Web Analytics Made Easy - StatCounter
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Republic Day 2019 : गणतंत्र दिवस पर बच्चों के साथ मिलकर ऐसे सजाएं स्कूल, ये हैं 5 आसान तरीके

26 जनवरी 2019 को पूरा देश अपना 70वां Republic Day 2019 यानि गणतंत्र दिवस 2019 मनाने वाला है। 26 जनवरी 1950 को देश ने अपना पूर्ण स्वराज और संप्रभुता की ताकत देने वाला संविधान लागू किया था। हर साल की तरह इस साल 26 जनवरी को भी देश की राजधानी दिल्ली के राजपथ पर सरकार देश की संस्कृति और ताकत को दुनिया के सामने प्रदर्शित करती है। जिसे आमतौर पर 26 जनवरी की परेड कहा जाता है। 26 जनवरी यानि गणतंत्र दिवस को राष्ट्रीय पर्व और राष्ट्रीय त्यौहार भी कहा जाता है। इसलिए हर साल 26 जनवरी को स्कूलों में बच्चों के साथ बड़ी ही धूमधाम से मनाया जाता है। 26 जनवरी के त्यौहार को स्कूलों में मनाने के पीछे सबसे बड़ी वजह बच्चों में देश भक्ति की भावना उत्पन्न करना होता है। इस दिन को खास बनाने के लिए बच्चे भी बेहद उत्साहित रहते हैं और इससे जुड़े हर कार्य में बढ़-चढ़ कर हिस्सा लेते हैं।

Republic Day 2019 : गणतंत्र दिवस पर बच्चों के साथ मिलकर ऐसे सजाएं स्कूल, ये हैं 5 आसान तरीके

Republic Day 2019

26 जनवरी 2019 (26 January 2019) को देश अपना 70वां गणतंत्र दिवस 2019 (Republic Day 2019) मनाने वाला है। 26 जनवरी 1950 को देश ने अपना पूर्ण स्वराज और संप्रभुता की ताकत देने वाला संविधान लागू किया था। हर साल की तरह इस साल 26 जनवरी को भी देश की राजधानी दिल्ली के राजपथ पर सरकार देश की संस्कृति और ताकत को दुनिया के सामने प्रदर्शित करती है। जिसे आमतौर पर 26 जनवरी की परेड (26 January Parde) कहा जाता है। 26 जनवरी यानि गणतंत्र दिवस (Republic Day) को राष्ट्रीय पर्व और राष्ट्रीय त्यौहार (National Festival) भी कहा जाता है। इसलिए हर साल 26 जनवरी को स्कूलों में बच्चों के साथ बड़ी ही धूमधाम से मनाया जाता है।
26 जनवरी 1950 को लागू हुए संविधान (Constitution) में देश की शासन व्यवस्था के लिए जरूरी दिशा-निर्देश, कानून व्यवस्था और उसकी कार्यप्रणाली, आम नागरिकों के लिए जरूरी अधिकार और कर्तव्य, राज्य और संघीय सरकार (केन्द्र सरकार) की शक्तियों का विस्तार में उल्लेख किया गया है। 26 जनवरी (26 January) के त्यौहार यानि गणतंत्र पर स्कूलों में मनाने के पीछे सबसे बड़ी वजह बच्चों में देशभक्ति की भावना (Patrotisiom Feeling) उत्पन्न करना होता है। इस दिन को खास बनाने के लिए बच्चे भी बेहद उत्साहित रहते हैं और इससे जुड़े हर कार्य में बढ़-चढ़ कर हिस्सा लेते हैं।
आज हम भी आपको
26 जनवरी (26 January)
के खास दिन की डेकोरेशन (Decoration) के लिए कुछ खास टिप्स दे रहे हैं। आपको बच्चों के साथ मिलकर स्कूल को सजाने के तरीके (School Decoration Tips) और उन्हें बनाने का तरीका भी बता रहे हैं। जिनसे डेकोरेशन (Decoration) तो अच्छी होगी ही साथ आप 26 जनवरी (26 January) से जुड़ी बातों को खेल-खेल में बच्चों को सिखा सकते हैं।

26 जनवरी के लिए डेकोरेशन आइडिया :

1. इंडियन फ्लैग पेपर फैन

इंडियन फ्लैग पेपर फैन देखने और सजाने में बेहद ही खूबसूरत लगते हैं। इंडियन फ्लैग पेपर फैन आप बच्चों के साथ मिलकर बेहद आसानी से बना सकते हैं। इसके लिए आपको कुछ चीजों की जरूरत पड़ेगी ...
1. सफेद कागज
2. ऑरेंज, व्हाइट और ग्रीन कलर के पेपर
3. कुछ आइसस्क्रीम स्टिक
4. गोंद, पेसिंल और स्केल

इंडियन फ्लैग पेपर फैन बनाने का तरीका

1. सबसे पहले सफेद आयताकार शीट को पेसिंल और स्केल की मदद से तीन हिस्सों में बांटें, फिर हर एक हिस्से को एक-एक कर केसरिया (ऑरेंज), हरे और सफेद रंग से रंगे।
2. इसके बाद कागज के छोर से मोड़ते हुए उसे आखिरी छोर तक बार-बार मोड़े।
3. अब कागज के दोनों छोरों पर एक आईस्क्रीम स्टिक को गोंद की मदद से चिपका दें और कुछ देर सूखने दें।
4. इसके बाद कागज के दोनों छोरों को विपरीत दिशा में घुमाते हुए आईस्क्रीम स्टिक को मिला लें। लीजिए तैयार है इंडियन फ्लैग पेपर फैन। इससे आप स्कूल की दीवारों पर भी सजा सकते हैं।

2. रोलड पेपर फ्लैग

रोलड पेपर फ्लैग भी आप बच्चों के साथ मिलकर बड़ी ही आसानी से घर पर बना सकते हैं। इसके लिए आपको निम्न चीजों की जरूरत होगी...
1. सफेद पेपर
2. ऑरेंज, व्हाइट और ग्रीन वॉटर कलर
3. गोंद

रोलड पेपर फ्लैग बनाने का तरीका

1. सबसे पहले सफेद पेपर को आयताकार में काटें।
2. इसके बाद एक पेपर को एक छोर से गोलाई में फोल्ड करते हुए आखिर तक जाएं और गोंद की मदद से चिपका दें।
3. अब दूसरे आयताकार पेपर को तीन हिस्सों में बांटें और बच्चों से उसमें एक-एक कर केसरिया (ऑरेंज), हरे और सफेद रंग के अंगूठे निशान लगाने को कहें।
4. इसके बाद अंगूठों के निशान से बने इंडियन फ्लैग को पहले से रोल किए गए पेपर के साथ गोंद की मदद से जोड़ दें।
5. अब तैयार रोलड पेपर फ्लैग को 26 जनवरी पर बच्चों के बीच बांटें।
3.कलरफुल आइसक्रीम स्टिक फ्लैग
कलरफुल आइसक्रीम स्टिक फ्लैग भी खेल-खेल में बच्चों की मदद से बड़ी आसानी से बनाया जा सकता है। इसके लिए आपको चाहिए...
1. कुछ आइसक्रीम स्टिक्स
2. ऑरेंज, व्हाइट, ग्रीन और वॉटर कलर
3. एक पेंट ब्रश और फेविकोल

3.कलरफुल आइसक्रीम स्टिक फ्लैग बनाने का तरीका

1. इसके लिए सबसे पहले सभी आइसक्रीम स्टिक्स को पेंट ब्रश की मदद से ऑरेंज, व्हाइट, ग्रीन कलर कर लें और कुछ देर सूखनें दें।
2. इसके बाद इन सभी आइसक्रीम स्टिक्स को एक-एक कर आपस में एक-दूसरे के नीचे फेविकोल की मदद से जोड़ते जाएं।
3. अब एक नीले कलर से पतले ब्रश की मदद से फ्लैग के सफेद हिस्से पर एक चक्र बनाएं।
4. इसके बाद एक अन्य आइसक्रीम स्टिक को फ्लैग के किनारे पर सीधा करके फेविकोल से चिपकाएं और कुछ देर सूखने दें।
5. अब तैयार कलरफुल आइसक्रीम स्टिक फ्लैग को 26 जनवरी पर स्कूल की दीवारों को सजाने के साथ ही बच्चों में भी बांट सकते हैं।

. कलरफुल चावल और थर्माकॉल फ्लैग डेकोरेशन

किसी भी खास आयोजन पर खास सजावट के लिए थर्माकॉल का इस्तेमाल होते हुए जरूर देखा होगा। ऐसा ही आप भी 26 जनवरी की डेकोरेशन के लिए कर सकते हैं। इसके लिए निम्न चीजों की होगी जरूरत...
1. ऑरेंज, व्हाइट, ग्रीन और वॉटर कलर
2. चावल
3. थर्माकॉल
4. फेविकॉल

4.कलरफुल चावल और थर्माकॉल फ्लैग बनाने का तरीका

1. इसके लिए सबसे पहले ऑरेंज, व्हाइट, और ग्रीन वॉटर कलर को अलग-अलग छोटी कटोरियों में घोल लें।
2. अब ऑरेंज, व्हाइट, और ग्रीन वॉटर कलर की छोटी कटोरियों में थोड़े -थोड़े चावल डालकर रंग लें और कुछ देर सूखने दें।
3. इसके बाद थर्माकॉल को तीन बराबर हिस्सों में बांट लें।
4.जिसके बाद एक-एक कर ऑरेंज, व्हाइट और ग्रीन रंग में रंगें चावलों को फेविकॉल की मदद से थर्माकॉल की मदद से चिपका दें और सूखने के लिए कुछ देर छोड़ दें।
5. अब एक नीले कलर से पतले ब्रश की मदद से फ्लैग के सफेद हिस्से पर एक चक्र बनाएं।
6. अब तैयार कलरफुल चावल और थर्माकॉल फ्लैग को दीवारों कील की मदद से सजाएं।

5. कलरफुल दुपट्टों या पर्दों से सजाएं

अक्सर लोग घर सजाने के लिए कलरफुल पर्दों और दुपट्टों का इस्तेमाल करते हैं। जिसमें वो कई तरह के कलर्स को मिक्स और मैच करके यूज़ करते हैं। ऐसा ही आप भी कर सकते हैं। इसके लिए आप ऑरेंज, व्हाइट और ग्रीन कलर के अलग अलग पर्दों या दुपट्टों को आपस में गूथ के सजा सकते हैं या इन तीनों रंगों के पर्दों या दुपट्टों को मिलाकर झालर के रूप में सजा सकते हैं। ये देखने में बेहद ही आकर्षक लगते हैं।
Next Story
Share it
Top