Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

भूलकर भी नजरअंदाज न करें ये लक्षण, वरना फेफड़ों के कैंसर से जा सकती है जान

इन दिनों फेफड़ों के कैंसर (Lung Cancer) के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। रिपोर्ट्स की मानें तो अकेले भारत में सभी नए कैंसर मामलों में फेफड़ों का कैंसर 6.9 प्रतिशत है, जिसका धूम्रपान और वायु प्रदूषण प्रमुख कारण है। अगर समय से इसका इलाज कराया जाए तो व्यक्ति की जान बच सकती है।

भूलकर भी नजरअंदाज न करें ये लक्षण, वरना फेफड़ों के कैंसर से जा सकती है जान
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

Lung Cancer: इन दिनों फेफड़ों के कैंसर (Lung Cancer) के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। रिपोर्ट्स की मानें तो अकेले भारत में सभी नए कैंसर मामलों में फेफड़ों का कैंसर 6.9 प्रतिशत है, जिसका धूम्रपान और वायु प्रदूषण प्रमुख कारण है। अगर समय से इसका इलाज कराया जाए तो व्यक्ति की जान बच सकती है।

विशेषज्ञों के मुताबिक, फेफड़ों के कैंसर के शुरुआती लक्षणों में से एक का पता आपके खांसने के तरीके से लगाया जा सकता है, जो लोग धूम्रपान करते हैं, उनमें फेफड़ों के कैंसर होने का खतरा ज्यादा रहता है, इसलिए उन्हें कुछ संकेतों को हल्के में नहीं लेना चाहिए।

फेफड़ों के लक्षण (Lung Cancer Symptoms)

-खांसी

- खांसी के साथ खूनी या जंग के रंग का बलगम या कफ

-सांस लेने में तकलीफ

-सीने में दर्द

-ब्रोंकाइटिस

-निमोनिया

क्या कहते हैं एक्सपर्ट्स

एक्सपर्ट्स का कहना है कि यदि आप ज्यादातर समय खांसी की समस्या से जूझते हैं या लंबे समय से खांसी में कोई बदलाव आया है, तो यह फेफड़ों में कैंसर कोशिकाओं के बढ़ने का भी संकेत हो सकता है। फेफड़ों के कैंसर से पीड़ित होने पर आपकी खांसी अलग लगने लगती है या खांसते या बोलते समय आपको दर्द महसूस हो सकता है।

हर व्यक्ति में दिखते हैं अलग लक्षण

फेफड़े के कैंसर से पीड़ित सभी लोगों को खांसते समय या ऐसा कोई परिवर्तन देखने में समस्या नहीं होती है। लक्षण एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में भिन्न होते हैं, इसलिए इस स्थिति के अन्य लक्षणों के बारे में भी पता होने चाहिए। फेफड़ों के कैंसर के कुछ अन्य स्पष्ट संकेत हैं:

-स्वर बैठना

-भूख में कमी

-बिना वजह वजन घटना

-थकान

कब करना चाहिए डॉक्टर से संपर्क

एक्सपर्ट्स का कहना है कि यदि आपको खांसी 4 हफ्ते से ज्यादा दिन तक रहती है और खांसी में बदलाव होता है तो आपको हल्के में नहीं लेना चाहिए। तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

Next Story