Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सावधान! आंखों की इन परेशानियों को ना करें नजरअंदाज, हो सकते हैं खतरनाक बीमारियों के शिकार

अगर आपकी आंखों में लंबे समय से किसी भी तरह की परेशानी है तो यह किसी गंभीर बीमारी का संकेत हो सकती है, सावधानी के लिए डॉक्टर से जरूर मिलें।

सावधान! आंखों की इन परेशानियों को ना करें नजरअंदाज, हो सकते हैं खतरनाक बीमारियों के शिकार
X

ऐसा कहा जाता है कि आंखें इंसान के व्यक्तित्व का दर्पण होती है, इंसान मुंह से झूठ बोल सकता है लेकिन आंखें हमेशा सच ही बताती हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं, आंखें (Eyes) कई खतरनाक बीमारियों (Dangerous Disease) के संकेत भी देती हैं। जिन्हें हमे नजरअंदाज बिलकुल नहीं करना चाहिए, अगर आपकी आंखों में किसी तरह की परेशानी होती है, कम या धुंधला दिखाई देता है, आंखों में लाल लकीरे दिखाई देती हैं तो आपको बिना देर किए अपनी आंखों का इलाज कराना चाहिए। वहीं अगर आपकी आंखों में लंबे समय से किसी भी तरह की परेशानी है तो यह किसी गंभीर बीमारी का संकेत हो सकती है। तो आइए जानते हैं आखिर किस तरह आंखें गंभीर बीमारियों का संकेत देती हैं और ऐसे कौन से लक्षण हैं जिनके नजर आने पर आपको डॉक्टर से मिलने की जरूरत है।

आंखों में सफेद धब्बे नजर आना

अगर किसी भी व्यक्ति के कॉर्निया (Cornea) में सफेद धब्बे (White Spots) दिखाई देते हैं तो यह लक्षण गंभीर परेशानी का सबब बन सकता है। इस लक्षण को आप एक चेतावनी की तरह लें और डॉक्टर से मिलें, कॉर्निया पर सफेद धब्बे की बीमारी को कॉर्नियल संक्रमण के नाम से जाना जाता है। इससे धीरे-धीरे आंखों की रौशनी पर असर पड़ता है।

आंखों का बार-बार फड़कना

किसी भी तरह के मादक पदार्थ शराब (Alcohol) , सिगरेट (Cigarettes) और निकोटिन (Nicotine) आदि का लिमिट से ज्यादा सेवन करने से लोगों की आंख फड़कने (Frequent Blinking) लगती है। यह आम सी बात है लेकिन अगर आप इन चीजों का सेवन नहीं करते हैं फिर भी आपकी आंख फड़कती है तो सावधान हो जाइए। यह बर्नआउट के शुरूआती लक्षण हैं, बता दें कि बर्नआउट (Burnout) शारीरिक थकावट को कहा जाता है। अगर आपकी आंख लगातार फड़फड़ाती है तो आपको अपना वर्कलोड कम करने की जरूरत है।

आंखों का फूलकर लाल हो जाना

अगर आप अपने स्लीपिंग साइकिल (Sleeping Cycle) के मुताबिक काम नहीं करते हैं यानी अगर आपको पूरे 7-8 घंटों की नींद नहीं मिल पाती है तो आपकी आंख फूलकर लाल (Eyes become red with swelling) हो जाती है। इस तरह के लक्षण दिखने पर आपको आराम करने और एक सुकून भरी नींद लेने की बहुत ज्यादा जरूरत है।

आंखों से धुंधला दिखना

सबसे अहम बात यह है कि धुंधली दृष्टि सिर्फ कम दिखने तक सिमित नहीं है, डायबिटीज (Diabetes) और मोतियाबिंद (Cataract) भी धुंधली दृष्टि का कारण हो सकते हैं। हाई शुगर लेवल के कारण रेटिना (Retina) की ब्लड वेसिल्स (Blood Vessels) में सूजन आ जाती है। इसी सूजन के कारण वेसिल्स से खून या फिर लिक्विड निकलने लगता है, जो धुंधला या कम दिखने के लिए जिम्मेदार हो सकता है। बताते चलें कि यह धुंधलापन दोनों आंखों में भी हो सकता है। वहीं अगर बात करें मोतियाबिंद की तो यह आंखों में रौशनी जाने से रोकता है जिससे व्यक्ति को धुंधला दिखने लगता है।

और पढ़ें
Next Story