logo
Breaking

World Kidney Day 2019: ये हैं किडनी इंफ्केशन के लक्षण, कारण और उपचार

किडनी हमारे शरीर के सबसे जरूरी अंगों मे से एक है,क्योंकि किडनी शरीर से सभी हानिकारक तत्वों को मूत्र यानि पेशाब के जरिए बाहर निकालने का काम करती हैं. इसलिए किडनी के खराब होने या उसमें इंफ्केशन होने पर शरीर पर बुरा असर पड़ता है। इसलिए आज हम आपको विश्व किडनी दिवस पर किडनी इंफेक्शन के लक्षण और उपचार बता रहे हैं।

World Kidney Day 2019: ये हैं किडनी इंफ्केशन के लक्षण, कारण और उपचार

किडनी हमारे शरीर के सबसे जरूरी अंगों मे से एक है,क्योंकि किडनी शरीर से सभी हानिकारक तत्वों को मूत्र यानि पेशाब के जरिए बाहर निकालने का काम करती हैं. इसलिए किडनी के खराब होने या उसमें इंफ्केशन होने पर शरीर पर बुरा असर पड़ता है। इसलिए आज हम आपको विश्व किडनी दिवस (World Kidney Day) पर किडनी इंफेक्शन के लक्षण, कारण और उपचार बता रहे हैं।

किडनी इंफेक्शन के कारण

किडनी इंफेक्शन हमेशा गंदगी और ई-कोलाई नामक बैक्टीरिया के मूत्राशय में प्रवेश होने की वजह से होता है। जिससे मूत्र करने में परेशानी, मूत्राशय में जलन और दर्द की समस्या होने लगती हैं।

किडनी इंफेक्शन के लक्षण :

बुखार आना

बार-बार पेशाब आना

पीठ या कमर में दर्द होना

किडनी इंफेक्शन के उपचार :

1.अगर आपको किडनी इंफेक्शन या संक्रमण से बचना है तो ऐसे में ज्यादा से ज्यादा पानी पीएं। इससे मूत्राशय की लगातार सफाई होती है जिससे इंफेक्शन का खतरा कम होता है। अगर किडनी इंफेक्शन है तो भी ज्यादा पानी पीना फायदेमंद रहेगा।
2. किडनी इंफेक्शन से पीड़ित लोगों को नमक का सेवन कम करना चाहिए क्योंकि भोजन के माध्यम से खाया गया 95 प्रतिशत सोडियम किडनी के जरिए पचता है। इसलिए नमक का अधिक मात्रा में सेवन करना किडनी की क्रियाशीलता को बढ़ाकर उनकी शक्ति को कम देता है।
3. स्मोकिंग से बचें, अगर आप किडनी इंफ्केशन के शिकार हैं, तो ऐसे में स्मोकिंग करना आपके लिए बेहद हानिकारक हो सकता है। क्योंकि इससे रक्त नलिकाओं में खून का बहाव धीमा पड़ जाता है और किडनी में खून कम जाने से उसकी कार्यक्षमता घट जाती है। इसलिए धूम्रपान और तंबाकू का सेवन ना करें।
4. अगर आप किडनी इंफ्केशन से पीड़ित हैं, तो ऐसे में मांसाहार का सेवन करने से बचें। क्योंकि किडनी इंफ्केशन हमेशा बैक्टीरिया और गंदगी की वजह से होता है और आमतौर पर नॉनवेज में काफी सारे हानिकारक बैक्टीरिया पाए जाते हैं। इसलिए नॉनवेज खाने से बचना चाहिए।
5. किडनी इंफ्केशन के पेशेंट्स को हमेशा अपना वजन नियंत्रित रखना चाहिए। क्योंकि वजन ज्यादा होने से किडनी पर ज्यादा दबाव पड़ता है। जिससे इंफेक्शन के दौरान किडनी में अन्य समस्याएं उत्पन्न होने लगती है।
Share it
Top