Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

जानिए कॉलेस्ट्रॉल से जुड़ी खास बातें, जो आपके दिल को हमेशा रखेगी स्वस्थ

आजकल बहुत से लोगों का कोलेस्ट्रॉल लेवल डिसबैलेंस हो जा रहा है।

जानिए कॉलेस्ट्रॉल से जुड़ी खास बातें, जो आपके दिल को हमेशा रखेगी स्वस्थ
दिल्ली. बिजी लाइफस्टाइल और अपनी डाइट को लेकर कॉन्शस न रहने से आजकल बहुत से लोगों का कॉलेस्ट्रॉल लेवल डिसबैलेंस हो जाता है। ऐसा होने की स्थिति में हार्ट रिलेटेड या दूसरी तरह की प्रॉब्लम्स होने की संभावना बढ़ जाती है। लेकिन कम ही लोगों को यह पता है कि यह हमारी बॉडी के प्रॉपर फंक्शनिंग के लिए बहुत जरूरी होता है। हमारी बॉडी के कई ऐसे फंक्शंस हैं, जिनमें कॉलेस्ट्रॉल की जरूरत पड़ती है। लेकिन बॉडी में कॉलेस्ट्रॉल की इंपॉर्टेंस को समझते हुए, प्रॉपर सावधानी के जरिए हम इसे मेंटेन कर सकते हैं।

क्या है कॉलेस्ट्रॉल
कॉलेस्ट्रॉल एक प्रकार का लिपिड (फैट) है, जो लीवर द्वारा उत्पन्न होता है। यह हर एक सेल के आउटर लाइनिंग में मौजूद होता है। असल में यह एक स्मूद स्टेरॉयड है, जो ब्लड प्लाज्मा के साथ हमारी पूरी बॉडी में सकरुलेट होता है।
टाइप्स
हमारी बॉडी में दो प्रकार के कॉलेस्ट्रॉल पाए जाते हैं, लो डेंसिटी लिपोप्रोटीन और हाई डेंसिटी लिपोप्रोटीन।
लो डेंसिटी लिपोप्रोटीन (एलडीएल)
इसे बैड कॉलेस्ट्रॉल कहते हैं, क्योंकि यह कोरोनरी हार्ट डिजीज और स्ट्रोक का प्रमुख कारण होता है। हमारे ब्लड में इसकी मात्रा लगभग 70 प्रतिशत होती है। एलडीएल, कॉलेस्ट्रॉल को लीवर से सीधे सेल्स में ले जाता है। सेल्स में ज्यादा मात्रा में इसके एकत्र हो जाने के कारण ही हमारी आर्टरीज नैरो यानी संकरी हो जाती हैं। इस वजह से ब्लड सकरुलेशन सुचारु रूप से नहीं हो पाता है। ब्लड सकरुलेशन में आई इस बाधा के कारण हार्ट प्रॉब्लम होने की संभावना बढ़ जाती है।
हाई डेंसिटी लिपोप्रोटीन (एचडीएल)
इसे गुड कॉलेस्ट्रॉल माना जाता है। स्पेशलिस्ट मानते हैं कि यह कोरोनरी हार्ट डिजीज और स्ट्रोक से हमें बचाता है। एचडीएल का काम एलडीएल के ठीक उलट होता है। एचडीएल, कॉलेस्ट्रॉल को सेल्स से वापस लीवर में ले जाता है। लीवर में आने के बाद कॉलेस्ट्रॉल या तो टूट जाता है या वेस्ट प्रोडक्ट के साथ शरीर से बाहर निकल जाता है। इस कारण हमारे ब्लड में कॉलेस्ट्रॉल जमा नहीं होने पाता है। नतीजा हमारा हार्ट हेल्दी बना रहता है।
नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, अन्य जानकारी -
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top