logo
Breaking

सर्दियों में भूलकर भी ना करें ये काम, बढ़ सकता है ''कैंसर का खतरा''

देश में सर्दी (Cold) का सितम जारी है। ऐसे में हर कोई बस ज्यादा से ज्यादा समय रजाई (Blanket) में बिताना चाहता है। लेकिन एक शोध (Research) के मुताबिक रोजाना ऐसा करना आपको एक गंभीर परेशानी में डाल सकता है। जी हां, अगर आप सर्दियों के सीजन (Winter Season) में खुद को हमेशा रजाई (Blanket) में रहकर खुद को ठंड (Cold) से बचाते हैं, तो आपकी इस सोच को एक स्टडी (Study) ने गलत साबित कर दिया है। हाल ही में एक स्टडी (Study)के मुताबिक, अगर आप सर्दियों (Winter) में खुद को रजाई (Blanket) में ज्यादा सोना पंसद करते हैं, तो आपको कैंसर जैसी गंभीर बीमारी हो सकती है।

सर्दियों में भूलकर भी ना करें ये काम, बढ़ सकता है

cancer symptoms causes disease treatment

देश में सर्दी (Cold) का सितम जारी है। ऐसे में हर कोई बस ज्यादा से ज्यादा समय रजाई (Blanket) में बिताना चाहता है। लेकिन एक शोध (Research) के मुताबिक रोजाना ऐसा करना आपको एक गंभीर परेशानी में डाल सकता है। जी हां, अगर आप सर्दियों के सीजन (Winter Season) में खुद को हमेशा रजाई (Blanket) में रहकर खुद को ठंड (Cold) से बचाते हैं, तो आपकी इस सोच को एक स्टडी (Study) ने गलत साबित कर दिया है। हाल ही में एक स्टडी (Study)के मुताबिक, अगर आप सर्दियों (Winter) में खुद को रजाई (Blanket) में ज्यादा सोना पंसद करते हैं, तो आपको कैंसर (Cancer) जैसी गंभीर बीमारी हो सकती है। इसलिए आज हम आपको इस ऐसी स्टडी (Study) या शोध (Research) के बारे में बता रहे हैं। जिससे आप वक्त रहते संभल जाए और सर्दियों में लंबे समय तक रजाई में सोने की आदत को छोड़कर कैंसर (Cancer) की बीमारी के खतरे को कम कर सकें।

यूरोपियन हार्ट जर्नल (European Heart Journal) में प्रकाशित स्टडी (Study) की रिपोर्ट के मुताबिक, 6 या 8 घंटे से ज्यादा समय तक सोने से दिल की बीमारी (Heart Disease) होने के साथ-साथ जल्दी मौत (Death) होने का खतरा भी बढ़ता है। स्टडी (Study) की रिपोर्ट(Report) में यह भी बताया गया है कि भरपूर नींद अच्छी सेहत (Health) के लिए बहुत महत्वपूर्ण होती है। लेकिन जरूरत से ज्यादा सोने (Excessive Sleeping) से सेहत (Health) को नुकसान पहुंचता है। दरअसल, नींद व्यक्ति की सेहत को गंभीर रूप से प्रभावित करती है। कई स्टडी (Study) की रिपोर्ट(Report) में भी यह बात साबित हो चुकी है कि जरूरत से ज्यादा सोने (Excessive Sleeping) से दिल की बीमारी (Heart Disease) के साथ समय से पहले मौत (Death) होने का खतरा भी बढ़ जाता है।

इस स्टडी (Study) में शोधकर्ताओं ने 21 अलग-अलग आय के देशों के 1,16,632 लोगों के स्लीप डेटा (Sleep Data) की जांच की। इनमें 4 अधिक आय वाले देश जैसे- कनाडा (Canada)स्वीडन (Sweden), सऊदी अरब (Saudi Arabia) और यूनाइटेड अरब एमायरेट्स, 12 मध्य आय के देश, जिनमें, (Argentina,), ब्राजील ( Brazil,), चिली, चीन(China), कोलंबिया, ईरान(Iran), मलेशिया, फिलीस्तीन फिलीपींस, पोलैंड, साउथ अफ्रीका(South Africa) और तुर्की (Turkey) शामिल हैं। इसके अलावा स्टडी में 5 कम आय वाले देश- बांग्लादेश (Bangladesh), भारत(India),पाकिस्तान(Pakistan), तंजानिया (Tanzania ) और जिम्बाब्वे के लोगों को भी शामिल किया गया।

स्टडी(Study) में शामिल सभी देशों के लोगों से उनकी आर्थिक स्थिति, लाइफस्टाइल(lifestyle), सोने का समय, स्मोकिंग (smoking), अल्कोहल(alcohol), फिजिकल एक्टिविटी (physical activity), डाइट (Diet) और बीमारी (Disease) से संबंधी सवाल पूछे। नतीजों में सामने आया जो लोग रोजाना 8 घंटे से ज्यादा की नींद ( Sleep) लेते हैं, उनमें हार्ट अटैक (Heart Attack) और स्ट्रोक (Stroke) होने का खतरा अधिक होता है। साथ ही ऐसे लोगों में जल्दी मौत (Death) होने का खतरा भी 41 फीसदी तक बढ़ जाता है। स्टडी (Study) की रिपोर्ट (Report) के मुताबिक, व्यक्ति को सिर्फ 6 से 8 घंटे तक ही सोना चाहिए।

Share it
Top