Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

32 साल बाद: क्रिकेट-हॉकी के मैदान पर भारत-पाक के बीच होगी जंग

2017 में भी भारत ने पाकिस्तान को 124 रनों से करारी शिकस्त देकर शानदार शुरुआत की।

32 साल बाद: क्रिकेट-हॉकी के मैदान पर भारत-पाक के बीच होगी जंग
X

विराट कोहली के बेहतरीन ड्राइव और हरमनप्रीत सिंह की ताकतवर ड्रैगफ्लिक का नजारा रविवार को यहां एक साथ देखने को मिलेगा जब भारत और पाकिस्तान की राष्ट्रीय टीमें क्रिकेट और हाॅकी के मैदान पर किसी तीसरे देश में आमने सामने होंगी।

भारतीय क्रिकेट टीम लंदन के ओवल में चैंपियंस ट्राफी के फाइनल पाकिस्तान से भिड़ेगी जबकि राष्ट्रीय पुरुष हाॅकी टीम को मिल्टन केन्स में पाकिस्तान की ही हाॅकी टीम के खिलाफ उतरना है।

ऐसा बेहद कम होता है जब राष्ट्रीय जज्बे का प्रतीक क्रिकेट और राष्ट्रीय खेल हाॅकी के बीच एक साथ दर्शकों को खींचने की जोर आजमाइश होती है। 'देसी' का संदर्भ पाने वाले ब्रिटिश भारतीय अपने पाकिस्तानी समकक्षों के साथ सुपर संडे के दिन खेल के जश्न का हिस्सा बनने के लिए मौजूद रहेंगे।

बालीवुड ब्रिगेड, राजनीतिक हस्तियों और जाने माने लोगों के ग्लैमर से भरपूर क्रिकेट मुकाबले में लिए पहुंचने की उम्मीद है जबकि हाॅकी विश्व लीग सेमीफाइनल मुकाबला भी आकर्षण का केंद्र रहेगा।

जो खेल प्रेमी क्रिकेट मैच का टिकट नहीं खरीद पाये वे उत्तर में लगभग एक घंटे की दूरी पर मिल्टन केन्स जाकर मनप्रीत सिंह और एसवी सुनील जैसे खिलाड़ियों के कौशल का गवाह बन सकते हैं।

इसे पाकिस्तान के खेल ढांचे में आई गिरावट कहें या भारतीय के तेजी से आगे बढते कदम, खेल के क्षेत्र में दोनों पडोसी देशों के बीच का अंतर बढता जा रहा है। पाकिस्तान के खिलाफ खेल प्रतिद्वंद्विता के नाम से ही भारतीय जनता में जज्बा और राष्ट्रवाद हावी होने लगता है।

वह दिन लद गए जब इमरान खान, जावेद मियांदाद, वसीम अकरम और सलीम मलिक जैसे स्टार खिलाडयिों की मौजूदगी वाली पाकिस्तानी टीम के खिलाफ जीत बेहद संतोष देती थी।

इस तरह शाहबाज अहमद, ताहिर जमां या बाद में सोहेल अब्बास और रेहान बट की मौजूदगी वाली पाकिस्तान टीम के खिलाफ जीत विशेष होती थी। एक औसत भारतीय प्रशंसक पाकिस्तान के इन दिग्गज क्रिकेट और हाकी खिलाडयिों के नाम से वाकिफ होता था,

लेकिन आज अगर अजहर अली या हसन अली रास्ते पर चल रहे हैं तो शर्त लगाई जा सकती है कि 10 में से सात भारतीय प्रशंसक उन्हें एक नजर में नहीं पहचान पाएंगे।

पाकिस्तानी खिलाड़ी अब भारतीय टीमों या प्रशंसकों के मन में उस तरह का डर पैदा नहीं करते जैसा पहले किया करते थे। कभी कभार वे भारतीय टीमों के लिए मुश्किल पैदा करते हैं और कल ऐसा हो सकता है। लेकिन यह ऐसा मुकाबला होगा जिसे दोनों ही टीमें गंवाना नहीं चाहेंगी।

2000 करोड़ का सट्टा

सट्टेबाजों को भी इस मुकाबले का बेसब्री से इंतजार है। भारत में तो सट्टेबाजी के गैरकानूनी होने के चलते इसकी असली रकम का अनुमान लगाने मुश्किल होता है। इंग्लैंड में ऑन लाइन सट्टेबाजी को कानून की हरी झंडी हासिल है।

इस मुकाबले पर करीब 2000 करोड़ की रकम का दांव लगने वाला है। रिटेन के ऑनलाइन सट्टेबाजी की साइट बेटफेयर के मुताबिक भारत को 1.44 का भाव मिला है, जबकि पाकिस्तान को 2.87 का यानी अगर टीम इंडिया की जीत पर कोई 100 रुपए लगाता है तो उसे 144 रुपए मिलेंगे।

जबकि पाकिस्तान की जीत पर 100 रुपए लगाने पर 287 रूपए हासिल होंगे. जाहिर है सट्टेबाजी के मार्केट में भी भारत का ही भाव ऊपर है। यही नहीं फाइनल में मैन ऑफ द मैच के अवार्ड के लिए विराट कोहली सट्टेबाजों की पहली पसंद बने हुए हैं।

अगर विराट मैन ऑफ द मैच बनते हैं तो उन पर 100 रुपए लगाने वाले को 850 रुपए मिलेंगे और रोहित या शिखर के मैन ऑफ द मैच बनने पर 100 रुपए लगाने वाले को 900 रुपए मिलेंगे।

32 साल बाद महामुकाबला

यह मुकाबला इसलिए भी खास है क्योंकि 32 साल बाद ऐसा पहली बार होगा, जब टूर्नामेंट में अपने शुरुआती मुकाबले के बाद दोनों टीमें एक बार फिर फाइनल में आमने-सामने होंगी।

दोनों ही बार यह संयोग 'मिनी वर्ल्ड कप' के दौरान देखने को मिला। 1985 में ऑस्ट्रेलिया में खेले गए बेंसन एंड हेजेज वर्ल्ड चैंपियनशिप में ऐसा पहली बार हुआ।

वनडे रैंकिंग में सुधार

चैंपियंस ट्रॉफी 2017 के फाइनल में पहुंचने के साथ ही टीम इंडिया के लिए एक और बड़ी खुशखबरी है। आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी में अच्छा प्रदर्शन कर रही टीम इंडिया की वनडे रैंकिंग में सुधार हुआ है।

जारी की गई ताजा आईसीसी वनडे रैंकिंग के अनुसार भारतीय टीम को एक स्थान का फायदा हुआ है और अब वो रैंकिंग में दूसरे स्थान पर काबिज है।

फिलहाल भारत 118 पॉइंट्स के साथ दूसरे पायदान पर है और सिर्फ एक ही प्वांइट से दक्षिण अफ्रीका से पीछे है। अफ्रीकी टीम का हालिया प्रदर्शन कुछ अच्छा नहीं रहा है। चैम्पियंस ट्रॉफी शुरू होने से पहले इंग्लैंड ने उन्हें वनडे सीरीज में 2-1 से मात दी थी।

फैक्ट फाइल

-1985 के बेंसन हेजेज कप की चैंपियन रही टीम इंडिया ने पाक को 6 विकेट से हराया था।

- 2017 में भी भारत ने पाकिस्तान को 124 रनों से करारी शिकस्त देकर शानदार शुरुआत की।

-1985 में सुनील गावस्कर की कप्तानी में भारत ने पाकिस्तानी टीम को हराकर बेंसन एंड हेजेज ट्रॉफी पर कब्जा किया था।

- 30 सेकंड के विज्ञापन के लिए एक करोड़ रुपए

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story