Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Independence Day 2019: भारत की इन बेटियों ने अपने खेल से बढ़ाया देश का मान

Independence Day 2019: 15 अगस्त 2019 को भारत अपना 73वां स्वतंत्रता दिवस (Happy Independence Day 2019) मनाने जा रहा है। इस मौके पर हम उन कुछ भारतीय महिला खिलाड़ियों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्होंने अपने खेल से दुनिया भर में भारत का नाम रौशन किया है।

Independence Day 2019: भारत की इन बेटियों ने अपने खेल से बढ़ाया देश का मान

Happy Independence Day 2019 (स्वतंत्रता दिवस 2019) भारत 15 अगस्त 1947 (15 August 1947) को अंग्रेजों की गुलामी से आजाद हुआ था। इस दिन के बाद हमलोग हर साल 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस (Independence Day) के रूप में मनाते हैं। 15 अगस्त 2019 को भारत अपना 73वां स्वतंत्रता दिवस (Happy Independence Day 2019) मनाने जा रहा है। इस मौके पर हम उन कुछ भारतीय महिला खिलाड़ियों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्होंने अपने खेल से दुनिया भर में भारत का नाम रौशन किया है।

1. साइना नेहवाल

साइना नेहवाल को भारतीय बैडमिंटन की गोल्डेन गर्ल के रूप में भी जाना जाता है। वह दुनिया के शीर्ष तीन बैडमिंटन खिलाड़ियों में जगह बना चुकी है। साइना नेहवाल महिला बैडमिंटन में भारत का सबसे बड़ा नाम है। उनका कैरियर 2012 में शुरू हुआ। साइना नेहवाल ने अब तक स्विस ओपन ग्रां प्री गोल्ड, थाई ओपन ग्रां प्री गोल्ड और इंडोनेशियाई ओपन सुपर सीरीज जीती है। साइना नेहवाल ओलंपिक में कांस्य पदक भी जीत चुकी है।


2. एमसी मैरीकॉम

एमसी मैरीकॉम भारत की सबसे टॉप महिला मुक्केबाज है। तीन बच्चों की मां होने के बाद उनका स्वर्निम सफ़र जारी है। मैरीकॉम रिकॉर्ड छह बार विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप जीतने वाली एकमात्र महिला हैं और सात विश्व चैंपियनशिप में से प्रत्येक में पदक जीतने वाली एकमात्र महिला मुक्केबाज हैं। एमसी मैरीकॉम ओलंपिक कांस्य पदक भी जीत चुकी है। मैरी कॉम लंदन ओलंपिक में कांस्य पदक जीतने वाली पहली महिला मुक्केबाज भी बनी। वह 2014 में दक्षिण कोरिया के इंचियोन में एशियाई खेलों में और 2018 राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण जीतने वाली पहली भारतीय महिला मुक्केबाज है।


3. पीवी सिंधु

भारतीय बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधु बैडमिंटन की दुनिया में उभरती सितारा है। लंदन 2012 ओलंपिक में अपने प्रदर्शन के बाद पहले ही वह खेल की दुनिया में अपने लिए एक खास जगह बना चुकी हैं। उन्होंने हाल ही में 2017 BWF विश्व चैंपियनशिप में रजत पदक जीता और 2017 कोरियाई ओपन सुपर सीरीज जीतने वाली पहली भारतीय महिला बनी हैं।


4. मिताली राज

भारतीय महिला क्रिकेट टीम की पूर्व कप्तान मिताली राज की गिनती दुनिया के सर्वश्रेष्ठ महिला बल्लेबाजों में होती है। मिताली राज को महिला क्रिकेट का सचिन तेंदुलकर भी कहा जाता है। मिताली राज महिलाओं के अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाली खिलाड़ी हैं। वह एकदिवसीय मैचों में 6000 से अधिक रन बनाने वाली और वनडे में लगातार सात बार अर्धशतक बनाने वाली एकमात्र महिला भी हैं। वर्ष 2003 में मिताली राज को अर्जुन पुरस्कार मिला जबकि 2015 में उन्हें पद्म श्री से सम्मानित किया गया।


5. स्मृति मंधाना

भारतीय महिला क्रिकेटर स्मृति मंधाना दुनिया की सबसे खूबसूरत महिला खिलाड़ी और मौजूदा समय की सबसे टॉप बल्लेबाज है। मंधाना ने 2013 में अपने इंटरनेशनल करियर की शुरुआत की। स्मृति मंधाना महज 17 साल की उम्र में एकदिवसीय क्रिकेट में दोहरा शतक जड़ने वाली पहली भारतीय महिला बनी, जब उन्होंने महाराष्ट्र की ओर से खेलते हुए गुजरात के खिलाफ एक मैच में 224 बनाए। स्मृति मंधाना अब तक वनडे क्रिकेट में लगभग 2000 के करीब रन बना चुकी है।


6. हरमनप्रीत कौर

भारतीय महिला क्रिकेटर हरमनप्रीत कौर आक्रामक शैली की बल्लेबाज है। हरमनप्रीत को महिला क्रिकेट का वीरेंद्र सहवाग भी कहा जाता है। हरमनप्रीत कौर भारतीय महिला टीम में ऑलराउंडर के तौर पर खेलती है। सहवाग की तरह ही वह बाउंड्री मारना पसंद करती हैं। उन्हें वर्ष 2017 में युवा मामले और खेल मंत्रालय द्वारा क्रिकेट का प्रतिष्ठित अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। नवंबर 2018 में वह महिला टी20 अंतर्राष्ट्रीय मैच में शतक बनाने वाली भारत की पहली महिला बनीं।


7. दीपिका पल्लीकल

दीपिका पल्लीकल स्क्वाश में भारत की सबसे बड़ी खिलाड़ी है। दीपिका पल्लीकल भारत की पहली स्क्वाश खिलाड़ी है जिसने WSA रेटिंग में टॉप 20 में जगह बनाई है। इतना ही नहीं वह पीएसए महिला रैंकिंग में टॉप 10 में पहुंचने वाली पहली भारतीय हैं। दीपिका पल्लीकल को अर्जुन पुरस्कार और पद्म श्री से सम्मानित किया जा चुका है। बता दें कि दीपिका पल्लीकल की शादी भारतीय क्रिकेटर दिनेश कार्तिक से हुई है।


8. सानिया मिर्जा

भारतीय टेनिस स्टार सानिया मिर्जा भारतीय खेलों में सबसे अधिक पहचाने जाने वाले चेहरों में से एक हैं। महिला टेनिस संघ के अनुसार सानिया मिर्जा 2003 से 2013 तक भारत की नंबर 1 टेनिस खिलाड़ी थीं। हालांकि चोटों की वजह से वह खेल से अंदर और बाहर होती रही है।


सानिया मिर्जा को हमेशा एक ऐसी महिला के रूप में याद किया जाएगा, जिसने भारतीयों को गौरवान्वित किया और कुछ ऐसे किक शॉट्स खेले, जिसकी बदौलत उन्होंने पूर्व विश्व नंबर 1 टेनिस खिलाड़ी मार्टिना हिंगिस के खिलाफ जीत हासिल की है। बता दें कि सानिया मिर्जा ने पाकिस्तानी क्रिकेटर शोएब मलिक से शादी की है।

Share it
Top