Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कोच पर महिला टीम में दरार, रमेश पोवार के समर्थन में आईं हरमनप्रीत और स्मृति, BCCI से की ये मांग

भारतीय महिला क्रिकेट टीम के कोच रमेश पोवार और सीनियर क्रिकेटर मिताली राज के बीच चल रहा विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। अब इस मामले में भारतीय टीम की कप्तान हरमनप्रीत कौर और उप कप्तान स्मृति मंधाना भी कोच पोवार समर्थन में आ गई है।

कोच पर महिला टीम में दरार, रमेश पोवार के समर्थन में आईं हरमनप्रीत और स्मृति, BCCI से की ये मांग
X

भारतीय महिला क्रिकेट टीम के कोच रमेश पोवार और सीनियर क्रिकेटर मिताली राज के बीच चल रहा विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। अब इस मामले में भारतीय टीम की कप्तान हरमनप्रीत कौर और उप कप्तान स्मृति मंधाना भी कोच पोवार के समर्थन में आ गई है।

हरमनप्रीत और मंधाना ने प्रशासकों की समिति के चेयरमैन विनोद राय और बीसीसीआई के पदाधिकारियों को भेजे ईमेल में रमेश पोवार को टीम के कोच पद पर बनाए रखने की मांग की है।

इसे भी पढ़ें: बर्थडे स्पेशल: अजीत अगरकर की शादी के बीच जब आई धर्म की दीवार, तस्वीरों में जानें दिलचस्प लव स्टोरी

हरमनप्रीत और स्मृति उतरे कोच पोवार के समर्थन में

बीसीसीआई के पदाधिकारियों को भेजे गए इस पत्र में हरमनप्रीत और स्मृति ने कहा है कि अगस्त में पोवार की पूर्णकालिक कोच के रूप में नियुक्ति के बाद से टीम में काफी सुधार हुआ है।

हरमनप्रीत ने कहा कि सेमीफाइनल में हमारी हार दिल तोड़ने वाली थी और यह देखकर हमारी परेशानी और बढ़ गई कि आखिर कैसे हमारी छवि को नुकसान पहुंचाया गया। उन्होंने कहा कि रमेश पोवार सर ने ना सिर्फ खिलाड़ी के रूप में हमारे अंदर सुधार किया बल्कि हमें प्रेरित किया कि हम खुद को चुनौती देने के लिए लक्ष्य बनाएं।

हरमनप्रीत ने किया पोवार का समर्थन

हरमनप्रीत ने आगे कहा कि पोवार और मिताली को एक परिवार की तरह आपस में बैठकर अपने मतभेदों को सुलझाते हुए सुलह तक पहुंचना चाहिए। यही उन दोनों और टीम के हित में रहेगा।

हरमनप्रीत ने सभी अधिकारियों से अपील करते हुए कहा कि टी-20 टीम की कप्तान और वनडे टीम की उप कप्तान होने के नाते वह अपील करती हैं कि पोवार को टीम के कोच पद पर बरकरार रखा जाए। बता दें कि रमेश पोवार का कार्यकाल 30 नवंबर को खत्म हो चुका है और बीसीसीआई कोच पद के लिए नए आवेदन मांग चुका है।

क्या है पूरा मामला

बता दें कि इंग्लैंड के खिलाफ टी20 विश्व कप सेमीफाइनल से मिताली राज को बाहर करने पर काफी विवाद हुआ था। मिताली ने बीसीसीआई को लिखे ईमेल में कहा था कि अपने दो दशक से अधिक के करियर में उसने इतना अपमानित कभी महसूस नहीं किया और वह अपने आंसू नहीं रोक सकी।

इसके जवाब में रमेश पोवार ने बीसीसीआई के सीईओ राहुल जौहरी और जनरल मैनेजर सबा करीम को भेजी दस पेज की अपनी रिपोर्ट में मिताली राज पर टीम में फूट डालने के अलावा कोचों पर दबाव डालने और ब्लैकमेल करने का आरोप लगाया था।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story