Logo
मध्यप्रदेश के बैतूल में एक शख्स की दर्दनाक मौत हो गई। होटल में नाश्ता करते समय शख्स अचानक मुंह के बल गिरा और फिर उठ नहीं पाया। उसे अस्पताल लेकर गए जहां डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया। हार्ट अटैक से मौत होने की आशंका है।

भोपाल। मध्य प्रदेश में हार्ट अटैक से मौत के मामले लगातार सामने आ रहे हैं। चलते-फिरते लोगों की सांसें अचानक थम रही हैं। शनिवार को फिर एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। बैतूल के एक होटल में नाश्ता करते समय एक शख्स की मौत हो गई। वह समोसा खाते-खाते अचानक जमीन पर मुंह के बल गिरा। फिर उठ नहीं पाया। पुलिस उस शख्स को अस्पताल लेकर गई, जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। डॉक्टर ने हार्ट अटैक की आशंका जताई है। घटना बैतूल के चिचोली गांव की है। पुलिस का कहना है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही मौत का सही कारण पता चलेगा। 

शरीर में हलचल नहीं हुई तो लोगों ने पुलिस को दी सूचना 
जानकारी के मुताबिक, चिचोली में हाईवे का निर्माण कार्य कर रही कंपनी के कर्मचारी जसवंत बाबूलाल एक होटल में नाश्ता करने गए थे। बाबूलाल ने समोसा लिया और बैंच पर बैठकर खाने लगे। कुछ देर बाद अचानक जमीन पर मुंह के बल गिर पड़े। लोगों ने पास जाकर देखा तो बाबूलाल के शरीर में कोई हरकत नहीं थी। लोगों ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस मौके पर पहुंची। बाबूलाल को अस्पताल लेकर गई, जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। डॉक्टर का कहना है कि कार्डियक अरेस्ट के कारण मौत हो सकती है। ऐसे मामले लगातार सामने आ रहे हैं। 

लगातार हार्ट अटैक से मौत के मामले आ रहे सामने 

केस-1: स्कूल बस ड्राइवर की भी हुई थी हार्ट अटैक से मौत 
इंदौर में कुछ दिन पहले हार्ट अटैक से मौत के दो हैरान करने वाले मामले सामने आए थे। बच्चों को लेकर स्कूल जा रहे बस के ड्राइवर को अचानक सीने में दर्द उठा और कुछ देर बाद निधन हो गया था। सीने में दर्द उठने के बाद ड्राइवर ने बस रोकी और सीट पर टिक गया। बच्चे कुछ समझ पाते उससे पहले ही उसकी सांसें थम गईं थीं। 

केस-2: कोचिंग में पढ़ाई करते समय छात्र की मौत   
इंदौर में कोचिंग क्लास के दौरान 18 साल के छात्र को सीने में दर्द उठा और सिर के बल बेंच पर गिर गया था। दोस्त अस्पताल लेकर पहुंचे। डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया। छात्र PSC की तैयारी कर रहा था।

केस-3: भोपाल में स्कूल वैन के चालक की भी थम गई थीं सांसें भोपाल में एक सप्ताह पहले स्कूल वैन चालक का इसी तरह निधन हो गया था। वह स्कूल से बच्चों को घर पहुंचाने जा रहा था, तभी अचानक सिर में दर्द शुरू हो गया। दर्द के चलते वैन चालक ने बच्चों को दूसरे वाहन में शिफ्ट कराया और सड़क किनारे वाहन खड़ा कर आराम करने लगे, तभी सांसें थम गई थीं। 

केस-4: खरगोन और टीकमगढ़ में किक्रेट खेलते समय हुई थी मौत 
खरगोन में क्रिकेट के मैदान में चौके छक्के लगाते समय 22 साल के खिलाड़ी की मौत हो गई थी। खिलाड़ी इंदर सिंह जाधव (22) ने पहले जमकर बल्लेबाजी की। चौके-छक्के लगाकर सबसे ज्यादा रन बटोरे। गेंदबाजी में भी बेहतरीन प्रदर्शन कर ही रहे थे कि अचानक भगवान ने सांसें छीन लीं। हार्ट अटैक के बाद साथी खिलाड़ी उसे अस्पताल लेकर पहुंचे। डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया था। टीकमगढ़ में क्रिकेट मैच खेलते समय सेना के जवान की हार्ट अटैक से मौत हुई थी। 

CH Govt jindal steel Haryana Ad hbm ad
5379487