Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

चिपचिपे और फ्रिजी हेयर को मिनटों में बनाएं फ्लोइंग और बाउंसी

बढ़ते पॉल्यूशन और गलत खानपान की आदतों की वजह से अक्सर बालों को पूरा पौषण नही मिल पाता है, जिससे उनमें समय से पहले सफेदी आना, बालों का झड़ना, चिपचिपाहट या फ्रिजी जैसी समस्या होना काफी कॉमन हो गया है। ऐसे में अगर आप भी अपने चिपचिपे और उलझे बालों से परेशान हैं, तो आज हम आपके लिए कुछ ऐसे टिप्स लेकर आए हैं, जिन्हें अपनाकर आप फ्लोइंग और बाउंसी बना सकेगीं।

चिपचिपे और फ्रिजी हेयर को मिनटों में बनाएं फ्लोइंग और बाउंसीबालों की चिपचिपाहट और फ्रिजीनेस को दूर करने के तरीके

बाल हमारी पर्सनेलिटी को कंप्लीट और परफेक्ट बनाने में बेहद अहम भूमिका निभाते हैं। ऐसे में कई बार बालों की चिपचिपाहट, उनका पतलापन और फ्रीजी होना, आपके पूरे लुक को खराब कर देते हैं खासकर अगर आपको किसी इंटरव्यू या पार्टी में जाना हो। ऐसे में अगर आप हर मौके पर बाउंसी, फ्रिजीफ्री, शाइनी हेयर से एक परफेक्ट लुक चाहती हैं, तो हम आपके चिपचिपे बालों को फ्रिजी फ्री बनाने वाले टिप्स बता रहे हैं।

चिपचिपे और फ्रिजी हेयर को बाउंसी और फ्लोइंग बनाने के तरीके


1. शैंपू बदल कर देखें

अगर आप रोजाना अपने चिपचिपे और फ्रिजी हेयर को बाउंसी बनाना चाहती हैं, तो ऐसे में सबसे पहले अपने शैंपू को बदल कर देखें। क्योंकि कई बार कैमिकल प्रोडक्टस की वजह से बाल जड़ों से कमजोर होने लगते हैं। साथ ही बालों में रुखापन आने लगता है। जिससे वो बेजान और फ्रिजी नजर आने लगते हैं। ऐसे में आप बालों को धोने के लिए हर्बल शैंपू या नेचुरल प्रोडक्ट्स यानि आंवला, शिकाकाई का उपयोग करें। इससे नेचुरल मॉइश्चर लॉक रहेगी और बाल फ्लोइंग बनेगें।

2. कंडीशनर का उपयोग जरुर करें

अगर आप अपने रुखे और बेजान बालों के अलावा बार बार बिखरने से परेशान रहते हैं, तो ऐसे में शैंपू के बाद बालों को कंडीशनर करना न भूलें। अगर आप कंडीशनर का उपयोग करते हैं, तो इसकी मात्रा को थोड़ा सा बढ़ा दें। इसके अलावा पानी और अन्य तरल पदार्थों की मात्रा का सेवन भी बढ़ा दें। इससे बालों के फ्रिजीनेस खत्म होती है और वो सॉफ्ट बनने के साथ बार बार बिखरने की समस्या से निजात मिलती है।


3. शहद

शहद एक नेचुरल कंडीशनर माना जाता है। अगर आप अपने चिपचिपे और फ्रिजी हेयर की समस्या को दूर करना चाहते हैं, तो ऐसे में शहद को ऑलिव ऑयल में मिक्स करें और ब्रश या अंगुलियों की मदद से बालों की जड़ में कुछ देर लगाएं और सूखने पर बालों को हल्के गुनगुने पानी से अच्छे से धो लें। इससे बालों में चमक आने के साथ फ्लोइंग भी बनेगें और जड़ों से मजबूती भी आएगी।

4. विनेगर और पानी

अगर आप अपने बालों की चिपचिपाहट को दूर करना चाहते हैं, तो ऐसे में एक स्प्रे बोतल में 2 बड़ा चम्मच विनेगर और 1 बड़ा चम्मच पानी को मिलाएं और अच्छे से मिक्स करने के बाद बालों की जड़ों में थोड़ा थोड़ा करके छिड़काव करें। 15-20 मिनट के बाद एक साफ सूती कपड़े से सिर की जड़ से विनेगर को पोंछ दें। आप पायेगें की आपके बालों से चिपचिपापन दूर हो गया है।


5. एलोवेरा और नारियल तेल

एलोवेरा और नारियल तेल दोनों ही नेचुरल मॉइश्चराइजर माने जाते हैं। एलोवेरा पल्प और नारियल तेल को एक बर्तन में मिक्स करें और फिर ब्रश या अंगुलियों से बालों की जड़ में लगाएं और लगभग 1 घंटे बाद बालों को शैंपू कर लें। इससे आप बालों से चिपचिपाहट और फ्रिजीनेस दूर होगी और वो बाउंसी होने के साथ शाइनी बनेगें।

Next Story
Top