Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

HBD Special: वीरेंद्र सहवाग का ''मुल्तान का सुल्तान'' और ''''डुप्लीकेट सचिन तेंदुलकर'''' बनने की पूरी कहानी

विश्व क्रिकेट के सबसे विस्फोटक बल्लेबाजो में से एक पूर्व भारतीय क्रिकेटर वीरेन्द्र सहवाग का जन्म 20 अक्टूबर 1978 को अनाज व्यापारी के घर नई दिल्ली में हुआ था। सहवाग की गिनती दुनिया के सबसे आक्रामक सलामी बल्लेबाज के तौर पर होती है।

HBD Special: वीरेंद्र सहवाग का

विश्व क्रिकेट के सबसे विस्फोटक बल्लेबाजो में से एक पूर्व भारतीय क्रिकेटर वीरेन्द्र सहवाग का जन्म 20 अक्टूबर 1978 को अनाज व्यापारी के घर नई दिल्ली में हुआ था। सहवाग की गिनती दुनिया के सबसे आक्रामक सलामी बल्लेबाज के तौर पर होती है।

उनका बल्ला जब भी चलता विरोधी टीम के गेंदबाजों को दिन में ही तारे नजर आने लगते थे। सहवाग टेस्ट क्रिकेट इतिहास में दो तिहरा शतक लगाने वाले भारत के पहले बल्लेबाज हैं।

एक अप्रैल 1999 को पाकिस्तान के खिलाफ इंटरनेशनल क्रिकेट की शुरुआत करने वाले वीरेंद्र सहवाग ने भारतीय क्रिकेट में ऐसी छाप छोड़ी कि उन्हें डुप्लीकेट सचिन तेंदुलकर तक का खिताब मिल गया।

इसे भी पढ़ें: वीरेन्द्र सहवाग: 2 गेंदों पर 21 रन ठोकने वाला दुनिया का इकलौता बल्लेबाज, जानें कैसे हुआ ये कारनामा

आगे जानें वीरेंद्र सहवाग के जिंदगी से जुड़ी कुछ अहम जानकारी

वीरेन्द्र सहवाग का जीवन

वीरेन्द्र सहवाग का जन्म 20 अक्टूबर 1978 को अनाज व्यापारी के घर नई दिल्ली में हुआ था। उनका बचपन संयुक्त परिवार में अपने भाई-बहन, अंकल, आंटी और 16 भाइयों के साथ बिता। सहवाग से बड़ी दो बहनें मंजू और अंजू हैं जबकि उनसे छोटा एक भाई है विनोद।

बारह साल की उम्र में क्रिकेट के दौरान जब सहवाग अपना दाँत तुड़वाकर घर पहुँचे तो पिता ने उसके क्रिकेट खेलने पर प्रतिबन्ध लगा दिया। हालांकि बाद में वीरू की मां के हस्तक्षेप के बाद ही यह प्रतिबन्ध हटा। फिर इसके बाद सहवाग ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा।

सहवाग का परिवार मूल रूप से हरियाणा से है और बाद में वे दिल्ली चले गये थे। चार भाई बहनों में सहवाग तीसरे नंबर पर है। उनके पिता ने बचपन में ही सहवाग की क्रिकेट के प्रति लगन को जान लिया था और उन्होंने सात महीने के सहवाग को खिलौने वाली बैट लाकर दी थी।

उन्होंने भारत की ओर से पहला वनडे मैच 1999 में और पहला टेस्ट मैच 2001 में खेला था। साल 2004 में उन्होंने आरती से शादी की और उससे उनके दो पुत्र भी हैं। वे अपने परिवार के साथ दिल्ली के नजफगढ इलाके में रहते हैं।

वीरेंद्र सहवाग का क्रिकेट करियर

वीरेंद्र सहवाग भारत की ओर से 104 टेस्ट मैचों में 47.34 के औसत और 82.34 के स्ट्राइक रेट से 8586 रन बनाए हैं। वहीं 251 वनडे मैचों में 35.05 की औसत और 104.33 के स्ट्राइक रेट से 8273 रन बनाए हैं।

वीरेंद्र सहवाग ने छह दोहरे शतक लगाए हैं। वीरेंद्र सहवाग के नाम टेस्ट क्रिकेट में 23 शतक और 32 अर्धशतक दर्ज हैं जबकि वनडे क्रिकेट में उन्होंने 15 शतक और 38 अर्धशतक लगाए हैं।

सहवाग ने टेस्ट क्रिकेट में दो तिहरे शतक भी लगाए हैं। वीरू के नाम अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 17,000 से भी अधिक रन दर्ज है। भारत सरकार ने साल 2002 में वीरेन्द्र सहवाग को अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित किया।

Share it
Top