Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

इस भारतीय गेंदबाज ने अचानक की संन्यास की घोषणा, पढ़िए क्या है वजह

भारतीय क्रिकेट टीम के इस गेंदबाज ने अचानक संन्यास की घोषणा कर दी है, पढ़िए किस वजह से लिया ये फैसला।

इस भारतीय गेंदबाज ने अचानक की संन्यास की घोषणा, पढ़िए क्या है वजह

कर्नाटक के बाएं हाथ के 34 वर्षीय तेज गेंदबाज श्रीनाथ अरविंद ने प्रथम श्रेणी क्रिकेट से संन्यास लेने का ऐलान किया है। मंगलवार को कर्नाटक को तीसरी बार विजय हजारे ट्रॉफी एकदिवसीय टूर्नामेंट का चैम्पियन बनने के बाद अरविंद ने संन्यास लेने की घोषणा की। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 2015 में अरविंद ने एकमात्र टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेला था। और इस मैच में उन्होंने 44 रन देकर एक विकेट लिया था।

श्रीनाथ अरविंद ने 56 प्रथम श्रेणी मैचों में 186 विकेट लिए जिसमें दो बार पारी में 5 विकेट भी शामिल हैं। उन्होंने 84 टी-20 मैचों में 103 विकेट झटके। अरविंद ने आईपीएल में कुछ सत्रों में रॉयल चैलेंजर बेंगलुरु की तरफ से भी खेला है।

इसे भी पढ़े: IND vs SA: विराट सेना की दरियादिली, अफ्रीका के लोगों का जीता दिल, किया ये बड़ा काम

कर्नाटक राज्य क्रिकेट संघ का शुक्रिया

अरविंद ने कर्नाटक राज्य क्रिकेट संघ (केएससीए) का शुक्रिया अदा करते हुए कहा- मैं किसी प्रतिभावान खिलाड़ी के रास्ते का रोड़ा नहीं बनना चाहता हूं। मुझे लगा कि यह संन्यास लेने का सही समय है। मैंने इस फैसले के बारे में टीम के खिलाड़ियों को कल रात ही बता दिया था। राज्य का प्रतिनिधित्व का मौका देने के लिए मैं केएससीए का शुक्रगुजार हूं। मैं अपने अभिभावकों और भगवान का भी आभारी हूं। अरविंद ने कहा कि टीम में प्रसिद्ध कृष्णा और टी प्रदीप जैसे काबिल तेज गेंदबाजों के आने के बाद उन्होंने करियर के शीर्ष पर संन्यास लेने का फैसला किया।

विजय हजारे ट्रॉफी फाइनल

बता दें कि बेहतरीन फॉर्म में चल रहे मयंक अग्रवाल की एक और शानदार पारी के आगे चेतेश्वर पुजारा का प्रयास नाकाफी साबित हुआ और कर्नाटक ने मंगलवार को फाइनल में सौराष्ट्र को 41 रन से हराकर तीसरी बार विजय हजारे ट्राफी राष्ट्रीय एकदिवसीय चैंपियनशिप जीती। कर्नाटक की टीम पहले बल्लेबाजी का न्योता मिलने पर 45.5 ओवर में 253 रन पर आउट हो गई। इसके जवाब में सौराष्ट्र की टीम 46.3 ओवर में 212 रन पर ढेर हो गई।

Share it
Top