Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

HUSBAND उम्र में क्यों होता है बड़ा, जानिए- ये संस्कार है या कोई धार्मिक विश्वास

लड़के और लड़की में परिपक्वता यानी कि मैच्योरिटी के स्तर में अंतर होता है।

HUSBAND उम्र में क्यों होता है बड़ा, जानिए- ये संस्कार है या कोई धार्मिक विश्वास
X
नई दिल्ली. क्या आपकी शादी हो गई? यदि हां तो आपके पति या पत्नी आपसे उम्र में बड़े हैं या छोटे? यदि बड़े हैं तो कितने बड़े हैं और अगर उम्र में छोटे हैं तो कितने? दरअसल यह मेरा पूरा सवाल नहीं है। सवाल तो यह है कि क्या एक वैवाहिक जीवन में पति-पत्नी का उम्र में बड़ा या छोटा होना मायने रखता है?
हम लोग बचपन से देखते आ रहे हैं, हमारे दादा-दादी, मम्मी-पापा, चाचा-चाची, मामा-मामी और अब तो हमारे भाई-भाभी के बीच भी उम्र का गैप जरूर है। लेकिन क्यों? क्या यह जरूरी है? क्या दोनों की उम्र एक जैसी नहीं हो सकती? अजी एक तो छोड़िए, भारतीय संस्कृति में तो पत्नी की पति से अधिक उम्र देख पाना भी काफी कम पाया जाता है।
लेकिन ऐसी अवधारणा क्यों है? क्या इसका कोई धार्मिक पहलू है? भारतीय संस्कारों में पति को हमेशा इज्जत देना सिखाया जाता है, क्या इसीलिए उसकी उम्र बड़ी होनी चाहिए?

कुछ लोग मानते हैं कि पति का उम्र में बड़ा होना इसलिए भी जरूरी है ताकि वह इतना लायक बन सके कि अपने घर-परिवार एवं पत्नी की खुशियों का ख्याल रखने के लिए अपेक्षित आमदनी ला सके। लेकिन इसी पर एक वैज्ञानिक पहलू भी मौजूद है।
एक्सपर्ट्स का मानना है कि एक लड़के और लड़की में परिपक्वता यानी कि मैच्योरिटी के स्तर में अंतर होता है। लड़कियां, लड़कों से जल्दी मैच्योर हो जाती हैं, जबकि लड़कों को भावनात्मक रूप से मैच्योर होने में अधिक समय लगता है। यह अंतर 3 से 4 साल का हो सकता है।
साभारः स्पीकिंग ट्री
नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, खबर से जुड़ी पूरी जानकारी -

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story