते हैं।

इस के अतिरिक्त ऐसे बालों में शीया बटर, ऑलिव ऑयल और ग्लिसरीन युक्त कंडीशनर भी फायदेमंद साबित होते हैं।

ये बालों में हाईड्रेशन और इलास्टिसिटी को भी बनाए रखते हैं।

यदि बाल मोटे टैक्स्चर वाले हैं तो ऐसा कंडीशनर चुनें जिसमें में ऐवोकाडो आयल और सोया मिल्क जैसे इनग्रीडिएंट्स शामिल हों।

ये इनग्रीडिएंट्स बालों को सिल्की बनाने के साथ साथ उन्हें वॉल्यूम देगा और स्मूद भी करेगा।

अगर आपके बाल रूखे हैं तो इसके लिए आपको क्रीमी कंडीशनर का इस्तेमाल करना चाहिए।

Next Story
Share it
Top