Hari Bhoomi Logo
गुरुवार, अगस्त 17, 2017  
Top

12वें खिलाड़ी के तौर पर ड्रिंक्स ले जाने से मेरा अहम को ठेस नहीं पहुंचतीः रहाणे

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Jul 15 2017 5:03PM IST
12वें खिलाड़ी के तौर पर ड्रिंक्स ले जाने से मेरा अहम को ठेस नहीं पहुंचतीः रहाणे

मार्च में भारत का टेस्ट कप्तान होना और जून में 12वें खिलाड़ी की भूमिका निभाना कभी आसान नहीं होता लेकिन अजिंक्य रहाणे टीम को समर्पित खिलाड़ी हैं जिनका मानना है कि जब कोई भारत की जर्सी पहनता है तो उसे अपनी असुरक्षा और अहं को दूर रखना पड़ता है।      

इसे भी पढ़ेंः बंगाली टाइगर गांगुली ने खुलासा किया है कि जहीर का अनुबंध साल में 150 दिनों के लिए हुआ है

धर्मशाला में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चौथे टेस्ट में रहाणे भारत के कप्तान थे और भारत ने यह टेस्ट जीतकर टेस्ट श्रृंखला अपने नाम की थी। चैंपियंस ट्रॉफी में हालांकि उन्हें एक भी मैच खेलने को नहीं मिला और उन्हें 12वें खिलाड़ी की भूमिका निभानी पड़ी।       

रहाणे ने एक साक्षात्कार में कहा, ‘‘अगर मैं टेस्ट टीम में उप-कप्तान हूं तो इसका मतलब यह नहीं कि मैं एकदिवसीय अंतर्राष्ट्रीय मैचों में 12वें खिलाड़ी की अपनी भूमिका नहीं निभाऊंगा। जब आप अपने देश का प्रतिनिधित्व कर रहे होते हैं तो आपको वही करना होता है जो काम आपको सौंपा जाता है। जब मैं चैंपियंस ट्रॉफी के दौरान ड्रिंक्स लेकर जा रहा था तो मुझे अहं से जुड़ी कोई समस्या नहीं थी। मैं ऐसा की व्यक्ति हूं।'       

दायें हाथ के इस बल्लेबाजी ने वेस्टइंडीज में भारत की एकदिवसीय अंतर्राष्ट्रीय टीम में सफल वापसी करते हुए पांच मैचों में एक शतक और तीन अर्धशतक की बदौलत 67.20 की औसत से 336 रन बनाए।

इसे भी पढ़ेंः गंभीर ने सोशल मीडिया पर शेयर किया अपनी दूसरी बेटी का नाम, फैंस ने किए ऐसे कमेंट्स     

उन्होंने कहा, ‘‘वेस्टइंडीज के खिलाफ श्रृंखला मेरे लिए विशेष थी, जो मैंने निरंतरता दिखाई उसके कारण। यह श्रृंखला मेरे एकदिवसीय अंतर्राष्ट्रीय कॅरियर के लिए महत्वपूर्ण थी और लगभग सभी मैचों में रन बनाना संतोषजनक अहसास है। मुझे अपनी बल्लेबाजी के विभिन्न पक्षों को दिखाने का मौका मिला।'       

रहाणे के अनुसार खेल के तकनीकी पहलुओं में बदलाव से अधिक जरूरी मानसिक तौर पर बदलाव करना है।

रहाणे के अनुसार वेस्टइंडीज में खेली गई पारियां विशेष थी क्योंकि वहां की पिच बल्लेबाजी के लिए पूरी तरह से अनुकूल नहीं थी और पोर्ट आफ स्पेन तथा एंटीगा की पिचों पर काफी परेशानी हो रही थी। 

 
(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
never ever felt insecure doing 12th mans duties says rahane

-Tags:#Sports News In Hindi#Ajinkya Rahane
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo