Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

आज विश्व बुजुर्ग दिवस है, अपने घर के बुजुर्गो को दीजिए वक्त

अपने घर के बुजुर्गो का रखे ख्याल

आज विश्व बुजुर्ग दिवस है, अपने घर के बुजुर्गो को दीजिए वक्त
X

नई दिल्र्ली. भारत में वृद्धावस्था में होने वाली समस्याओं में आंखों की बीमारियों के बाद दूसरी सबसे बड़ी समस्या जोड़ों में अकड़न और दर्द की है। डॉक्टर रमणीक महाजन के अनुसार हड्डियों की सेहत के लिए हुए नए प्रयोग न सिर्फ लंबी उम्र तक जीवित रहने का अवसर मुहैया कराते हैं बल्कि एक आत्मनिर्भर, .दर्दरहित और सक्षम वृद्धावस्था का सुख भी देते हैं। डॉ महाजन ने बताया कि घुटना प्रत्यारोपण की दिशा में हुई प्रगति के कारण मरीज के लिए उपयुक्त इम्प्लांट तैयार करना आसान हो गया है। डॉ रमणीक के मुताबिक साल 2050 तक भारत बढ़ती उम्र वाली आबादी के देशों में शुमार हो जाएगा, जब यहां की 7.7 परसेंट आबादी 60 साल से ऊपर की आयु वाली होगी। विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक वर्तमान समय में साठ साल से अधिक उम्र की आबादी की संख्या 600 मिलियन है जो 2025 तक दोगुनी हो जाएगी। 2050 तक यह संख्या दो बिलियन तक पहुंचने का अनुमान है। इनमें सबसे ज्यादा भागीदारी विकासशील देशों की होगी।

क्वालिटी समय बिताएं

अगर घर के बच्चे अपना कुछ समय दादा-दादी के साथ बिताएं तो इससे उनके अंदर अकेलेपन की भावना नहीं आएगी। कुछ क्वालिटी समय उनके साथ बिताकर या फिर उनके खाने-पीने, उनकी जरूरतों व समस्यों के बारे में बातचीत की जाए तो उन्हें अच्छा महसूस होगा और असहाय की भावना उनके अंदर से खत्म हो जाएगी।

समय पर कराएं चेकअप

बुढ़ापा अपने साथ कई बीमारियों को लेकर आता है। समय-समय पर जरूरी चेकअप कराने से बीमारियों से बचा जा सकता है। घर के सदस्यों को अपने काम से समय निकालकर उन्हें डॉक्टर के पास अवश्य ले जाना चाहिए।

नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, बुजुर्गो से जुड़े तथ्य-

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि और हमें फॉलो करें ट्विटर पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story