Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Sunday Special: IPL 2021 के दूसरे चरण में इन धुरंधरों पर निगाहें, पहले फेज में रहे थे पूरी तरह फ्लॉप

आईपीएल 2021 का दूसरा चरण काफी रोमांचक होने वाला है। कोरोना के कारण पहला चरण स्थगित हो गया था लेकिन उस दौरान टूर्नामेंट के कई मुकाबले खेले गए थे। इस

Sunday Special: IPL 2021 के दूसरे चरण में इन धुरंधरों पर निगाहें, पहले फेज में रहे थे पूरी तरह फ्लॉप
X

Sunday Special: 19 सितंबर से आईपीएल (IPL 14) के 14वें सीजन के दूसरे चरण का आगाज हो रहा है। इस टूर्नामेंट का पहला मुकाबला रोहित शर्मा (Rohit Sharma) की मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) और एमएस धोनी (MS Dhoni) की चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) के बीच खेला जाएगा। इस बार दूसरे चरण के मुकाबले यूएई (UAE) में खेले जाएंगे। आईपीएल 2021 का दूसरा चरण काफी रोमांचक होने वाला है। कोरोना के कारण पहला चरण स्थगित हो गया था लेकिन उस दौरान टूर्नामेंट के कई मुकाबले खेले गए थे। इस दौरान कई युवा खिलाड़ियों ने अपने कौशल का बेहतरीन प्रदर्शन दिखाते हुए सभी को प्रभावित किया। हालांकि कुछ ऐसे खिलाड़ी भी रहे जो अपने खेल से कमाल नहीं दिखा पाए। लेकिन दूसरे चरण में वह अच्छी शुरुआत के साथ वापसी करना चाहेंगे।

वहीं वो पांच खिलाड़ी जो आईपीएल के 14वें सीजन के पहले हाफ में कुछ खास कमाल नहीं कर पाए थे, लेकिन उनसे दूसरे हाफ में कई उम्मीदें हैं।

युजवेंद्र चहल (RCB)


इस लिस्ट में सबसे पहले आते हैं, आरसीबी के अनुभवी लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल, जो टीम के सबसे भरोसेमंद खिलाड़ियों में से एक हैं। हर बार जब कभी भी टीम को विकेट की सबसे ज्यादा जरूरत होती है, तो कप्तान विराट कोहली चहल पर ही भरोसा जताते हैं। लेकिन इस सीजन के पहले चरण में वह अपना कमाल दिखाने में नाकामयाब रहे। अबतक के सात मुकाबलों में वह केवल चार विकेट ही अपने नाम कर पाए हैं। वहीं पिछले साल 13वें सीजन में वह सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज थे। हालांकि यूएई की पिचों पर स्पिनर को काफी मदद मिलने की उम्मीद है। इसी के साथ चहल का यूएई में रिकॉर्ड भी अच्छा रहा है। ऐसे में उम्मीद जताई जा रही है कि इस बार वह काफी अच्छा प्रदर्शन करेंगे।

शुभमन गिल (KKR)


केकेआर के युवा ओपनर शुभमन गिल 2018 सो टीम का हिस्सा हैं। 22 वर्षीय गुल ने अबतक आईपीएल में 48 मैच खेलें हैं। जिसमें उन्होंने कुल 1,071 रन बनाए हैं, इसमें सात अर्धशतक भी शामिल हैं। वहीं आईपीएल के 14वें सीजन के पहले फेज में उनका प्रदर्शन खराब रहा था, उन्होंने सात मुकाबलों में सिर्फ 18,85 के औसत से महज 132 रन ही बनाए। चोट के कारण वह इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज से बाहर हो गए थे, लेकिन अब वह बिल्कुल ठीक हो चुके हैं। इसके साथ ही वह इस फेज के लिए बेहतरीन वापसी करना चाहेंगे। बता दें कि कोलकाता नाइटराइडर्स ने पहले हाफ में सात मुकाबलों में से महज दो में ही जीत दर्ज की है।

ईशान किश्न (MI)


आईपीएल के 13वें सीजन में मुंबई इंडियंस के विकेटकीपर बल्लेबाज ईशान किशन ने सबसे ज्यादा रन बनाए थे। जिसके बाद वह उस सीजन के सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी बन गए थे। पांच बार की विजेता टीम की तरफ से उन्होंने 14वें सीजन के पहले फेज में सिर्फ 73 ही रन बनाए थे। साथ ही मुंबई इंडियंस को भी पहले चरण में संघर्ष करते हुए देखा गया क्योंकि टीम को मध्यक्रम ने पूरा सहयोग नहीं किया। वहीं ईशान किशन मैदान पर काफी प्रैक्टिस कर रहे हैं जिससे कि वह अपने पुराने फॉर्म में वापसी कर सकें।

हार्दिक पंड्या (MI)


मुंबई इंडियंस के ऑलराउंडर हार्दिक पंड्या आजकल आउट ऑफ फॉर्म चल रहे हैं। घरेलू क्रिकेट और आईपीएल में अपने खेल से सभी को प्रभावित करने वाले हार्दिक पंड्या कई समय से अपनी खराब फॉर्म से जूझ रहे हैं। उन्होंने अभी तक मुंबई इंडियंस के लिए 87 मुकाबले खेले हैं, जिसमें उन्होंने 1,401 रन बनाने के अलावा 42 विकेट भी अपने नाम किए हैं। कई ऐसे मौके भी रहे जब उन्होंने अपनी टीम को जीत दिलाई है। लेकिन टीम के पावर हिटर्स ने 14वें सीजन के पहले हाफ में सात मैचों में केवल 52 रन ही बनाए थे। इसलिए उम्मीद जताई जा रही है कि इस बार वह अपनी फॉर्म में वापस आएंगे।

शार्दुल ठाकुर (CSK)


2020-21 की बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारतीय टीम की जीत में अहम योगदान देने वाले शार्दुल ठाकुर निचले क्रम में बल्ले और गेंदबाजी दोनों के लिए जाने जाते हैं। उन्होंने अपनी काबिलयत के दम पर भारतीय टीम में अपनी एक अलग पहचान बनाई है। वहीं एमएस धोनी की कप्तानी में उनकी गेंदबाजी में काफी सुधार आया है। हालांकि, पहले चरण में वह काफी संघर्ष करते दिखाई दिए थे। उन्होंने सात मैचों में महज 5 ही विकेट अपने नाम किए थे।

Next Story