Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

एक्सपर्ट एडवाइस: इन तरीकों से झटपट दूर करें डार्क सर्कल्स

उम्र बढ़ने के साथ फेस पर डार्क सर्कल होना कॉमन है। लेकिन प्रॉपर केयर न करने पर यंग एज में ही डार्क सर्कल्स हो सकते हैं। आप चाहें, तो कुछ सरल घरेलू उपायों और खास तरह के ब्यूटी ट्रीटमेंट्स को अपनाकर इन्हें दूर कर सकती हैं।

एक्सपर्ट एडवाइस: इन तरीकों से झटपट दूर करें डार्क सर्कल्स

उम्र बढ़ने के साथ फेस पर डार्क सर्कल होना कॉमन है। लेकिन प्रॉपर केयर न करने पर यंग एज में ही डार्क सर्कल्स हो सकते हैं। आप चाहें, तो कुछ सरल घरेलू उपायों और खास तरह के ब्यूटी ट्रीटमेंट्स को अपनाकर इन्हें दूर कर सकती हैं। श्री बालाजी एक्शन मेडिकल इंस्टीट्यूट, दिल्ली की सीनियर डर्मेटोलॉजिस्ट डॉ. विजय सिंघल इस बारे में बता रही हैं।

अगर आप पूरी नींद ले रही हैं, न्यूट्रीशस डाइट ले रही हैं फिर भी डार्क सर्कल हो रहे हैं, तो यह किसी गंभीर स्वास्थ्य समस्या का संकेत भी हो सकता है। साथ ही डार्क सर्कल आपकी ब्यूटी को कम करते हैं। इसको मेडिकल लैंग्वेज में पेरीआर्बिटल हाइपर पिग्मेंटेशन कहते हैं। डार्क सर्कल्स की प्रॉब्लम से निजात पाना बहुत आसान है। बस, शुरुआती दौर में ही इनके ट्रीटमेंट, केयर को लेकर अलर्ट रहना होगा।

क्या हैं कारण

अकसर महिलाएं सोचती हैं कि आंखों के नीचे जो काले घेरे होते हैं, उनका कारण नींद की कमी, थकान या घंटों तक कंप्यूटर स्क्रीन पर काम करना है। लेकिन अध्ययनों में यह बात सामने आई है कि एनीमिया, लीवर डिसीजेज और डिहाइड्रेशन के कारण भी डार्क सर्कल्स हो सकते हैं।

डार्क सर्कल होने के प्रमुख कारणों में सम्मिलित हैं-बढ़ती उम्र, पोषक तत्वों की कमी, नींद की कमी और थकान, धूम्रपान या शराब का सेवन, सूर्य के प्रकाश में अधिक समय बिताना, हार्मोन परिवर्तन, एलर्जी, एनीमिया, डिहाइड्रेशन, लीवर की बीमारियां, आनुवांशिक कारण और कई दवाइयों के साइडइफेक्ट्स। इसके लिए जरूरी है कि डाइट का पूरा ख्याल रखा जाए।

यह भी पढ़ें: इन तरीकों से करें पुरानी ज्वैलरी की देखभाल, दिखेंगी हमेशा नई

घरेलू उपाय

  • बादाम के तेल और शहद को अच्छीतरह मिलाकर सोने के पहले आंखों के आस-पास लगाएं और पूरी रात लगे रहने दें।
  • ताजी पुदीने की पत्तियों का पेस्ट बना लें और उसमें कुछ बूंदें नीबू के रस की मिला लें। इस मिश्रण को काले घेरों पर रोज रात में 10-15 मिनट के लिए लगा लें।
  • आलू और खीरे के रस को मिलाएं, इसमें रूई डुबाएं और उसे करीब 20 मिनट आंखों को बंद कर उसकी पलकों पर रखें, फिर ठंडे पानी से धो लें।
  • खीरे की स्लाइस या टी बैग को पानी में भिगोकर आंखों की पलकों पर करीब 20 मिनट तक रखें, इसके बाद ठंडे पानी से आंखें धो लें।
  • कच्चे आलू को कद्दूकस कर काले घेरों पर लगाएं। आधे घंटे बाद आंखें ठंडे पानी से धो लें और मॉयश्चराइजर लगा लें।
  • बादाम या जैतून के तेल से आंखों के आस-पास हल्के हाथों से मालिश करें इससे रक्त संचार ठीक रहता है और आंखों की थकान भी कम होती है।

यह भी पढ़ें: शरीर में विटामिन की कमी आपकी खूबसूरती को करती है फीका, जानिए कैसे और उपाय

अन्य उपचार

कई ऐसे उपचार भी उपलब्ध हैं, जिनसे डार्क सर्कल्स से पूरी तरह से छुटकारा मिल सकता है। यह ट्रीटमेंट इस बात पर डिपेंड करता है किकाले घेरों का कारण क्या है।

सबसे पहले किसी अच्छे त्वचा रोग विशेषज्ञ को दिखाएं, जिससे इसका कारण समझ में आए। इसके बाद इनके उपचार का विकल्प चुनें। कोई भी उपचार किसी अच्छे त्वचा रोग विशेषज्ञ की निगरानी में ही कराएं।

अगर डार्क सर्कल्स ज्यादा गहरे नहीं हैं, तो डॉक्टर आपको कोई अंडर आई जेल या क्रीम दे सकते हैं, जिन्हेंरात को सोने से पहले आंखों के आस-पास काले घेरों पर लगाना होता है।

डार्क सर्कल्स के उपचार के लिए लेजर रिसर्फेसिंग और इंटेंस पल्स्ड लाइट ट्रीटमेंट, केमिकल पील्स, इंजेक्टेगबल डर्मल फीलर प्रोसीजर्स और फैट ट्रांसफर तरीकों का इस्तेमाल भी किया जाता है।

Next Story
Share it
Top