Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Ranji Trophy: रन मशीन चेतेश्वर पुजारा ने शतक जड़कर सौराष्ट्र को रणजी ट्रॉफी के फाइनल में पहुंचाया

‘रन मशीन'' चेतेश्वर पुजारा के नाबाद 131 रन की मदद से सौराष्ट्र ने सोमवार को कर्नाटक को पांच विकेट से हराकर रणजी ट्रॉफी फाइनल में प्रवेश कर लिया।

Ranji Trophy: रन मशीन चेतेश्वर पुजारा ने शतक जड़कर सौराष्ट्र को रणजी ट्रॉफी के फाइनल में पहुंचाया

Ranji Trophy Final Cheteshwar Pujara Century

‘रन मशीन' चेतेश्वर पुजारा के नाबाद 131 रन की मदद से सौराष्ट्र ने सोमवार को कर्नाटक को पांच विकेट से हराकर रणजी ट्रॉफी फाइनल में प्रवेश कर लिया। सौराष्ट्र का सामना अब तीन से सात फरवरी तक जयपुर में होने वाले फाइनल में पिछले चैम्पियन विदर्भ से होगा। सौराष्ट्र तीसरी बार फाइनल में पहुंचा है।

पुजारा 266 गेंद में 131 रन बनाकर नाबाद रहे। उन्होंने शेल्डन जैकसन (100) के साथ 214 रन की साझेदारी भी की। आखिरी दिन सौराष्ट्र को 55 रन की जरूरत थी जो औपचारिकता मात्र थी। जैकसन ने अपना 16वां प्रथम श्रेणी शतक पूरा करके टीम को जीत तक पहुंचाया।

सौराष्ट्र के पास सात विकेट थे लेकिन पुजारा ने बेवजह जोखिम नहीं लिया। सौराष्ट्र ने 55 रन 17.4 ओवर में पूरे किये। विनय कुमार ने 75 रन देकर तीन विकेट लिए। वह बदकिस्मत रहे कि मैदानी अंपायर ने कल पुजारा को नॉट आउट करार दिया जबकि गेंद उनके बल्ले को छूकर गई थी। उस समय वह 32 रन पर थे।

पुजारा ने अपनी पारी में 17 और जैकसन ने 15 चौके लगाये। पुजारा को इस मैच में दो जीवनदान मिले जिसके लिए खराब अंपायरिंग जिम्मेदार रही। पूरे सत्र में अंपायरिंग का स्तर औसत ही रहा है। बीसीसीआई के सूत्रों के अनुसार अंपायर सैयद खालिद को नकारात्मक अंक मिलना तय है और उन्हें अगले सत्र में निचले ग्रेड में भेजा जा सकता है।

Share it
Top