Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मजदूरों को सूरत से प्रयागराज लेकर आ रही ट्रेन के 20 डिब्बे पीछे छूटे, फंसे लोगों की बिना पानी के बेहाल

ट्रेन के इंजन के साथ बाकी डिब्बे आगे निकल गए। यह जानकारी गार्ड ने स्टेशन मास्टर को दी। बताया जा रहा है कि ट्रेन इंजन के साथ तीन डिब्बे भटौली स्टेशन से अलग होकर आगे निकल गए और 20 डिब्बे पीछे छूट गए।

मजदूरों को सूरत से प्रयागराज लेकर आ रही ट्रेन के 20 डिब्बे पीछे छूटे, फंसे लोगों की बिना पानी के बेहाल
X

देश में जारी लॉकडाउन के बीच प्रवासी मजदूरों को गुजरात के सूरत से उत्तर प्रदेश स्थित प्रयागराज के लिए आ रही ट्रेन के 20 डिब्बे पीछे छूट गए। खबरों से मिली जनकारी के मुताबिक, ट्रेन के इंजन के साथ बाकी डिब्बे आगे निकल गए।

यह जानकारी गार्ड ने स्टेशन मास्टर को दी। बताया जा रहा है कि ट्रेन इंजन के साथ तीन डिब्बे भटौली स्टेशन से अलग होकर आगे निकल गए और 20 डिब्बे पीछे छूट गए। ट्रेन के बचे हुए डिब्बों में फंसे हुए लोग बिना पानी के बेहाल हैं।

एक यात्री ने बताया कि उन्होंने सूरत से इलाहाबाद (प्रयागराज) जाने के लिए 9 अप्रैल सफर शुरू किया था। लेकिन अब तक कुछ खाने पीने को नहीं मिला है। वहां गाड़ी 3 घंटे तक रुकी रही एक टेंपरेरी इंतजाम कर के गाड़ी को भटौली स्टेशन पर रोक दिया है और अभी तक कोई व्यवस्था नहीं हो पाई है।

बता दें कि देश में कोरोना वायरस महामारी के चलते लॉकडाउन जारी है। देश लागू लॉकडाउन के कारण भारत के विभिन्न राज्यों में प्रवासी मजदूर फंसे हैं। केंद्र सरकार ने प्रवासी मजदूरों को उनके घर तक पहुंचाने के लिए श्रमिक स्पेशल ट्रेने चलाई हैं। ताकि प्रवासी मजदूर अपने घर पहुंच सकें। भारत सरकार विदेशों में भी फंसे नागरिकों को अपने देश वापस ला रही है।

Next Story