Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

IPL 2018: मुंबई इंडियन्स के खिलाफ कोलकाता नाइटराइडर्स ने बनाया ये मास्टर प्लान, आज होगी भिड़ंत

पिछले तीन साल से मुंबई इंडियन्स के हाथों लगातार हार झेलने वाला मेजबान कोलकाता नाइटराइडर्स बुधवार को कोलकाता अपने इस प्रतिद्वंद्वी के खिलाफ होने वाले मैच में हार का क्रम तोड़कर आईपीएल अंकतालिका में अपनी स्थिति मजबूत करने की कोशिश करेगा।

IPL 2018: मुंबई इंडियन्स के खिलाफ कोलकाता नाइटराइडर्स ने बनाया ये मास्टर प्लान, आज होगी भिड़ंत
X

पिछले तीन साल से मुंबई इंडियन्स के हाथों लगातार हार झेलने वाला मेजबान कोलकाता नाइटराइडर्स बुधवार को यहां अपने इस प्रतिद्वंद्वी के खिलाफ होने वाले मैच में हार का क्रम तोड़कर आईपीएल अंकतालिका में अपनी स्थिति मजबूत करने की कोशिश करेगा।

केकेआर ने अब तक आईपीएल के 11 सत्रों में मुंबई इंडियन्स के खिलाफ जो 21 मैच खेले हैं उनमें से 17 में उसे हार का सामना करना पड़ा। यह किसी एक आईपीएल टीम का किसी भी प्रतिद्वंद्वी के खिलाफ सबसे खराब रिकार्ड है।

वानखेड़े स्टेडियम में छह मई को खेले गये मैच में भी केकेआर को 13 रन से हार का सामना करना पड़ा जो उसकी मुंबई के हाथों लगातार सातवीं हार है।असल में केकेआर पिछले 1125 दिन से मुंबई को हराने में नाकाम रहा है।

उसने मुंबई इंडियन्स के खिलाफ आखिरी जीत आठ अप्रैल 2015 को हासिल की थी। यही नहीं केकेआर की लय जहां गड़बड़ा रही है वहीं आईपीएल की सबसे सफल फ्रेंचाइजी मुंबई ने सही समय पर लय हासिल की है।

हारने वाले के लिए प्लेऑफ कठिन होगा

इससे पहले 2015 में भी रोहित शर्मा की अगुवाई वाली टीम ने अपने आखिरी आठ में से सात मैच जीतकर खिताब जीता था और इस बार भी टीम वही चमत्कार दोहराने की कोशिश में होगी।

दोनों टीमों को अब लीग चरण में चार - चार मैच खेलने हैं लेकिन केकेआर ने पांच मैचों में जीत दर्ज की है जबकि मुंबई ने अब तक चार मैच ही जीते हैं। लेकिन कल जो भी टीम हारेगी उसकी प्लेऑफ में पहुंचने की राह कठिन हो जाएगी।

मुंबई के आठ व केकेआर के दस अंक

केकेआर के अभी दस और मुंबई के आठ अंक हैं। अगर केकेआर को मिथक तोड़ना है तो सुनील नारायण को बल्ले और गेंद दोनों से अच्छा प्रदर्शन करना होगा। शरीर में पानी की कमी के कारण नारायण को पिछले मैच में निचले क्रम में खेलना पड़ा और इससे उनकी टीम को 182 रन का लक्ष्य हासिल करने में मदद नहीं मिली।

नारायण का बल्ला कम चल रहा

नारायण फिर से पारी का आगाज करने पर ध्यान दे रहे होंगे। रोहित मुंबई की बल्लेबाजी के मुख्य स्तंभ हैं लेकिन नारायण के सामने उनका बल्ला कम चला है। इस कैरेबियाई गेंदबाज ने उन्हें छह बार आउट किया है। नारायण को हालांकि अन्य गेंदबाजों विशेषकर तेज गेंदबाजों से भी मदद की जरूरत है जो इस सत्र में प्रभाव नहीं छोड़ पाये हैं।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story