Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

मानसून में मन को क्यों मारें...घूमें फिरें और मस्ती करें...

मानसून के मौसम में घूमना वहीं ज्यादा अच्छा रहता है जहां ज्यादा बारिश न होती हो।

मानसून में मन को क्यों मारें...घूमें फिरें और मस्ती करें...
नई दिल्ली. बारिश के मौसम में ज्यादातर लोग बाहर निकलने से बचते हैं लेकिन मन तो उनका करता ही है बारिश के इस सुहाने मौसम का मजा लिया जाए। लेकिन कुछ को बाहर भीगने का डर लगता है तो किसी को सर्दी का डर लगता है। अधिकतर लोगों को बारिश में सिर्फ नहाना पसंद है। कहीं घूमने के नाम पर यह डर सताता है कि कहीं कीचड़ में सन गए या बारिश में फंस गए तो क्या होगा । पर बारिश में यह डर सिर्फ कुछ लोगों को लगता है कुछ के लिए तो बारिश होती ही घूमने के लिए है। बारिश की मस्ती में नहाने का अंदाज ही अलग होता है।
मानसून में घूमने की तो बहुत सारी जगहें हैं लेकिन इस मौसम में ऐसे स्थानों का चुनाव अच्छा रहता है जहां ज्यादा बारिश न हो रही हो जैसे राजस्थान आदि। इसके साथ यह कहना भी गलत नहीं होगा कि केरल जैसे राज्यों में घूमने का सर्वोत्तम मौसम भी मानसून का ही है। आपको बताते है ऐसी कुछ जगह के बारे में जहां बरसात में घूमने से मजा दुगना हो सकता है।
गोवा
गोवा भारत का सबसे ज्यादा खूबसूरत समुद्र तट है। एक ऐसी जगह जहां देश के ही नहीं बल्कि विदेशों से भी लोग घूमने आते हैं. अगर आप गर्मी में यहां जाएंगे तो भीड़ मजा खराब कर देगी और सर्दी में सर्द हवाएं इसलिए मानसून सबसे उपयुक्त मौसम है गोवा की सैर के लिए गोवा के बेहतरीन बीच की लंबी कतार कलंगुट बीच से लेकर बागा बीच, मीरामार बीच, दोनापाउला और कोलवा बीच तक फैली है जहां मानसून के वक्त पर्यटक विशेष तौर पर आते हैं। लेकिन यह नहीं कि यहां मात्र समुद्र तट ही है बल्कि यह शहर अपने मशहूर चर्चों और मंदिरो के लिए भी प्रसिद्ध है।
केरल में मौसम में अलग ही मजा
केरल में घूमने का मजा तब और भी ज्यादा हो जाता है जब बरसात हो रही हो. केरल चारों तरफ से जंगल, नयनाभिराम पर्वत शिखर, वेगवती नदियां, समुद्री झीलें और ताल-तलैया, झरने और सुरम्य सागरतट तथा जबर्दस्त हरियाली से भरा-पूरा है। केरल को ऐसे मौसम में देख कर तो ऐसा लगता है जैसे प्रकृति ने अपनी पूरी हथेली यहां खोल दी हो। सागर तट हो या नदी की चाल हर तरफ पानी ही पानी। इसके साथ ही आप केरल में पर्यटन के साथ स्वास्थ्य पर्यटन का भी लाभ उठा सकते हैं।
नीचे की स्लाइड्स में पढिए, खबर से जूड़ी अन्य जानकारी -
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

Share it
Top