Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

TIPS: तनाव से बचने के लिए करें ये आसान उपाय

आनुवांशिकता पर हुए शोध इस बात का इशारा करते हैं कि आनुवंशिकता अन्य घटकों के साथ जुडकर अवसाद के खतरे को और अधिक बढ़ा देते हैं।

TIPS: तनाव से बचने के लिए करें ये आसान उपाय
X

अधिकतर बीमारी का कारण तनाव यानि स्ट्रेस ही को माना जाता हैं। तनाव से मधुमेह रोगियों की स्थिति बिगड़ती है, क्योंकि तनाव शुगर लेवल को बढाता है; तनाव से ब्लड प्रेशर बढ़ता है, स्ट्रेस अटैक आता है, सर दर्द होता है एवं अन्य कई गंभीर बीमारियां होती हैं।

तनावग्रस्त व्यक्ति का मन भी किसी काम को करने में पूरी तरह नहीं लगता एवं वह अपनी क्षमता के अनुसार किसी कार्य को पूरा नहीं कर पाता। अतः तनाव से बचना चाहिए। यहां हम तनाव से बचने के कुछ उपाय बता रहे हैं।

अपनी क्षमता से ज्यादा काम न लें

कुछ लोगों को जितना भी काम मिलता जाता है, लालच में लेते जाते हैं। ज्यादा मेहनत करना अच्छी बात है, लेकिन अपने हाथ में काम उतना हीं लें, जितना आप बिना किसी तनाव में आए समय पर पूरा कर सकें।

अपनी क्षमता से ज्यादा ऑर्डर या काम लेने से आप काम करते वक्त तनाव में रहेंगे, जिससे आपके साथ साथ आपके घरवाले भी तनाव में रहेंगे।

जिसका बुरा प्रभाव सब पर पड़ेगा और आपके काम कि क्वालिटी भी ख़राब होगी। जिसके चलते आपको अलग से तनाव झेलना होगा।

तनाव मन को बहालाएं

आज के ज़माने में घर की जरूरतें पूरी करने के लिए कई लोगों को ज्यादा से ज्यादा काम करने की जरूरत होती है।

लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि आप हर वक़्त सिर्फ काम हीं करते रहें। सिर्फ काम करते रहने से आपकी स्फूर्ति कम होती जाएगी और आप पर तनाव हावी होता जाएगा।

इसलिए आप चाहे जितना भी काम करें, कुछ समय के लिए मन बहलाने वाली चीजों में भी मन लगाएं। इससे आप तनाव से बचे रहेंगे, साथ हीं साथ आपकी कार्य क्षमता भी बढ़ेगी।

म्यूजिक सुनें, फ़िल्म देखें, कोई खेल खेलें, दोस्तों या परिवार के साथ या अपने किसी खास दोस्त के साथ गप्पे लड़ाएं या कही घूमने जाएं या किसी अन्य गतिविधि में लिप्त हों जिसमें आपका मन लगता हो।

व्यायाम, योग और ध्यान लाभकारी

नियमित रूप योग, व्यायाम या ध्यान करते रहने से आप तनाव से बचे रहेंगे। स्ट्रेस से बचना है तो आपको पर्याप्त नींद लेनी होगी।

अपर्याप्त नींद तनाव के साथ साथ ब्लड शुगर, ब्लड प्रेशर बढाती है एवं कई रोगों को भी जन्म देती है। पानी पीने से तनाव बहुत कम होता है। अतः जब भी आप तनाव में हों, पानी पीएं। भरपूर पानी पीते रहने से तनाव आपसे दूर हीं रहता है।

कारण-

बसने की प्रवृर्ति पाई जाती है, जिससे कि इस रोग को आनुवंशिकता से भी जोड़ा जा सकता है। हालांकि अवसाद के शिकार वे लोग भी बन सकते हैं, जिनके परिवार का कोई भी सदस्य अवसाद से पीड़ित नहीं है।

आनुवांशिकता पर हुए शोध इस बात का इशारा करते हैं कि आनुवंशिकता अन्य घटकों के साथ जुडकर अवसाद के खतरे को और अधिक बढ़ा देते हैं।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story
Top