Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

कोच पोवार के आरोप के बाद मिताली का छलका दर्द, कहा- मेरी देशभक्ति पर संदेह किया जा रहा

महिला टी-20 विश्व कप में इंग्लैंड के खिलाफ सेमीफाइनल में दिग्गज भारतीय खिलाड़ी मिताली राज को टीम से बाहर बैठाने का विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा। कोच रमेश पोवार के गंभीर आरोप के बाद मिताली राज ने ट्वीट करते हुए अपना दर्द बयां किया है।

कोच पोवार के आरोप के बाद मिताली का छलका दर्द, कहा- मेरी देशभक्ति पर संदेह किया जा रहा

महिला टी-20 विश्व कप में इंग्लैंड के खिलाफ सेमीफाइनल में दिग्गज भारतीय खिलाड़ी मिताली राज को टीम से बाहर बैठाने का विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा।ताजा मामले में टीम के कोच रमेश पोवार ने मिताली राज पर टीम में फूट डालने के अलावा कोचों पर दबाव डालने और ब्लैकमेल करने का आरोप लगाया है।

साथ ही उन्होंने कहा कि मिताली ने वर्ल्ड कप बीच में ही छोड़ने की धमकी दी थी। रमेश पोवार के इस गंभीर आरोप के बाद मिताली राज ने ट्वीट करते हुए लिखा- ‘मुझ पर लगाए गए आरोपों से मैं दुखी हूं।

इसे भी पढ़ें: मिताली राज के आरोप के बाद कोच रमेश पोवार का पलटवार, मिताली पर लगाए गंभीर आरोप

खेल के प्रति मेरा समर्पण और देश के लिए 20 साल तक खेलना, कड़ी मेहनत करना, पसीना बहाना, सब व्यर्थ गया। आज मेरी देशभक्ति पर संदेह किया जा रहा है। मेरे स्किल्स पर सवाल उठाए गए हैं। सब कुछ मिट्टी में मिल गया। यह मेरे जीवन का सबसे खराब दिन है। ईश्वर मुझे शक्ति दे।

जानें इस मामले में अब तक क्या क्या हुआ

मिताली राज ने कोच रमेश पोवार पर लगाए आरोप

इंग्लैंड के खिलाफ टी20 विश्व कप सेमीफाइनल से बाहर करने पर अपनी चुप्पी तोड़ते हुए मिताली ने बीसीसीआई को लिखे ईमेल में कहा कि अपने दो दशक से अधिक के करियर में उसने इतना अपमानित कभी महसूस नहीं किया और वह अपने आंसू नहीं रोक सकी।

पोवार के बारे में उसने कहा कि ऐसी कई घटनायें हुई जब उसने अपमानित महसूस किया। उसने कहा- वेस्टइंडीज पहुंचते ही कोच के साथ मसले शुरू हो गए थे। पहले छोटी छोटी बातें से संकेत मिलता था कि मेरे प्रति उनका रवैया पक्षपातपूर्ण है।

मसलन यदि मैं कहीं आसपास बैठी हूं तो वह निकल जाते थे या दूसरों को नेट पर बल्लेबाजी करते समय देखते थे लेकिन मैं बल्लेबाजी कर रही हूं तो नहीं रूकते थे। मैं उनसे बात करने जाती तो फोन देखने लगते या चले जाते। उसने कहा- यह काफी अपमानजनक था और सभी को दिख रहा था कि मुझे अपमानित किया जा रहा है। इसके बावजूद मैने अपना आपा नहीं खोया।

कोच रमेश पोवार ने मिताली राज पर लगाए आरोप

रमेश पोवार ने बीसीसीआई के सीईओ राहुल जौहरी और जनरल मैनेजर सबा करीम को भेजी दस पेज की अपनी रिपोर्ट में मिताली राज पर टीम में फूट डालने के अलावा कोचों पर दबाव डालने और ब्लैकमेल करने का आरोप लगाया है।

रमेश पोवार ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि मिताली ने अपनी भूमिका की अनदेखी करते हुए निजी उपलब्धियों के लिए बल्लेबाजी की। इस कारण बैटिंग में एक फ्लो या लय नहीं बन सकी। और इससे बाकी दूसरे बल्लेबाजों पर अतिरिक्त दबाव बढ़ गया।

पोवार ने कहा- टीम में सकारात्मक माहौल बनाए रखने के लिए टूर सेलेक्टर के दबाव के कारण हमने पाकिस्तान के खिलाफ मिताली राज से पारी की शुरुआत कराई। मिताली राज धमकी देती रहीं कि अगर उनसे पारी की शुरुआत नहीं कराई गई, तो वह वापस घर लौट जाएंगी।

उन्होंने रिपोर्ट में लिखा- पाकिस्तान के खिलाफ मैच के बाद उनका एक अलग ही रवैया था। उन्होंने कुछ चुनिंदा खिलाड़ियों के साथ अपना ग्रुप बना लिया और टीम से दूर बैठने लगीं। बतौर कोच मैं इस बात से बहुत ही निराश और दुखी था कि मिताली जैसी लीजेंड खिलाड़ी टीम को दो ग्रुप में बांट रही थीं।

Share it
Top