Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सावधान: अच्छी लाइफ जीने के लिए भूलकर भी ना करें ये गलती

क्या आपके बॉस से आपको ईमेल पर हमेशा जुड़े रहने और सीमाओं के बिना काम करने की उम्मीद है तो आपके स्वास्थ्य और कल्याण को नुकसान पहुंचाने के अलावा, यह पारिवारिक रिश्तों में भी परेशानीयां हो सकती है।

सावधान: अच्छी लाइफ जीने के लिए भूलकर भी ना करें ये गलती
X

ऑफिशियल वर्कर्स अगर गैर कामकाजी समय में भी अपने बॉस से किसी तरह के सोशल प्लेटफार्म पर हर समय कनेक्ट रहते हैं तो आपके परिवारिक रिश्तें खराब होना लाजमी सी बात है। गैर-कामकाजी समय के दौरान कर्मचारी के काम की अपेक्षाओं के कारण तनाव बढ़ जाता है, जो उनके परिवार के संबंधों में तनाव पैदा करता है। क्योंकि कर्मचारी घर पर गैर-कार्य भूमिकाओं को पूरा करने में असमर्थ रहतें हैं।

अमेरिका की पेंसिल्वेनिया यूनिवर्सिटी की एक रिसर्च के मुताबिक- क्या आपके बॉस से आपको ईमेल पर हमेशा जुड़े रहने और सीमाओं के बिना काम करने की उम्मीद है, तो आपके स्वास्थ्य और कल्याण को नुकसान पहुंचाने के अलावा, यह पारिवारिक रिश्तों में भी परेशानीयां हो सकती है।

इसे भी पढ़ें: ऐसे मनाए नाराज पति को हमेशा, ये है कुछ खास उपाय

रिसर्च में कहा गया है कि कर्मचारियों में इस तरह से काम के करने कारण संतुष्टि में कमी आती है और कर्मचारियों के स्वास्थ्य पर हानिकारक प्रभाव पड़ता है, बल्कि यह नकारात्मक रूप से उनके जीवन साथी के स्वास्थ्य और वैवाहिक संतुष्टि धारणाओं को भी प्रभावित करता है।

यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिक बेकर के अनुसार- अगर नौकरी की प्रकृति के लिए ईमेल उपलब्धता की आवश्यकता होती है, तो ऐसी उम्मीदों को औपचारिक रूप से नौकरी की ज़िम्मेदारियों के एक हिस्से के रूप में बताया जाना चाहिए।

इसे भी पढ़ें: Friendship Day 2018: अनमोल है सखी-सहेलियों का संग

बेकर के अनुसार, नीतियां जो काम के बाद इलेक्ट्रॉनिक संचार की निगरानी करने की अपेक्षाओं को कम करती हैं, नकारात्मक स्वास्थ्य परिणामों के प्रतिकूल प्रभाव को कम करने के लिए आदर्श होनी चाहिए।

इसका समाधान तब हो सकता है जब ऑफ-घंटे ईमेल विंडो या शेड्यूल सेट करके ऑफ-घंटे के दौरान इलेक्ट्रॉनिक संचार स्वीकार्य हो, जब कर्मचारी जवाब देने के लिए उपलब्ध हों तभी इस तरह के संचार का सही प्रभाव रह सकता है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story