Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

IPL में ये 2 बल्लेबाज रहे हैं फ्लॉप, एक ने क्रिकेट को कह दिया अलविदा

निया की सबसे महंगी और सबसे ज्यादा देखे जाने वाली लीग आईपीएल (IPL) ही है। क्रिकेट फैंस इसको बड़े दिलचस्प के साथ देखते हैं। अब आईपीएल 2022 (IPL 2022) की शुरुआत होने में कुछ ही दिन बाकी रह गए हैं।

IPL में ये 2 बल्लेबाज रहे हैं फ्लॉप, एक ने क्रिकेट को कह दिया अलविदा
X

खेल। दुनिया की सबसे महंगी और सबसे ज्यादा देखे जाने वाली लीग आईपीएल (IPL) ही है। क्रिकेट फैंस इसको बड़े दिलचस्प के साथ देखते हैं। अब आईपीएल 2022 (IPL 2022) की शुरुआत होने में कुछ ही दिन बाकी रह गए हैं। सभी फैंस को इसका इंतज़ार भी है। आईपीएल ने कई खिलाड़ियों का क्रिकेट करियर संवारा है। इस लीग में बल्ले और बॉल दोनों से ही खिलाड़ियों का जलवा सभी को देखने के लिए मिलता है। इस टूर्नामेंट की शुरुआत साल 2008 में हुई थी। ये आईपीएल का 15वां सीजन है जिसकी शुरुआत 26 मार्च से होने जा रही है। इस आईपीएल में सभी क्रिकेट फैंस की नजरें युवा खिलाड़ियों पर रहेगी। इस लीग के इतिहास में कुछ बल्लेबाज ऐसे भी रहे हैं जिनके बल्ले से ज्यादा रन नहीं निकले। आइए जाने कौन हैं वो बल्लेबाज जो बिलकुल फ्लॉप रहे हैं।

1. चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara)

इस लिस्ट में सबसे पहला नाम भारतीय टेस्ट टीम के बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा का है। पुजारा को टेस्ट मुकाबलों में बड़ी बड़ी पारी खेलने के लिए जाना जाता है। लेकिन पुजारा का बल्ला आईपीएल में कभी नहीं बोला। पुजारा को आईपीएल के मुकाबलों में खेलने का ज्यादा मौका भी नहीं दिया गया। पुजारा ने आईपीएल में कुल 30 मुकाबले खेले हैं। इन सभी मुकाबलों में पुजारा का बल्ला शांत रहा है। पुजारा ने आईपीएल में 20.52 की औसत के साथ सिर्फ 390 रन जड़े हैं। जबकि उनका स्ट्राइक रेट 99.74 का रहा है। आईपीएल साल 2021 के लिए उनको चेन्नई सुपर किंग्स ने अपनी टीम में जगह दी थी लेकिन इस सीजन उनको किसी भी टीम ने नहीं खरीदा।

2. सौरव गांगुली (Sourav Ganguly)

सौरव गांगुली का नाम भारत के सफल बल्लेबाजों में आता है। लेकिन सौरव गांगुली का बल्ला आईपीएल में हमेशा ही शांत रहा है। गांगुली अपने आईपीएल करियर में बतौर कप्तान और बतौर बल्लेबाज दोनों ही तरह से फ्लॉप साबित हुए थे। गांगुली ने आईपीएल में 59 मुकाबले खेले हैं, जिसमें उनके बल्ले से 25.45 की औसत के साथ सिर्फ 1349 रन निकले है। इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 106.81 का रहा है जिसमे 7 अर्धशतक भी शामिल हैं। बतौर कप्तान भी गांगुली ने 42 मुकाबलों में 17 मुकाबले ही जीते हैं जबकि 25 मुकाबलों में उनकी कप्तानी में टीम को हार का सामना करना पड़ा है।

और पढ़ें
Kuldeep Sharma

Kuldeep Sharma

Sub Editor


Next Story