Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ये 6 खतरनाक बातें पढ़कर, आप कभी नहीं खाएंगे "MCDONALDS" का फास्ट फूड

मैकडोनलड में परोसा जाता है बेकार खाना।

ये 6 खतरनाक बातें पढ़कर, आप कभी नहीं खाएंगे MCDONALDS का फास्ट फूड
X
यदि आपकों भूख लगी है? और आप अपने पसंदीदा फास्ट फूड रेस्तरां जाते हैं जहा आप कैमिकल और दवाओं से बने भोजन का ऑर्डर देते है लेकिन उससे पहले आप ये आर्टिकल जरूर पढ़े। कि क्या आप जानते हैं कि आपको बना हुआ फास्ट फूड बर्गर जो कि झींगूर के मास और बतख के पंख के बनाया जाता है? यहा कुछ ऐसे घृणित चीज़े है जो आप खाते हैं। जिनके बारे में आपको नहीं पता है।
1.) बतख के पंख. मैकडॉनल्ड्स के बारे में और अधिक स्थायी शहरी किंवदंतियों में से एक है हैम्बर्गर जिसमें गाय की आंखें होती हैं। जबकि ये मामला साबित नहीं हुआ है, तो वहीं कंपनी के पके हुए गर्म ऐप्पल पाई में बतख पंख मिलाया जाता है। और कम से कम एक घटक आमतौर पर ऐेसे ही बनाया जाता है। सच्चाई जोकि एक ताकत और उपन्यास के तौर पर हो सकता है।
2.) गुलाबी कीचड़. मैक डोनलड आपको ये विश्वास दिलाना चहाता है कि जो भी आप म्कनुग्गेटस के बाइट हर टाइम लेते है तो आप चिकन खा रहे हैं। लेकिन ये सच्चाई से परे है कि इसमें हड्डियों और चिकन शव, चिकन भागों का एक मिश्रण है जिसे आप सामान्य तौर पर नहीं खा सकते हैं। बता दे कि इसमें गुलाबी कीचड़ बैक्टीरिया और पेट्रोलियम की थोड़ी मात्रा को मारने के लिए अमोनिया मिलाया जाता है।
3.) सिली पोटीन प्लास्टिक. बता दें कि डिमेथ्य्लपोल्य्सिलोक्साने जो कि सिलिकॉन का एक रूप है। लेकिन ये एक झाग से फ्राइ तेल होता है। जिसे आप आप मैकडॉनल्ड्स फ़िले-ओ-मछली और आलू में देख सकते हैं। और ज्यादातर किसी डीप फ्राई फास्ट फूड रेस्तरां में भी।
4.) लकड़ी. लकड़ी पल्प को हम सेलूलोज के नाम से भी जानते हैं, जो हर चीज में इस्तेमाल होती है। भोजन प्रोसेसर और अधिक गाढ़ा और खाद्य पदार्थों को स्थिर, वसा की जगह है और फाइबर सामग्री को बढ़ावा देने के लिए इसका इस्तेमाल किया जाता है।
5.) पेट्रोलियम व्युत्पन्न संरक्षक. तृतीयक बुत्य्लिड्रोक्विनोने (TBHQ) पेट्रोलियम से प्राप्त यौगिकों से बना है और प्रसंस्कृत खाद्य इसमें पाया जाता है।
6.) अमोनियम सल्फेट. अमोनियम सल्फेट "रोटी के लिए खमीर भोजन," और कई फास्ट फूड कंपनियों के रूप में खाद्य निर्माताओं के लिए रासायनिक कंपनियों द्वारा बेचा जाता है।
40 साल पहले, केवल 6 अरब डॉलर फास्ट फूड पर खर्च किए गए थे। लेकिन आज इसकी संख्या 200 अरब डॉलर है। ना केवल फास्ट फूड इंडस्ट्री हमें बेकार भोजन दे रही है बल्कि वो इससे बैशूमार पैसा भी कमा रहे हैं।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story