Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Coronavirus : सेनेटाइजर के बजाए साबुन से हाथ साफ करना बेहतर, ज्यादा कीटाणुओं को करता है नष्ट

Coronavirus : साबुन और पानी की सुविधा है तो साबुन से हाथ धोना ही बेहतर है। लेकिन अगर घर से बाहर सफर पर हैं तो सेनेटाइजर का इस्तेमाल कर सकते हैं। साबुन और पानी से हाथ धोने पर हाथों से बैक्टीरिया या वायरस लगभग पूरी तरह से दूर हो जाते हैं जबकि हैंड सेनेटाइजर में ये क्वालिटी नहीं। वो केवल कुछ ही कीटाणुओं पर काम करते हैं।

सेनेटाइजर में हाथ झुलसाने वाला मेथेनॅाल, नोटिस
X

सेनेटाइजर (प्रतीकात्मक फोटो)

Coronavirus : कोरोना वायरस महामारी के विकराल रूप लेने के बाद मार्केट से सेनेटाइजर गायब हो गए हैं। उनकी जगह नकली सेनेटाइजर ने ले ली है। लोग साबुन से हाथ साफ करने की बजाए सेनेटाइजर को तरजीह दे रहे हैं। जबकि साबुन से हाथ धोना अधिक बेहतर है। कोरोना वायरस से जुड़े सवालों के साथ अन्य मामलों पर डॉक्टरों से राय ली गई है। पेश हैं सवाल और जवाब।

क्या साबुन से हाथ धोनासेनेटाइजर से हाथ साफ करने से बेहतर है?

अगर आप घर पर हैं और साबुन और पानी की सुविधा है तो साबुन से हाथ धोना ही बेहतर है, लेकिन अगर घर से बाहर सफर पर हैं तो सेनेटाइजर का इस्तेमाल कर सकते हैं। साबुन और पानी से हाथ धोने पर हाथों से बैक्टीरिया या वायरस लगभग पूरी तरह से दूर हो जाते हैं, जबकि हैंड सेनेटाइजर में ये क्वालिटी नहीं। वो केवल कुछ ही कीटाणुओं पर काम करते हैं। इसकी एक वजह ये भी है कि सेनेटाइजर हाथों को पूरी तरह से कवर नहीं करता है।

किसी ऐसे व्यक्ति संग बाथरूम शेयर कर सकते हैं, जो संक्रमित हो?

मुमकिन हो तो मरीज का बाथरूम अलग ही कर दें। खासकर अगर घर पर कोई बुजुर्ग हो या फिर कोई बीमार या गर्भवती महिला। अगर ऐसा संभव नहीं है तो हर बार मरीज के बाथरूम इस्तेमाल करने के तुरंत बाद उसे सेनेटाइज किया जाना चाहिए।

हम स्वस्थ रहने हल्दी और काली मिर्च का काढ़ा पीते हैं। क्या इस समय यह लाभकारी होगा?

इस तरह का सभी काढ़ा स्वस्थ रहने का पारंपरिक इलाज है। कोराना के समय में इसका उपयोग से शरीर को तमाम तरह के आंतरिक रोग व संक्रमण से बचाएगा। काढ़ा पीने से नुकसान नहीं होगा। इसका सेवन कर सकते हैं।

कुछ दिनों से सर्दी है और अधिक छींक आ रही है। क्या मुझे डाॅक्टर के पास जाना चाहिए?

साधारण सर्दी और छींक से घबराना नहीं चाहिए। यह समस्या किसी चीज से एलर्जी की वजह से हो सकती है। घर में रखे मसाले जैसे अजवाइन, जीरा, सौंठ को उबालकर काढ़ा बनाएं या खाने में उपयाेग करें। इसके अलावा हल्दी का पानी पीएं। इससे समान्य बीमारी में राहत मिलेगी। इसके लिए डॉक्टर के पास जाने की आवश्यकता नहीं। जब शरीर का तापमान अधिक होने लगे या सांस लेने में समस्या हो ताे तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

सिर के बाल झड़ रहे हैं। क्या करें?

सिर के बाल झड़ने के कई कारण हो सकते हैं। इसके लिए कुछ सावधानियां बरतने की जरूरत होती है। शैंपू, साबुन का इस्तेमाल अच्छी क्वालिटी का करना चाहिए। सिर में सफेद परत या इस तरह का कोई इंफेक्शन हो तो इसका इलाज जरुर करवाना चाहिए। इसके अलावा किस ऋतु में ज्यादा बाल झड़ते हैं। इसके हिसाब से मेडिसिन का सहारा लेना चाहिए।

हाथ-पैर में दर्द, खुजली और जलन है। इसके लिए क्या करना चाहिए?

हाथ-पैर में खुजली और जलन एलर्जी के लक्षण हो सकते हैं। इसके लिए साफ-सफाई पर अधिक ध्यान दें। ऐसी समस्याओं में मरीज को विस्तृत समस्या देखकर दवा दी जाती है। शरीर में खुजली खत्म करने के लिए नहाने के बाद साबुन, वैक्सीन का इस्तेमाल करना चाहिए। इसके लिए अपने डॉक्टर से सलाह लें।

Next Story