Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

On This Day: आज ही के दिन अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में धोनी ने किया था डेब्यू, बनाए थे कई बड़े रिकॉर्ड

पूर्व भारतीय कप्तान एमएस धोनी अपने डेब्यू मुकाबले में चाहे एक भी रन ना बना पाए हों, लेकिन उनको आज भी बेस्ट फिनिशर माना जाता है। धोनी ने भारतीय टीम को कई मुश्किल भरे मुकाबलों में शानदार बल्लेबाजी करते हुए जीत दिलवाई है।

On This Day: आज ही के दिन अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में धोनी ने किया था डेब्यू, बनाए थे कई बड़े रिकॉर्ड
X

खेल। आज से 17 साल पहले आज ही के दिन दुनिया के शानदार फिनिशर कहे जाने वाले महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट डेब्यू (International Cricket Debut) किया था। धोनी ने अपना पहला वनडे मुकाबला बांग्लादेश (Bangladesh) के खिलाफ चटगांव में खेला था और इस दौरान उनका प्रदर्शन बेहद खराब रहा और बिना कोई रन बनाए आउट हो गए।

वेस्ट फिनिशर हैं धोनी


धोनी डेब्यू मुकाबले में चाहे एक भी रन ना बनाए पाए हो लेकिन उनको आज भी बेस्ट फिनिशर माना जाता है। धोनी ने भारतीय टीम को कई मुश्किल भरे मुकाबलों में शानदार बल्लेबाजी करते हुए जीत दिलवाई है। माही को दुनिया के शानदार विकेटकीपर बल्लेबाजों में गिना जाता है। साल 2014 में टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद धोनी ने क्रिकेट के सभी प्रारूपों से साल 2020 में संयास की घोषणा कर दी थी।

सबसे सफल कप्तान


धोनी को दुनिया के सबसे सफल कप्तानो में शुमार किया जाता है। धोनी वर्ल्ड के आईसीसी के तीनों खिताब जीतने वाले पहले खिलाड़ी भी हैं। भारत ने साल 2007 में धोनी की शानदार कप्तानी के चलते ही टी 20 विश्व कप के खिताब पर भी अपना कब्जा जमाया था। साल 2011 में भी वनडे क्रिकेट के विश्व कप में भारत ने धोनी कप्तानी में खिताबी मुकाबला जीता था। इसके अलावा साल 2013 में माही की कप्तानी में भारत ने आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी पर भी अपना कब्जा जमाया था।

2009 में भी भारत बना था टेस्ट नंबर वन


धोनी को ज्यादातर वनडे और टी 20 में शानदार कप्तानी करने के लिए जाना जाता है लेकिन ऐसा नहीं है धोनी की कप्तानी में भारत ने साल 2009 में टेस्ट में नंबर वन टीम बनी थी। इस मुकाम को पाने के बाद भारतीय टीम लगभग 2 साल तक पहले ही नंबर पर मौजूद रही। आपको बता दें कि, धोनी एकमात्र ऐसे कप्तान हैं जिन्होंने अपनी सरजमीं पर सबसे ज्यादा टेस्ट मुकाबले जीते हैं। उन्हें साल 2008 और 2009 में आईसीसी की और से उनके वनडे में शानदार प्रदर्शन के लिए अवॉर्ड भी दिया गया।

और पढ़ें
Next Story