Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

World Challenge Cup: दीपा ने विश्व कप में स्वर्ण पदक जीतकर रचा इतिहास, PM मोदी और खेलमंत्री ने दी बधाई

चोट के कारण करीब दो साल के लंबे अंतराल के बाद वापसी करने वाली भारत की शीर्ष जिम्नास्ट दीपा करमाकर ने रविवार को तुर्की के मर्सिन में चल रहे एफआईजी कलात्मक जिम्नास्टिक्स वर्ल्ड चैलेंज कप की वाल्ट स्पर्धा में स्वर्ण पदक अपने नाम किया।

World Challenge Cup: दीपा ने विश्व कप में स्वर्ण पदक जीतकर रचा इतिहास, PM मोदी और खेलमंत्री ने दी बधाई
X

चोट के कारण करीब दो साल के लंबे अंतराल के बाद वापसी करने वाली भारत की शीर्ष जिम्नास्ट दीपा करमाकर ने रविवार को तुर्की के मर्सिन में चल रहे एफआईजी कलात्मक जिम्नास्टिक्स वर्ल्ड चैलेंज कप की वाल्ट स्पर्धा में स्वर्ण पदक अपने नाम किया।

त्रिपुरा की 24 वर्षीय जिम्नास्ट 2016 रियो ओलंपिक में वाल्ट स्पर्धा में चौथे स्थान पर रही थी। उन्होंने रविवार को 14.150 के स्कोर से स्वर्ण पदक हासिल किया। वह क्वालीफिकेशन में भी 13.400 के स्कोर से शीर्ष पर रही थीं। दीपा का यह वर्ल्ड चैलेंज कप में पहला पदक था।

इसे भी पढ़ें: #ENGvIND: एक ही मैच में धोनी ने बना डाले दो विश्व रिकॉर्ड, ऐसा करने वाले दुनिया के पहले खिलाड़ी बने

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और खेल मंत्री ने दी बधाई

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्टार जिम्नास्ट दीपा करमाकर को तुर्की में एफआईजी कलात्मक वर्ल्ड चैलेंज कप की वाल्ट स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीतने पर बधाई दी। प्रधानमंत्री मोदी ने अपने अधिकारिक ट्विटर हैंडल पर लिखा- भारत को दीपा करमाकर पर गर्व है।

तुर्की के मर्सिन में एफआईजी वर्ल्ड चैलेंज कप में वाल्ट स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीतने पर उन्हें बधाई। यह जीत उनकी हार नहीं मानने के रवैये और दृढ़ता का शानदार उदाहरण है। खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने भी दीपा की तारीफ करते हुए कहा कि उसने चोट के बाद वापसी करते हुए धमाकेदार वापसी की है।

उन्होंने ट्वीट किया- दीपा करमाकर एक दमदार चैम्पियन हैं। पिछले दो साल से चोट से जूझने के बाद उसने वापसी करते हुए तुकी में जिम्नास्टिक्स वर्ल्ड चैलेंज कप में अपना पहला पदक जीता। देश को गौरवान्वित करने के लिये उसे बधाई।

इसे भी पढ़ें: Birthday Special: सौरव गांगुली एक ऐसा कप्तान जिसकी 'दादागीरी' ने बदल दी टीम इंडिया की तस्वीर, एक क्लिक में जानें 'दादा' के बारे में सबकुछ

दीपा ने ऐसे जीता गोल्ड

पहले प्रयास में दीपा का स्कोर 5.400 रहा जबकि उन्होंने एक्सीक्यूशन में 8.700 अंक जुटाए जिससे उनका कुल स्कोर 14.100 रहा। उन्होंने अपने दूसरे प्रयास में 14.200 (5.600 और 8.600) स्कोर किया जिससे उनका औसत 14.150 रहा।

इंडोनेशिया की रिफदा इरफानालुतफी ने 13.400 अंक से रजत पदक जबकि स्थानीय महिला जिमनास्ट गोक्सु उक्टास सानिल ने 13.200 अंक से कांस्य पदक प्राप्त किया। अपने कोच बिश्वेश्वर नंदी के साथ यहां आयी दीपा ने क्वालीफिकेशन में 11.850 के स्कोर से तीसरे स्थान पर रहकर बैलेंस बीम फाइनल्स के लिएभी क्वालीफाई किया।

विश्व चैलेंज कप सीरीज अंतरराष्ट्रीय जिम्नास्टिक्स महासंघ के कैलेंडर में महत्वपूर्ण टूर्नामेंट है। इस साल विश्व चैलेंज सीरीज में छह स्पर्धायें हैं और यह सत्र का चौथा चरण है। दीपा और राकेश दोनों को आगामी एशियाई खेलों के लिये चुनी 10 सदस्यीय भारतीय जिम्नास्टिक्स टीम में शामिल किया गया है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story