Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

मुंबई में भारत ने लिया बदला, वेस्टइंडीज को 224 रनों से रौंदा, रोहित-रायुडू का शतक

सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा और अंबाती रायुडू के शतक के बाद खलील अहमद की तूफानी गेंदबाजी से भारत ने चौथे एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में सोमवार को वेस्टइंडीज को 224 रन से रौंदकर पांच मैचों की श्रृंखला में 2-1 की अजेय बढ़त बना ली।

मुंबई में भारत ने लिया बदला, वेस्टइंडीज को 224 रनों से रौंदा, रोहित-रायुडू का शतक

सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा और अंबाती रायुडू के शतक के बाद खलील अहमद की तूफानी गेंदबाजी से भारत ने चौथे एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में सोमवार को वेस्टइंडीज को 224 रन से रौंदकर पांच मैचों की श्रृंखला में 2-1 की अजेय बढ़त बना ली।

रनों के लिहाज से यह भारत की तीसरी सबसे बड़ी और टेस्ट खेलने वाले देश के खिलाफ सबसे बड़ी जीत है। इससे पहले मार्च 2007 में टीम इंडिया ने पोर्ट आफ स्पेन में बरमूडा को 257 रन जबकि जून 2008 में कराची में हांगकांग को 256 रन से हराया था।

रोहित ने 137 गेंद में 20 चौकों और चार छक्कों की मदद से 162 रन की पारी खेली। उन्होंने रायुडू (81 गेंद में 100 रन, आठ चौके और चार छक्के) के साथ तीसरे विकेट के लिए 211 रन जोड़े जिससे भारतीय टीम पांच विकेट पर 377 रन बनाने में सफल रही।

इसे भी पढ़ें: रोहित शर्मा भले ही चौथे दोहरे शतक से चूके लेकिन कई रिकॉर्ड कर गए अपने नाम, 'भगवान' को भी पीछे छोड़ा

वेस्टइंडीज के खिलाफ यह भारत का दूसरा सर्वोच्च स्कोर है। भारत ने एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पांच विकेट पर 418 रन का अपना सर्वश्रेष्ठ स्कोर भी वेस्टइंडीज के खिलाफ ही इंदौर में दिसंबर 2011 में बनाया था जिसमें वीरेंद्र सहवाग ने 219 रन की पारी खेली थी।

इसके जवाब में वेस्टइंडीज की टीम खलील (13 रन पर तीन विकेट) और कुलदीप यादव (42 रन पर तीन विकेट) की धारदार गेंदबाजी के सामने 36 .2 ओवर में 153 रन पर सिमट गई। उसकी तरफ से कप्तान जेसन होल्डर ने सर्वाधिक नाबाद 54 रन बनाए।

उनके अलावा वेस्टइंडीज का कोई बल्लेबाज 20 रन के आंकड़े को भी नहीं छू पाया। भारत ने गुवाहाटी में श्रृंखला का पहला मैच जीता था जबकि विशाखापत्तनम में दूसरा मैच टाई रहा। वेस्टइंडीज ने पुणे में तीसरा वनडे जीता था। पांचवां और अंतिम मैच एक नवंबर को तिरूवनंतपुरम में खेला जाएगा।

वेस्टइंडीज की शुरुआत बेहद खराब रही

लक्ष्य का पीछा करने उतरे वेस्टइंडीज की शुरुआत बेहद खराब रही और उसने 50 रन से पहले ही पांच विकेट गंवा दिए। सलामी बल्लेबाज चंद्रपाल हेमराज (14) ने भुवनेश्वर कुमार पर चौका और छक्का मारा लेकिन इस तेज गेंदबाज के पारी के पांचवें ओवर में कवर में रायुडू को कैच दे बैठे।

एक गेंद बाद शाई होप (00) भी तेज रन लेने की कोशिश में मिड आन पर खड़े कुलदीप के सटीक निशाने का शिकार बने जबकि अगले ओवर में कीरोन पावेल (04) गैरजरूरी रन लेने की कोशिश में गेंदबाजी छोर पर क्रीज से आगे निकल गए और कोहली ने उन्हें रन आउट कर दिया।

शिमरोन हेटमायेर (13) ने जसप्रीत बुमराह पर दो चौके जड़े लेकिन खलील ने उन्हें पगबाधा कर दिया। खलील ने रोवमैन पावेल (01) को बोल्ड करके वेस्टइंडीज का स्कोर पांच विकेट पर 47 रन किया और फिर मार्लन सैमुअल्स (18) को भी स्लिप में रोहित के हाथों कैच कराया।

फाबियान एलेन भी 17 गेंद में 10 रन बनाने के बाद कुलदीप यादव की गेंद पर स्लिप में रोहित को कैच दे बैठे जबकि एश्ले नर्स (08) ने भी कुलदीप की गेंद पर रोहित को कैच थमाया। होल्डर और कीमो पाल ने 28वें ओवर में जडेजा पर छक्के जड़े।

धोनी का वनडे में 424वां (309 कैच और 115 स्टंपिंग) शिकार

जडेजा ने हालांकि इसी ओवर में कीमो पाल (19) को धोनी के हाथों स्टंप करा दिया। धोनी का यह वनडे में 424वां (309 कैच और 115 स्टंपिंग) है और वह सर्वाधिक शिकार के मामले में दक्षिण अफ्रीका के मार्क बाउचर के साथ संयुक्त तीसरे स्थान पर पहुंच गए हैं। उनसे अधिक शिकार ऑस्ट्रेलिया के एडम गिलक्रिस्ट (472) और श्रीलंका के कुमार संगकारा (482) के नाम दर्ज हैं।

ऐसी रही भारतीय पारी

होल्डर ने कुलदीप की गेंद पर एक रन के साथ 61 गेंद में अर्धशतक पूरा किया। कुलदीप ने केमार रोच (06) को बोल्ड करके भारत की जीत सुनिश्चित की। वर्ष 2006 के बाद पहली बार एकदिवसीय मैच की मेजबानी कर रहे ब्रेबोर्न स्टेडियम पर भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया जिसके बाद रोहित और शिखर धवन (38) ने पहले विकेट के लिए 71 रन जोड़कर टीम को अच्छी शुरुआत दिलाई।

रोहित ने केमार रोच (74 रन पर दो विकेट) की मैच की पहली ही गेंद पर चौके से खाता खोला और फिर होल्डर की पहली गेंद को भी बाउंड्री के दर्शन कराए। धवन ने धीमी शुरुआत के बाद रोच पर चौके से खाता खोला।

रोहित ने रोच पर मैच का पहला छक्का जड़ा जबकि धवन ने भी होल्डर और रोच पर छक्के मारे। धवन ने एश्ले नर्स (57 रन पर एक विकेट) पर लगातार दो चौकों के साथ आठ ओवर में टीम का स्कोर 50 रन के पार पहुंचाया।

धवन हालांकि जब अच्छी लय में दिख रहे थे तब कीमो पाल (88 रन पर एक विकेट) की गेंद पर मिडविकेट पर कीरोन पावेल को कैच दे बैठे। उन्होंने 40 गेंद का सामना करते हुए चार चौके और दो छक्के मारे।

पिछले तीन मैचों में तीन शतक जड़ने वाले कप्तान विराट कोहली नाकाम रहे और 17 गेंद में 16 रन बनाने के बाद रोच की आफ साइड से बाहर की गेंद से छेड़छाड़ की कोशिश में विकेटकीपर शाई होप को कैच दे बैठे। वर्ष 2018 में एकदिवसीय मैचों में यह कोहली का न्यूनतम स्कोर है।

रोहित और रायुडू ने इसके बाद मोर्चा संभाला। रोहित ने कीमो पाल पर चौके के साथ 60 गेंद में अर्धशतक पूरा किया। उन्होंने रोवमैन पावेल पर तीन चौकों के साथ 27वें ओवर में टीम का स्कोर 150 रन के पार पहुंचाया। रोहित ने बायें हाथ के स्पिनर फाबियान एलेन पर चौके के साथ 98 गेंद में 21वां शतक पूरा किया।

रोहित ने कीमो पाल पर अपने दूसरे छक्के के साथ भारतीय बल्लेबाजों की ओर से सर्वाधिक छक्कों के मामले में सचिन तेंदुलकर (195) को पीछे छोड़ा। भारतीय बल्लेबाजों में उनसे अधिक छक्के सिर्फ महेंद्र सिंह धोनी (218) के नाम पर दर्ज हैं।

रोहित ने होल्डर पर चौके के साथ अपना स्कोर 150 रन के पार पहुंचाया। उन्होंने एश्ले नर्स पर पारी के चौथे छक्के के साथ अपने कुछ छक्कों की संख्या को 198 तक पहुंचाया लेकिन इस ओवर में शार्ट थर्डमैन पर चंद्रपाल हेमराज को कैच दे बैठे।

रायुडू ने कीमो पाल की गेंद पर एक रन के साथ 80 गेंद में अपने करियर का तीसरा शतक पूरा किया। रायुडू हालांकि एलेन के अगले ओवर में तेज रन लेने की कोशिश में रन आउट हो गए। धोनी 15 गेंद में 23 रन बनाने के बाद रोच का शिकार बने। केदार जाधव ने सात गेंद में नाबाद 16 रन की पारी खेली।

Share it
Top