Logo
Pandit Pradeep Mishra : : मध्यप्रदेश के विख्यात कथावाचक पंडित प्रदीप मिश्रा और बरसाना के विश्वविख्यात प्रेमानंद महाराज के बीच राधा रानी के जन्म स्थली को लेकर मतभेद की खबरें सामने आई हैं। ईश्वर भक्ति के माध्यम से लोगों को राह दिखाने वाले दोनों ही विद्वानों के बीच अपनी बातों को पुख्ता तौर पर रखी जा रही हैं।

Pandit Pradeep Mishra : मध्यप्रदेश के विख्यात कथावाचक पंडित प्रदीप मिश्रा और बरसाना के विश्वविख्यात प्रेमानंद महाराज के बीच राधा रानी के जन्म स्थली को लेकर मतभेद की खबरें सामने आई हैं। ईश्वर भक्ति के माध्यम से लोगों को राह दिखाने वाले दोनों ही विद्वानों के बीच अपनी बातों को पुख्ता तौर पर रखी जा रही हैं। अब प्रदीप मिश्रा ने अपने कथन पर प्रमाण देने की बात भी कह दी है।

ब्रजवासियों और प्रेमानंद महाराज का बखान
राधा जी की जन्मस्थली को लेकर दिए जा रहे कथित तौर पर बयानों को लेकर सोशल मीडिया पर लोग भी अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं। प्रदेश के सीहोर वाले पंडित प्रदीप मिश्रा ने प्रदेश के खंडवा में ओंकारेश्वर में आयोजित शिव कथा के दौरान एक बार फिर अपनी बात को दोहराया। ब्रजवासियों और प्रेमानंद महाराज का बखान करते हुए पंडित मिश्रा ने अपने कथन के साक्ष्य देने की बात कही है।

जो भी कहा वो शास्त्रों के अनुसार ही कहा
पंडित प्रदीप मिश्रा ने कथा के दौरान यह कहते हुए एक वीडियो में देखे जा रहे हैं कि राधा रानी प्रसंग पर उन्होंने जो भी कहा वो शास्त्रों के अनुसार ही कहा। प्रेमानंद महाराज एक रसिक संत हैं। उन्होंने कहा कि अगर वह एक फोन कर देते उन्हें तो उनका यह दास उनके चरणों में पहुंच जाता। इस दौरान मिश्रा ने अपनी बात को रखते हुए कहा कि वह सत्य पर चलते हैं और उनके कथन का वह प्रमाण भी रखते हैं।

राधा रानी की आड़ में उन्हें बदनाम करने की कोशिश
कथा के बीच में प्रदीप मिश्रा ने कहा कि जिस-जिस महाराज को प्रमाण चाहिए वह कुबेरेश्वर धाम आ जाएं। उन्होंने कहा कि राधा रानी की आड़ में उन्हें बदनाम करने की कोशिश की जा रही है। बता दें कि पंडित प्रदीप मिश्रा के राधा रानी के जन्म स्थली पर दिए गए बयान पर मथुरा के लोगों ने भी उनके खिलाफ पुलिस में शिकायती आवेदन दिया है। यह घटना सामने आने के बाद अब प्रदीप मिश्रा ने अपने कथन के साक्ष्यों की बात को दोहराई है।

सोशल मीडिया पर यूजर्स भी राय दे रहे हैं
बता दें कि राधा जी के जन्म को लेकर प्रदीप मिश्रा का एक वीडियो सामने आया था। जिस पर प्रेमानंद महाराज का भी एक वीडियो सामने आया और वह इस कड़ी आपत्ति दर्ज कराते नजर आये। इन वीडियो को एक साथ चलाते हुए कथित तौर पर यह कहा जा रहा है कि राधा जी के जन्म को लेकर दोनों के बीच मतभेद पैदा हुए हैं। सोशल मीडिया पर यूजर्स भी इस अपनी राय दे रहे हैं। 

jindal steel Haryana Ad hbm ad
5379487