Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Janmashtami 2019 : जन्माष्टमी पर व्रत में सेहत का ऐसे रखें ख्याल, नहीं होगी थकान

Janmashtami 2019 जन्माष्टमी के दिन अधिकांश लोग व्रत और उपवास रखकर कान्हा के आने का इंतजार करते हैं। पूरे दिन का व्रत करने के बाद कुछ लोगों को शारीरिक कमजोरी और थकान महसूस होती है। ऐसे में आज हम आपको व्रत में और व्रत के बाद हेल्दी और एक्टिव रहने वाले टिप्स यानि सेहत का ख्याल रखने के तरीके बता रहे हैं। जिससे आप व्रत में भी एनर्जेटिक और फिट फील कर सकें।

Janmashtami 2019 :  जन्माष्टमी पर व्रत में सेहत का ऐसे रखें ख्याल, नहीं होगी थकान
X
Janmashtami 2019 How To Take Care of Health In Janmashtami Fast

Janmashtami 2019 : साल 2019 में आज यानि 24 अगस्त को जन्माष्टमी का त्यौहार देशभर में बड़ी ही धूमधाम से मनाया जा रहा है। कृष्ण जन्मोत्सव पर कुछ लोग फलाहार व्रत रखना पसंद करते हैं, तो कुछ लोग निर्जला व्रत रखकर कान्हा को प्रसन्न करने की कोशिश करते हैं। जिसके बाद कुछ लोगों को कमजोरी और थकान महसूस होती है। अगर आप भी जन्माष्टमी 2019 में व्रत रख रहे हैं, तो कुछ बातों का जरुर ख्याल रखें, जिससे आपको व्रत के बाद कमजोरी महसूस न हो। आइए जानते हैं, व्रत में सेहत का ख्याल कैसे रखें...

Janmashtami 2019 / व्रत में सेहत का ख्याल रखने के टिप्स




1. रोजाना हेल्दी रहने के लिए दिन में 8-10 गिलास पानी पीना अच्छा माना जाता है। इससे शरीर के हानिकारक तत्वों को निकालने में मदद मिलती है। लेकिन व्रत में बार-बार पानी पीना आपको बार-बार लगने वाली भूख को शांत करता है। इसके साथ शरीर के तापमान को सामान्य बनाए रखने में सहायक होता है।




2. व्रत में फलाहार करना एक अच्छा ऑप्शन होता है। इससे आपके शरीर को रोजाना की डाइट से मिलने वाले पौषक तत्वों की पूर्ति होती है। साथ ही फलों को पाचने में पाचन तंत्र पर अतिरिक्त दबाव नहीं आता। व्रत में हमेशा मौसमी फलों का सेवन करना चाहिए।




3.व्रत में मीठा खाने से शरीर को इंस्टेट एनर्जी मिलती है। जिससे आप पूरे दिन एक्टिव और एनर्जेटिक फील करते हैं। मीठा खाने से शरीर में ग्लूकोज का स्तर भी सामान्य बना रहता है। आप मीठे में व्रत की मिठाई या शहद वाले नींबू पानी का सेवन कर सकते हैं।




4. व्रत में हमेशा सात्विक यानि सादा और हल्का भोजन ही करना चाहिए, इससे आप थकान और आलस से दूर रहते हैं। इसके साथ ही पाचन तंत्र को अपने कार्यों को सुचारु रुप से करने में मदद मिलती है।



5. व्रत में कभी भी रात के समय हैवी फूड यानि ऑयली फूड नहीं खाना चाहिए। क्योंकि तली भुनी चीजों को पचाने में पाचन तंत्र को दिक्कत होती है और बदहजमी जैसी समस्या होने का खतरा बढ़ जाता है। साथ ही शरीर में पानी की कमी तेजी से होती है। जिससे बार-बार प्यास की अनुभूति होती है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story