Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

जानें क्या है ''म्यूजिक थैरेपी'' और ये हैं इसके 5 अनसुने फायदे

आपने अक्सर युवाओं को अपने कानों में हर वक्त लीड लगाएं गाने सुनते हुए देखा होगा, लेकिन क्या आपने ये कभी सोचा कि म्यूजिक या संगीत हमारे लिए क्यों जरूरी है। दुनिया की हर चीज में अपना एक संगीत या सुर होता है। जो हमारे मन और तन पर असर डालता है। यही नही, इसके जरिए कई गंभीर बीमारियों को भी इस थैरेपी के जरिए ठीक किया जा सकता है।

जानें क्या है

आपने अक्सर युवाओं को अपने कानों में हर वक्त लीड लगाएं गाने सुनते हुए देखा होगा, लेकिन क्या आपने ये कभी सोचा कि म्यूजिक या संगीत हमारे लिए क्यों जरूरी है। दुनिया की हर चीज में अपना एक संगीत या सुर होता है। जो हमारे मन और तन पर असर डालता है। यही नही, इसके जरिए कई गंभीर बीमारियों को भी इस थैरेपी के जरिए ठीक किया जा सकता है।

आपको बता दें कि दुनिया में हुए कई सारे शोधों से सिर्फ एक ही बात सामने निकल कर आई कि संगीत या म्यूजिक का धीमा स्वर या ऊंचा स्वर हमारे दिमाग के साथ-साथ हमारे शरीर की विभिन्न तरंगों पर अलग-अलग समय पर अलग-अलग असर डालती को भी नियंत्रित करने में सक्षम हैं।

इसी वजह से अब दुनिया में संगीत के जरिए कई गंभीर बीमारियों को ठीक करने के लिए खास म्यूजिक थैरेपी का प्रयोग शुरू किया जाने लगा है। इसलिए आज हम आपको म्यूजिक थैरेपी के हमारे शरीर और मन पर पड़ने वाले असर और उसके अनसुने फायदे के बारे में बता रहे हैं।

यह भी पढ़ें : बदलते मौसम में रहें सावधान, गले में हो सकती है सूजन और इंफेक्शन- अपनाएं ये घरेलू नुस्खे

म्यूजिक थैरेपी क्या है

म्यूजिक थैरेपी एक ऐसी थैरेपी होती है जिसमें मानसिक और शारीरिक रोगों को म्यूजिक यानि संगीत के ऊंचे, मध्यम और धीमे स्वर के जरिए ठीक करने की कोशिश की जाती है। इस थैरेपी का प्रयोग आमतौर पर पेशेंट की बीमारी से जुड़ी दवाईयों के साथ जल्दी आराम देने के लिए किया जाता है।

यह भी पढ़ें : अगर आप जीना चाहते हैं एक खुशहाल जिंदगी, तो अपनी जिदंगी में लाएं ये 5 आसान बदलाव

म्यूजिक थैरपी के फायदे :

1. म्यूजिक थैरपी के फायदे - तनाव और घबराहट को कम करना

जब भी आप तनाव,चिंता, घबराहट या गुस्सा महसूस करते हैं तो अक्सर हम अपने आप पर काबू नहीं रख पाते हैं जो हमारे रिश्तों के साथ ही हमारे शरीर और मन के लिए भी बेहद ही नुकसानदायक होता है। इससे हम हाई ब्लड प्रेशर, दिल की बीमारियों और अवसाद जैसी गंभीर मानसिक रोगों का शिकार हो जाते हैं, जबकि अगर हम तनाव या गुस्सा आने पर प्रॉब्लम से थोड़ी देर के लिए हटकर अपने पंसदीदा म्यूजिक को सुनने पर आप उस परेशानी को बिना गुस्से के बेहतर ढंग से सुलझा पाएगें।

2. म्यूजिक थैरपी के फायदे - पार्किंसन और अल्जाइमर में आराम

पार्किंसन वो बीमारी होती है जिसमें पेंशेट का शरीर हर वक्त कांपता रहता है, जबकि अल्जाइमर का पेंशेंट अपने आपके साथ ही अपने रिश्तेदारों तक को भी भूल जाता है। ऐसी गंभीर मानसिक बीमारी में पेशेंट्स अक्सर अपने नियमित कामों को करने के लिए भी दूसरों पर निर्भर हो जाते हैं। ऐसे पेशेंट्स पर म्यूजिक थैरपी का यूज करने पर कई सकारात्मक बदलाव देखने के बाद शोधों में ये पुष्टि हुई कि पार्किंसन और अल्जाइमर रोग में भी म्यूजिक थैरपी दवाईयों के साथ देने पर जल्दी आराम मिलता है, क्योंकि मस्तिष्क म्यूजिक के स्वरों के जरिए अपनी पुरानी बातों को याद कराने में सहायक होता है।

3. म्यूजिक थैरपी के फायदे - डिप्रेशन के असर को कम करना

डिप्रेशन या अवसाद एक ऐसी गंभीर मानसिक बीमारी है जिसमें पेशेंट अक्सर आत्महत्या या सुसाइड जैसी फीलिंग को महसूस करता है। अगर आप इस बीमारी को दौरान रोज कुछ समय के लिए अपना मनपसंद म्यूजिक सुने, तो आप आसानी से इस बीमारी से छुटकारा पा सकते हैं, क्योंकि म्यूजिक के जरिए हम शब्दों और म्यूजिक को फील और इमेजन करने लगते हैं। ऐसे अगर हम लगातार हैप्पी म्यूजिक सुने,तो इस गंभीर बीमारी को आसानी से खत्म किया जा सकता है।

4. म्यूजिक थैरपी के फायदे - सेल्फ एक्सप्रेशन और कम्युनिकेशन को इंप्रूव करता है

जो लोग पूरे दिन में कुछ वक्त के लिए अपना फेवरेट म्यूजिक सुनते हैं वो दूसरों की अपेक्षा अपनी बात को बेहतर तरीके से लिख और बोल पाते हैं। दरअसल म्यूजिक के जरिए वो अपने मूड को रिफ्रेश करते हैं जिससे उनमें अपनी बात को आसान शब्दों में अलग और कई तरीकों से कहने की क्षमता उत्पन्न होती है।

5. म्यूजिक थैरपी के फायदे - मानसिक और शारीरिक तालमेल को इंप्रूव करना

म्यूजिक पर किए गए कई शोधों में ये सामने आया है कि जो लोग म्यूजिक सुनना पसंद करते हैं उनका म्यूजिक न सुनने वालों लोगों की तुलना में मानसिक और शारीरिक तालमेल बेहतर स्थिति में होता है और वो अपने कामों को बेहतर ढंग से करने में सक्षम होते हैं।

Next Story
Top