Logo
election banner
Delhi Assembly Budget Session: दिल्ली विधानसभा में आज वित्त मंत्री आतिशी ने आर्थिक सर्वेक्षण पेश किया। उन्होंने कहा कि आर्थिक सर्वे से साफ पता चल रहा है कि दिल्ली में पिछले एक साल में प्रति व्यक्ति आय बढ़ी है।

Delhi Assembly Economic Survey: दिल्ली सरकार की वित्त मंत्री आतिशी ने आज 1 मार्च को दिल्ली विधानसभा में आर्थिक सर्वेक्षण (2023-2024) प्रस्तुत किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि ये आर्थिक सर्वे दिखा रहा है कि पिछले एक साल में दिल्ली के लोगों की प्रति व्यक्ति आय बढ़ी है, दिल्ली सरकार का राजस्व बढ़ा है, लगातार हर साल की तरह दिल्ली सरकार का बजट मुनाफे में रहा है। आतिशी ने कहा मैं चाहती हूं कि केंद्र सरकार और उनके उपराज्यपाल ये जान लें कि वे चाहें कितनी भी कोशिश कर लें, लेकिन सीएम अरविंद केजरीवाल रुकेंगे नहीं। आतिशी ने जानकारी देते हुए बताया कि दिल्ली सरकार 4 मार्च यानी सोमवार को अपना बजट पेश करेगी।

दिल्ली की अर्थव्यवस्था बढ़ी

वित्त मंत्री आतिशी ने कहा कि कहा कि दिल्ली की अर्थव्यवस्था में रिकॉर्ड वृद्धि हुई है। आतिशी ने कहा कि मौजूदा कीमतों पर दिल्ली का सकल राज्य घरेलू उत्पाद वित्त वर्ष 2023-24 में सालाना आधार पर 9.17 प्रतिशत बढ़कर 11,07,746 करोड़ रुपये रहने का अनुमान है। उन्होंने कहा कि दिल्ली की प्रति व्यक्ति आय वित्त वर्ष 2023-24 में बढ़कर 4,61,910 रुपये हुई है। वित्त मंत्री ने कहा कि वर्ष 2021-22 के 3,76,217 रुपये की तुलना में 22 प्रतिशत बढ़ी। दिल्ली का राजस्व अधिशेष वित्त वर्ष 2022-23 में बढ़कर 14,457 करोड़ रुपये रहा, जबकि 2021-22 में यह 3,270 करोड़ रुपये था। आतिशी ने कहा कि अरविंद केजरीवाल सरकार देश में राजस्व अधिशेष वाली इकलौती सरकार है। 

आर्थिक सर्वेक्षण करने के बाद वित्त मंत्री आतिशी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि यह आर्थिक सर्वेक्षण महत्वपूर्ण है, क्योंकि यह दर्शाता है कि केंद्र द्वारा बनाई गई कई बाधाओं के बावजूद अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में दिल्ली की अर्थव्यवस्था, राजस्व और प्रति व्यक्ति आय लगातार बढ़ रही है। 

ये भी पढ़ें:- दिल्ली बजट में हो रही देरी को लेकर LG ने सीएम केजरीवाल से कही ये बात 

jindal steel Ad
5379487