Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पश्चिम बंगाल: नकली वैक्सीनेशन घोटाले मामले में दो व्यक्ति गिरफ्तार, एक था फर्जी IAS का बॉडीगार्ड

देबंजन देब के अलावा कोलकाता में नकली वैक्सीन घोटाला मामले में एक इंद्रजीत शॉ नाम के व्यक्ति को भी गिरफ्तार किया गया है।

पश्चिम बंगाल: नकली वैक्सीनेशन घोटाले मामले में दो व्यक्ति गिरफ्तार, एक था फर्जी IAS का बॉडीगार्ड
X

भारत में कोरोना वायरस के खात्मे के लिए बड़े पैमाने पर वैक्सीनेशन का कार्य किया जा रहा है। लेकिन इसी बीच कुछ लोग आपदा में अवसर तलाश रहे हैं। ऐसा ही एक मामला पश्चिम बंगाल से सामने आया है। यहां पर नकली वैक्सीनेशन के मामले में दो व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया है। राज्य में विभिन्न राजनीतिक पार्टियों के द्वारा एक-दूसरे के ऊपर आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला भी जारी है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, हाई प्रोफाइल फेक वैक्सीनेशन घोटाले में बीती रात एक व्यक्ति को गिरफ़्तारी किया गया है। व्यक्ति को फेक आईएएस अधिकारी देबंजन देब का बाडीगार्ड बताया जा रहा है। पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में नकली वैक्सीन घोटाले के संबंध में गिरफ्तार किए गए व्यक्ति का नाम अरबिंदा बैद्य बताया जा रहा है। अरबिंदा बैद्य नकली आईएएस अधिकारी देबंजन देब के सुरक्षाकर्मी के रूप में तैनात था।

इंद्रजीत शॉ निभाई थी अहम भूमिका

समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार, देबंजन देब के अलावा कोलकाता में नकली वैक्सीन घोटाला मामले में एक इंद्रजीत शॉ नाम के व्यक्ति को भी गिरफ्तार किया गया है। आरोपी देब का कर्मचारी था और कोलकाता के सिटी कॉलेज में टीकाकरण शिविर आयोजित करने में उसकी अहम भूमिका थी।

जानकारी के लिए आपको बता दें कि पिछले महीने यानी 21 जून को जब देश भर में मास वैक्सीनेशन ड्राइव का आयोजन किया गया था। उसी दिन मौके का फायदा उठा कर कुछ असामाजिक तत्वों ने नकली वैक्सीनेशन कैंपों का आयोजन किया था। इसी क्रम में देबंजन देब नाम के व्यक्ति जो खुद को एक आईएएस अफसर बता रहा था, ने एक नकली वैक्सीनेशन कैंप का आयोजन किया था।

Next Story