Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Balakot Air Strike : पुलवामा हमले का भारतीय वायुसेना ने ऐसे लिया था बदला, इस वजह से चुना गया था बालाकोट'

Balakot Air Strike: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि मैं अपने सीने में ठीक वैसी ही आग महसूस कर रहा हूं, जैसी आग आप महसूस कर रहे हैं। उन्होंने कहा था कि हर आंसू का बदला लिया जाएगा।

Balakot Air Strike: जब आधी रात को भारत ने लिया था पुलवामा हमले का बदला, ऐसे बनाई थी योजनाBalakot Air Strike: जब आधी रात को भारत ने लिया था पुलवामा हमले का बदला

Balakot Air Strike: पुलवामा हमले को 14 फरवरी 2019 को अंजाम दिया गया था जब 78 वाहनों का काफिला जम्मू से श्रीनगर जा रहा था। उन 78 वाहनों में 2500 जवान मौजूद थे। जैसे ही यह काफिला नेशनल हाइवे 44 के पास पहुंचा, एक एसयूवी आकर एक बस से टकरा गई।

एसयूवी में 350 किलो की विस्फोटक सामग्री थी। जिस बस से एसयूवी टकराई, उस बस में 76वीं बटालियन के जवान मौजूद थे। एसयूवी के टकराते ही बस में तेज धमाका हुआ और कुछ ही देर में सड़क पर शवों का ढ़ेर लग गया।

यह घटना 14 फरवरी के दोपहर 3.30 बजे की है। धमाकों की आवाज इतनी भयानक थी कि कुछ देर के लिए आसपास में सन्नाटा छा गया था। लेकिन जब तक बाकी जवान उस हादसे को समझ पाते, 40 से ज्यादा जवान शहीद हो चुके थे।

जिसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि मैं अपने सीने में ठीक वैसी ही आग महसूस कर रहा हुं, जैसी आग आप महसूस कर रहे हैं। उन्होंने कहा था कि हर आंसू का बदला लिया जाएगा।

बनाई थी योजना

पुलवामा हमले के अगले दिन से ही बदले की योजना बननी शुरू हो गई थी। जब एयरफोर्स के चीफ बीएस धनोआ ने एयरस्ट्राइक की योजना सरकार के सामने रखी थी। उन्होंने सरकार को अपनी योजना से अगले ही दिन अवगत करवाया और सरकार ने भी योजना पर अपनी मुहर लगा दी।

जिसके बाद सर्विलांस का काम शुरू हो गया। 16 फरवरी से 20 फरवरी के बीच एलओसी के आसपास के इलाके में नजर रखी गई। एयरफोर्स के साथ-साथ दूसरी खुफिया एजेंसियों नें भी आतंकी संगठनों के ठिकानों की खबर जुटाई। जिसके बाद 22 फरवरी को नेशनल सिक्योरिटी एडवाइजर अजीत डोभाल के द्वारा टारगेट की पुष्टि की गई और सरकार को इसकी खबर दी गई।

उन्होंने सभी बिंदुओं पर गौर किया और सरकार को हमले के सभी विकल्पों की जानकारी दी। उसी दिन हमले के लिए मिशन को एक्टिवेट कर दिया गया। 22 से 24 फरवरी के बीच में एयरफोर्स नें अपने वन स्कॉड्रन टाइगर्स, सेवन स्कॉड्रन बैटल ऐक्सेज़ और मिराज स्कॉड्रन के 12 जेट को तैयार करवाया।

26 फरवरी को किया गया हमला

24 फरवरी को ट्रायल के बाद 26 फरवरी के दिन को हमले के लिए तय किया गया। फिर पाकिस्तान को खबर लगे बिना अंधेरी रात में सुबह 3 बजे बालाकोट में इंडियन एयरफोर्स के जेट ने बालाकोट के आतंकी ठिकानों पर हमला किया और उन ठिकानों का नामोनिशान मिटा दिया।

Next Story
Top