Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बहुत कम लोग जानते हैं आंख फड़कने का सही कारण, कई बीमारी होने का रहता है डर

पलक की मांसपेशियों नें ऐंठन होने के कारण इंसान की आंख फड़कती है। इसका असर पलक की ऊपरी हिस्से पर दिखाई देता है। वहीं साइंस में इसकी तीन अलग अलग कंडीशन बताई गई है। मायोकेमिया, ब्लेफेरोस्पाज्म और हेमीफेशियल स्पाज्म।

जिले को मोतियाबिंद मुक्त करने आरंग ब्लाक से शुरूआत, 350 मरीजों की पहचान, आपरेशन भी शुरू
X

 आंख (फाइल फोटो)

भारत में बॉडी पार्ट्स के साथ होने वाली हर छोटी बात को अंघविश्वास से जोड़कर देखा जाता है। जिसमें आंख फड़कना भी शामिल है। आपने भी सुना होगा की बाईं आंख फड़कने पर कुछ बुरा होता है। तो वहीं दाईं आंख के फड़कने को शुभ माना जाता है। लेकिन क्या कभी आपने आंख फड़ने के असरी कारण को समझने की कोशिश की। अगर नहीं तो आज हम आपको इस लेख में बताएंगे कि आंख क्यों फड़कती है। तो आइए जानते हैं इस बारे में।

पलक की मांसपेशियों नें ऐंठन होने के कारण इंसान की आंख फड़कती है। इसका असर पलक की ऊपरी हिस्से पर दिखाई देता है। वहीं साइंस में इसकी तीन अलग अलग कंडीशन बताई गई है। मायोकेमिया, ब्लेफेरोस्पाज्म और हेमीफेशियल स्पाज्म।

ये है कारण

डॉक्टरों का मानना है कि ब्रेन या नर्व डिसोडर के कारण भी इंसान की आंख फड़क सकती है। इसमें बैन पल्सी, सर्विकल डिस्टोनिया, डिस्टोनिया, मल्टीपल सेलोरोसिस का खतरा रहता है। वहीं गलत लाइफस्टाइल में कुछ गलतियों के कारण भी आंख फड़कने की भी दिक्कत हो सकती है।

तनाव

एक्सपर्ट का मानना है कि ज्यादा तनाव के कारण भी आंख फड़कती है। ऐसे में आप तभी चिंताएं छोड़दें।

आई स्ट्रेन

पूरा दिन लैपटॉप, टीवी, मोबाइल में लगे रहते हैं तो इससे दूरी बना लें। यह आई स्ट्रेन की समस्या का कारण होता है। ऐसे में आप इन सभी चीजों से दूरी बना लें। ऐसा करने से आपको काफी आराम मिलेगा।

और पढ़ें
Next Story