Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Ebola Virus Symptoms: क्या है इबोला वायरस और कितना अलग है इससे कोरोना का इंफेक्शन

जहां एक तरफ पूरी दुनिया कोरोना वायरस(Coronavirus) के संकट से जूझ रही है। वहीं लोग इसके इलाज के लिए वैक्सीन (Vaccine) बनने की दुआएं कर रहे हैं कि एक और वायरस दस्तक दे चुका है। यह इबोला वायरस (Ebola Virus) पहले भी कोहराम मचा चुका है। आइए जानते हैं कि कोरोना वायरस और इबोला वायरस के लक्षण में क्या अंतर है।

Ebola Virus Symptoms: क्या है इबोला वायरस और कितना अलग है इससे कोरोना का इंफेक्शन
X
क्या है इबोला वायरस (फाइल फोटो)

भारत समेत कई देशों में कोरोना (Coronavirus) का कहर देखने को मिल रहा है। जिसके चलते सभी लोग काफी परेशान हैं। कोरोना वायरस की चपेट में लाखों लोग आ चुके हैं(Corona Patients)। महीनों पहले आए इस वायरस के इलाज के लिए अभी तक वैक्सीन तैयार नहीं हो पाई है(Corona Vaccine)। जिसने लोगों की चिंता काफी बढ़ा दी है। जहां लोग कोरोना वायरस के चलते पहले से ही इतना परेशान है कि इसी बीच इबोला वायरस (Ebola Virus)ने फिर से दस्तक दे ही है। इबोला वायरस पहले भी लोगों को काफी नुकसान पहुंचा चुका है। इसी बीच आज हम आपको इससे जुड़ी तमाम जानकारी बताने जा रहे हैं।

कुछ साल पहले भी इबोला वायरस आया था। उस वक्त भी इंटरनैशनल फ्लाइट्स और उड़ाने प्रभावित हो रही थीं। एयरपोर्ट्स पर मेडिकल टेस्ट की सुविधा शुरू की गई थी। फिर लंबे समय तक कोशिशों के बाद दुनिया इस वायरस पर कंट्रोल पाया गया था।

इबोला वायरस के लक्षण

- सांस लेने में दिक्कत होना

- गले में दर्द

-तेज बुखार

- बॉडी पेन

- वीकनेस

- डायरिया

- उल्टी आना

इन सभी लक्षणों के साथ इबोला के मरीज के बॉडी से संक्रमित द्रव का रिसाव होता है। जिसके संपर्क में आनेवाले शख्स को यह इंफेक्शन हो जाता है।

कोरोना वायरस के लक्षण

- सर्दी

- खांसी

- बुखार

- गले में दर्द

- वीकनेस

- सांस लेने में दिक्कत़

इन सभी लक्षणों के साथ कोरोना संक्रमित के मुंह से निकले ड्रॉपलेट से भी कोरोना संक्रमण हो सकता है।

Also Read: Heart Attack Symptoms:हार्ट अटैक आने से महीनों पहले मिलते हैं ये संकेत

इबोला के 6 केस सामने आए हैं

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि डेमोक्रेटिक रिपब्लिक ऑफ कॉन्गो में इबोला के 6 केस सामने आए हैं। जिनमें से 4 लोग दम तोड़ चप। यह दूसरी बार है जब कॉन्गो में इबोला एक बार फिर पैर पसारते दिख रहा है। वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन ने भी इन मामलों की पुष्टि की है।

Shagufta Khanam

Shagufta Khanam

Jr. Sub Editor


Next Story