Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

पद्म पुरस्कार नहीं मिलने पर ज्वाला ने सोशल मीडिया पर निकाली भड़ास, उठाए कई सवाल

ज्वाला निराश होकर सोशल मीडिया पर जमकर अपनी भड़ास निकाली है।

पद्म पुरस्कार नहीं मिलने पर ज्वाला ने सोशल मीडिया पर निकाली भड़ास, उठाए कई सवाल
नई दिल्ली. देश के लिए बैडमिंटन में डबल्स के कई खिताब जीत चुकीं ज्वाला ने पद्म पुरस्कारों के लिए न चुने जाने को लेकर निराश होकर सोशल मीडिया पर जमकर अपनी भड़ास निकाली है।
ज्वाला ने न केवल सम्मान नहीं मिलने पर नाराजगी जताई है, बल्कि इसकी प्रक्रिया पर भी सवाल खड़े किए हैं। तभी तो उन्होंने यह भी पूछा है कि क्या उन्हें सम्मान नहीं दिए जाने का बड़ा कारण उनका ज्यादा बोलना है।
ज्वाला ने अपने फेसबुक पेज पर लिखा है- मुझे इस बात पर हमेशा से आश्चर्य होता रहा है कि देश के सबसे प्रतिष्ठित पद्म सम्मानों के लिए आवेदन करना होता है... लेकिन जब एक प्रक्रिया बना ही दी गई है, तो मैंने भी आवेदन कर दिया। मैंने आवेदन इसलिए किया, क्योंकि मुझे लगता है कि मैंने अपने प्रदर्शन से देश को गौरवान्वित किया है और इसलिए मैं इसकी हकदार हूं। मैं अपने देश के लिए 15 वर्षों से खेलती आ रही हूं और कई बड़े टूर्नामेंट जीते हैं।

ज्वाला ने उठाए यह सवाल
गुट्टा ने आगे लिखा, मुझे लगता है कि इसके लिए केवल आवेदन करना ही पर्याप्त नहीं होता. आपको सिफारिशों की जरूरत होती है. इसकी सिफारिश कि आप इस सम्मान के लिए योग्यता रखते हैं.... लंबी प्रक्रिया चलती है... लेकिन मेरा सवाल यह है कि इस सम्मान के लिए मुझे आवेदन करने और अनुसंशा के लिए अनुरोध करने की जरूरत क्यों है... क्या मेरी उपलब्धियां ही काफी नहीं हैं? मैं पूरे तंत्र के बारे में जानने के लिए उत्सुक हूं. दिल्ली और ग्लास्गो कॉमनवेल्थ गेम्स में लगातार दो पदक काफी नहीं हैं? वर्ल्ड चैंपियनशिप में मेरा मेडल इसके लिए पर्याप्त नहीं है? महिला डबल्स और मिश्रित डबल्स रैंकिंग में मैं शीर्ष-10 में रही, सुपरसीरीज और ग्रांप्री गोल्ड में मेरा प्रदर्शन क्या काफी नहीं है?

ज्वाला इससे पहले अपनी टिप्प्णियों को लेकर भी विवादों में आ चुकी हैं। वह अपनी बात खुलकर रखने के लिए जानी जाती हैं, फिर चाहे उससे कोई नाराज ही क्यों न हो जाए।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top