Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अपने वर्किंग एटीट्यूड और पॉजीशन के बारे में है जानना, तो अपनाएं ये टिप्स

आपने देखा होगा कि ऑफिस में कोई एक शख्स, टीम मेंबर से लेकर बॉस की नजर तक में खास होता है, वहीं दूसरे को कोई इंपॉर्टेंस नहीं मिलती है। ऐसा दोनों के वर्किंग एटीट्यूड की वजह से होता है। आपकी अपने ऑफिस में क्या पोजिशन है और आपका वर्किंग एटीट्यूड कैसा है? यह जानने के लिए क्विज में हिस्सा लें और अपना आकलन कीजिए।

अपने वर्किंग एटीट्यूड और पॉजीशन के बारे में है जानना, तो अपनाएं ये टिप्स
X

करियर में सक्सेस सिर्फ नॉलेज या हार्ड वर्क से ही नहीं मिलती, इसमें एक और बात की भी भूमिका होती है, जिसे एटीट्यूड कहते हैं। अगर दूसरे लोगों की नजर में आप सहयोगी और सकारात्मक व्यक्ति हैं तो आपकी तमाम कमियां भी छिप जाएंगी और आप सफलता हासिल करेंगी। इसीलिए हर ऑफिस में वर्किंग एटीट्यूड को जरूरी एसेट के रूप में देखा जाता है। आपका अपने ऑफिस में वर्किंग एटीट्यूड कैसा है? यह जानने के लिए नीचे दिए क्विज में हिस्सा लीजिए और खुद को परखिए।

1. ऑफिस में जैसे ही कोई नया प्रोजेक्ट आता है तो आप-

क. बॉस से उस पर काम करने की चर्चा करती हैं।
ख. ऑफिस से रफूचक्कर हो जाती हैं।
ग. अगर बॉस खुद बुलाते हैं तभी काम करती हैं।

2. काम में अड़चन होने से आप-

क. पजल्ड हो जाती हैं कि क्या करना चाहिए।
ख. काम जल्द से जल्द निपटा देना चाहती हैं।
ग. कुछ देर काम से खुद को अलग कर लेती हैं।

3. आपको ऐसे ग्रुप में शामिल किया जाए, जहां आपके कॉम्पिटिटर्स की संख्या बहुत ज्यादा है तो आप-

क. सोचेंगी कि चुनौती है तो कबूलनी ही पड़ेगी।
ख. खुशी से फूली नहीं समाएंगी।
ग. तनावग्रस्त हो जाएंगी।

4. किसी वर्क प्रजेंटेशन के समय आप खुद से कहती हैं-

क. मैं करूंगी।
ख. शायद मैं कर सकती हूं।
ग. सॉरी मैं असमर्थ हूं।

5. कोई आपकी हौसला अफजाई करता है तो आप-

क. उसकी बातें सुन लेती हैं लेकिन अकेले रहना ज्यादा पसंद करती हैं।
ख. उससे प्रेरित होती हैं।
ग. आदर्शवादी बातें नापसंद करती हैं।

अंक तालिका

क्रम
1. 5 0 2
2. 0 2 5
3. 2 5 0
4. 5 2 0
5. 0 5 2

निष्कर्ष

क. 0 से 9 - आप तनाव से इतनी घिरी हैं कि सरल कामों को भी आपने बहुत मुश्किल बना दिया है। दरअसल, यह आपकी आदत है कि बड़े काम देखकर अपना आपा खो देती हैं यानी आपमें आत्मविश्वास की कमी है। ऐसे में भला ऑफिस में आपका एटीट्यूड पॉजिटिव कैसे हो सकता है? इसे बदलने की जरूरत है।
ख. 10 से 19 - आप काम को देखकर तनाव में नहीं आती हैं, उसे समझने में पूरा समय लेती हैं। असल में यह आपके सकारात्मक लक्षण की ओर इशारा करते हैं। लेकिन कभी-कभी ऑफिस के काम के तनाव से आप भी बच नहीं पाती हैं।
ग. 20 से 25 - आप तो आउटस्टैंडिंग हैं। आप काम को सिर्फ काम नहीं समझती हैं बल्कि काम करना आपका पैशन है। इस वजह से आपको कभी भी ऑफिस में तनाव नहीं होता है। कहने का मतलब है कि ऑफिस में आपका एटीट्यूड बहुत पॉजिटिव है

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story