Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

स्वतंत्रता दिवस विशेष: पाकिस्तान ने 10 से भी ज्यादा इन भारतीय फिल्मों को किया था बैन

15 अगस्त 2018 को भारत अपना 71 वां स्वतंत्रता दिवस मनाएगा। करीब 200 साल की हुकूमत से भारत को आजादी मिली और नई किरण का उदय हुआ। अंग्रेजों ने 200 साल तक भारत पर राज किया लेकिन आखिरकार हिंदुस्तान आजाद हुआ।

स्वतंत्रता दिवस विशेष: पाकिस्तान ने 10 से भी ज्यादा इन भारतीय फिल्मों को किया था बैन

15 अगस्त 2018 को भारत अपना 71 वां स्वतंत्रता दिवस मनाएगा। करीब 200 साल की हुकूमत से भारत को आजादी मिली और नई किरण का उदय हुआ। अंग्रेजों ने 200 साल तक भारत पर राज किया लेकिन आखिरकार हिंदुस्तान आजाद हुआ।

भारत को आजाद कराने में कई स्वतंत्रता सेनानियों ने अपने प्राणों की आहूति दी। इन क्रांतिकारियों पर हिंदी सिनेमा ने कई फिल्में बनाई हैं। जिसने हमें उस हकीकत को करीब से जानने का एहसास कराया है। जिसके बलबूते भारत को आजादी मिली।

ऐसे ही कई फिल्में हिंदी सिनेमा ने बनाई हैं लेकिन इनमें से कई फिल्मों कों पाकिस्तान ने बैन किया है। पाकिस्तान ने किन्ही कारणों की वजह से भारत में बनी फिल्मों को बैन किया। जैसे दंगल, पैडमैन, जॉली एलएलबी 2, टाइगर जिंदा है आदि।

साल 2016 में आई फिल्म 'दंगल' जिसने बॉक्स ऑफिस पर आते ही धमाल मचा दिया। लेकिन फिल्म को पाकिस्तान में बैन कर दिया। दंगल में भारतीय तिंरगा और भारत का राष्ट्रीय गान फिल्माया गया था। जिस पर पाक को आपत्ति थी।

2017 में आई फिल्म 'जॉली एलएलबी-2' को भी पाक में बैन किया गया था। दरअसल, फिल्म में कुछ हिस्सा कस्मीर का भी दिखाया गया था। जिस पर पाक ने कड़ी आपत्ति जताई थी और पाक में फिल्म की रिलीज को रोका गया था।

बॉलीवुड में कई फिल्में जैसे तापसी पन्नू की फिल्म नाम शबाना, ट्यूबलाइट, रईस, उड़ता पंजाब, नीरजा, शिवाय, फैंटम, बेबी, हैदर, भाग मिल्खा बाग, रांझणा, एक था टाइगर, लाहौर, तेरे बिन लादेन इन फिल्मों को पाक सेंसर बोर्ड ने बैन किया था।

Next Story
Top